9+ Best Amish Tripathi Books in Hindi With Quotes

अगर आप रोचक ढंग से पौराणिक कथाओं को पढ़ना चाहते हैं, समझना चाहते हैं और अपने जीवन में उतारना चाहते हैं तो आपको Amish Tripathi Books in Hindi को जरूर पढ़नी चाहिए । पौराणिक कथाओं के सर्वश्रेष्ठ लेखकों में अमीश त्रिपाठी का नाम सबसे ऊपर आता है । अगर मैं कहूं कि हमारे महाभारत, रामायण जैसे अन्य पवित्र महाग्रंथों में युवाओं की रुचि को फिर से किसी न जागृत किया है, तो वो अमीश जी हैं ।

इस आर्टिकल में मैं Amish Tripathi books in Hindi की बात करूंगा यानि वे किताबें जिन्हें हिंदी में भी अनुवाद किया गया है ताकि आप हिंदी पाठक उन्हें पढ़ सकें । हिंदी में अनुवादित किताबों की सूची के बाद मैं उनकी अंग्रेजी भाषा की किताबों को भी सूची में शामिल करूंगा ।

आर्टिकल के अंत में मैं आपको बताऊंगा कि आप सभी किताबों को कहां से मुफ्त में डाउनलोड कर सकेंगे । इस आर्टिकल में मैंने Amish Tripathi books in order का पूरा ध्यान रखा है । आप भी इसी ऑर्डर में किताब को पढ़ सकते हैं ।

1. राम: इक्ष्वाकु के वंशज

Amish Tripathi Books in Hindi सूची की पहली किताब का नाम राम: इक्ष्वाकु के वंशज है । यह किताब भगवान राम के जीवन, उनके आदर्शों पर आधारित है । अगर आप आशा कर रहे हैं कि इसमें आपको महर्षि वाल्मिकी जी द्वारा रचित रामायण जैसी ही कथा मिलेगी तो आप गलत हैं । अमीश जी ने भगवान राम के पूरे चरित्र को एक अलग ही ढंग से, अलग अलग मापदंडों पर दर्शाया है । कई ऐसे हिंदी के पाठक हैं जिन्हें अमीश जी द्वारा भगवान राम की कहानी पसंद नहीं आई, हो सकता है आपको भी न पसंद आए ।

अगर आप भगवान राम को एक अलग दृष्टिकोण से देखना और समझना चाहते हैं, तो ही आपको यह किताब पसंद आएगी । ऐसा नहीं है कि इस किताब में आपको भगवान राम की कहानी को बदल कर पेश किया जाएगा । बल्कि, उनके जीवन और व्यक्तित्व को अमीश जी ने एक नये आधुनिक दृष्टिकोण से देखने और दिखाने की कोशिश की है । एक बात तो तय है कि आप यह किताब पढ़ते हुए बिल्कुल भी उबाऊ महसूस नहीं करेंगे ।

किताब आपको उचित दाम में फ्लिपकार्ट और अमेजन पर मिल जायेगी । अमीश जी ने किताब को अंग्रेजी भाषा में ही लिखा था लेकिन इसका हिंदी अनुवाद भी काफी अच्छा है । अगर आप नवयुवा हैं तो आपको किताब से काफी कुछ सीखने को मिलेगा । इसलिए एक बार किताब को जरूर पढ़े ।

2. सीता: मिथिला की योद्धा

Amish Tripathi Books in Hindi में मेरी सबसे प्रिय किताब सीता: मिथिला की योद्धा ही है । आपने रामायण में जिस तरह से माता सीता को देखा है, उससे काफी अलग ढंग से अमीश ने किताब में उन्हें चित्रित किया है । सीता सिर्फ और सिर्फ भगवान राम की पत्नी ही नहीं, बल्कि एक महान योद्धा भी थीं । उन्हें युद्ध कौशल के साथ साथ ही राज्य संचालन भी आता था इसलिए आपने रामायण भी देखा होगा कि वे भगवान राम को निर्णय लेने में मदद करती थी ।

किताब में एक जगह अमीश लिखते हैं कि राम एक ऐसी स्त्री से विवाह करना चाहते था जिसके सामने वह सर झुकाने को विवश हो जाएं । और ऐसी ही स्त्री थीं सीता । जिस प्रकार से इस किताब में अमीश ने माता सीता का जीवन वर्णन किया है, वह अद्भुत है । मैं फिर से आपसे वहीं बात दोहराना चाहूंगा कि अगर आप वाल्मिकी जी द्वारा लिखी रामायण के तथ्यों और बातों को हुबहू इसमें पढ़ना चाहते हैं तो कृपया किताब न पढ़ें ।

अगर आप माता सीता के व्यक्तित्व को एक नए दृष्टिकोण से देखना और समझना चाहते हैं, स्त्रीत्व और उसकी शक्ति को समझना चाहते हैं आधुनिक दृष्टिकोण से । तभींजकर इस किताब को पढ़ें । सीता: मिथिला की योद्धा पुस्तक में अमीश ने सीता के जन्म के समय से लेकर उनके मिथिला के योद्धा बनने तक की पूरी कहानी को बड़े ही रोचक ढंग से चित्रित किया है ।

3. रावण: आर्यावर्त का शत्रु

Amish Tripathi Books in Hindi की सूची में अगला नाम रावण: आर्यावर्त का शत्रु है जिसमें अमीश जी ने भगवान शिव के परमभक्त रावण की कहानी को चित्रित किया है । रामचंद्र सीरीज की यह तीसरी किताब है और इस पुस्तक को आपको सीता: मिथिला की योद्धा के बाद पढ़ना चाहिए जिससे कि आप सारे घटनाओं को सही ढंग से कनेक्ट कर पाएंगे । किताब में रावण की अच्छाई, बुराई, ताकत, कमजोरी सभी आयामों को अमीश जी ने बड़े ही बेहतरीन ढंग से लिखा है ।

इस किताब में आपको रावण के जन्म से लेकर माता सीता के अपहरण तक की पूरी कहानी मिलेगी । अमीश ने रावण के बचपन और पूरे जीवन को बड़े ही रोचक ढंग से लिखा है ताकि पाठक रुचि लेकर पढ़े और उबाऊ महसूस न करे । अमीश ने अपने बेहतरीन शब्द चयन और storytelling skills की मदद से रावण को काफी ताकतवर बताया है ताकि वह भगवान राम के सामने कमजोर न लगे जिसे आसानी से हराया जा सके ।

हालांकि, इस किताब में आपको सिर्फ माता सीता के अपहरण तक ही कहानी मिलेगी । अमीश जल्द ही लंका का युद्ध किताब को लेकर भी हमारे समक्ष प्रस्तुत होंगे । उम्मीद है कि इस वर्ष 2022 में लंका का युद्ध किताब पाठकों के लिए रिलीज कर दी जायेगी । तबतक के लिए आपको रावण:आर्यावर्त का शत्रु किताब पढ़ना चाहिए ।

4. मेलुहा के मृत्युंजय

मेलुहा के मृत्युंजय किताब शिवत्रयी ( Shiva Trilogy ) की पहली किताब है जिसे पढ़ने के बाद आप मानेंगे कि यह Best books of Amish Tripathi में से एक है । सीता: मिथिला की योद्धा किताब के बाद मुझे सबसे ज्यादा पसंद मेलुहा के मृत्युंजय आई जिसमें भगवान शिव को केंद्र में रखा गया है । इसमें अमीश ने शिव के बारे में लिखा है जिसे मेलुहा के लोग भगवान मानते हैं ।

अमीश जी ने जिस प्रकार से भगवान शिव के व्यक्तित्व, प्रचंड रूप का चित्रण किया है वह अद्भुत है । अगर आप Amish Tripathi Hindi books पढ़ते हैं तो आपको एक बात का एहसास होगा कि इन्होंने भगवान को मनुष्य की श्रेणी में लाकर खड़ा किया है । लेकिन, ऐसा मनुष्य जो सर्वश्रेष्ठ है, नरश्रेष्ठ है । उन्होंने इस बात पर खासा जोर दिया है कि मनुष्य की नैतिकता और उसके कर्म, मनुष्य को भगवान बनाते हैं न कि वह जन्म से ही भगवान होता है ।

यह काफी रोचक है । अमीश ने अपनी सभी किताबों में इस बात पर ज्यादा जोर दिया है कि मनुष्य भी भगवान हो सकता है अगर उसके कर्म वैसे हों । इनकी किताबों मनुष्य को बेहतर बनने के लिए प्रेरित करती हैं । अगर आप नवयुवक हैं और न सिर्फ भगवान शिव को पढ़ना समझना चाहते हैं बल्कि प्रेरित भी होना चाहते हैं तो इस किताब को खरीद कर एक बार अवश्य पढ़ें ।

5. नागाओं का रहस्य

Shiva Trilogy और Amish Tripathi books in Hindi सूची की अगली किताब का नाम नागाओं का रहस्य है । मेलुहा के मृत्युंजय कहानी को ही यह किताब आगे लेकर जाती है जिसमें अमीश ने लिखा है कि कैसे शिव ने मेलुहा राज्य और राज्यवासियों को बुरी शक्तियों से बचाया । इस पूरे किताब में आपको शिव के शौर्य और पराक्रम की गाथा मिलेगी । इसके अलावा, आपको काफी कुछ सीखने जानने को भी मिलेगा ।

अगर आप किताब को पढ़ते हैं तो सिर्फ यह न सोचकर पढ़ें कि कैसे शिव ने लोगों को बचाया बल्कि यह सिख लें कि कैसे आप नकारात्मक खयालों और बुरे कर्मों से खुद को बचा सकते हैं । इसी किताब में आपका परिचय सती से भी होगा । मेलुहावासियों को बचाने में न सिर्फ शिव बल्कि सती का भी योगदान है जिसे इस पुस्तक में आपको जानने को मिलेगा ।

किताब पढ़ते हुए आप जानेंगे कि कुछ समस्याओं का समाधान करना सबके लिए चुनौतीपूर्ण हो सकता है, चाहे वह मनुष्य हो या शिव । लेकिन, सही सूझ बूझ और बुद्धि से ही चुनौतियों से निपटा जा सकता है । किताब की कहानी बेहतरीन है जो आपको इसके तीसरे भाग को पढ़ने के लिए भी प्रेरित करती है । यह Amish Tripathi book आपको फ्लिपकार्ट, अमेजन पर मिल जायेगी और यह हिंदी में अनुवादित उपलब्ध है ।

6. वायुपुत्रों की शपथ

Amish Tripathi books in Hindi की लिस्ट में अगली किताब का नाम वायुपुत्रो की शपथ है । यह किताब Shiva Trilogy की तीसरी और आखिरी किताब भी है । तीसरी किताब में आपका परिचय बृहस्पति, सोमरस, वायुपुत्र होगा । इस किताब में शिव को पता चलता है कि सोमरास, जिसे पीकर अमरत्व प्राप्त किया जा सकता है, उसकी वजह से ढेर सारी समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं ।

इसके अलावा, शिव के सामने अन्य ढेरों अलग अलग समस्याएं आती हैं जैसे कि दो अलग अलग शक्तियां पाशुपतास्त्र और वायुपूत्र एक दूसरे के आमने सामने आते हैं । शिव अपनी प्रिय सती को भी खो देते हैं जिसका असह्य दर्द शिव को झेलते हुए भी ढेरों प्रश्नों का उत्तर खोजना और बुरी शक्तियों से लड़ना होता है । शिव पर लिखी यह तीसरी किताब हमें यह सिखाती है कि जैसे मनुष्य को विषय परिस्थितियों में भी हिम्मत न हारकर आगे बढ़ते रहना चाहिए ।

किताब में आपको दक्ष की कहानी का भी पता चलता है । आप इस किताब को अमेजन या फ्लिपकार्ट से खरीद कर पढ़ सकते हैं ।

7. Legend of Suheldev

Legend of Suheldev: The King Who Saved India इस सूची की अगली किताब है । हालांकि, यह किताब हिंदी में अनुवादित नहीं है लेकिन अगर आप अंग्रेजी भाषा का सामान्य ज्ञान रखते हैं तो आपको इसकी कहानी समझ में आ जाएगी । खबरें ऐसी हैं कि अमीश त्रिपाठी जल्द ही अपनी इस किताब पर आधारित एक फिल्म भी निकालने वाले हैं । हो सकता है कि आने वाले समय में इस किताब को हिंदी में भी अनुवाद किया जाए, तब तक आप चाहें तो इंतजार कर सकते हैं ।

इस किताब को भी Best books of Amish Tripathi की लिस्ट में जगह दिया जाता है । यह किताब आपको महज 1000 वर्ष पुराने इतिहास में ले जाती हैं जिसमें आपका परिचय होता है सुहेलदेव से । सुहेलदेव जोकि श्रावस्ती के राजा थे । लेकिन, भारत में लगातार मंदिरों पर हो रहे हमले और विनाश की वजह से वे द्रवित हो उठते हैं और वे मंदिरों को बचाने का फैसला लेते हैं ।

उन्होंने कैसे तुर्की राजा महमूद गजनी से गोरिल्ला युद्ध किया और उनका वीरता से सामना किया, उसकी पूरी कहानी आपको इस किताब में पढ़ने को मिलेगी । हमारी सभ्यता और संस्कृति हमारे लिए क्यों आवश्यक है, क्यों हम अपनी सभ्यता और धर्म से दूर होकर नष्ट हो जायेंगे जैसे ढेरों प्रश्नों का उत्तर यह पुस्तक देती है । इस किताब को एक बार आपको जरूर पढ़ना चाहिए ।

8. Immortal India

Amish Tripathi books in Hindi की सूची में अगली किताब Immortal India है जिसे हिंदी में अनुवादित नहीं किया गया है लेकिन अगर आपको सामान्य अंग्रेजी का ज्ञान है तो किताब को जरूर पढ़े । इस किताब में अमीश त्रिपाठी ने प्राचीन भारतीय इतिहास को आधुनिक दृष्टिकोण से पाठकों के सामने पेश किया है । उन्होंने आजतक जितना कुछ भारत की संस्कृति, सभ्यता और धर्म के बारे में जाना, समझा और शोध किया है, उसका निचोड़ उन्होंने इस किताब में दिया है ।

किताब में कुल 4 sections हैं: Religion & Mythology, Social issues, History and Musings । इन सभी विषयों पर उन्होंने अपनी सारी जानकारी और अद्भुत तथ्यों को पाठकों से सांझा किया है । इस किताब में अमीश द्वारा लिखे गए articles, speeches और debates को बड़े ही रोचक ढंग से लिखा गया है । अमीश ने बहुत बड़ी बड़ी बातें बड़े ही आसान तरीकों से समझाई है इसलिए इन्हें पढ़ना सुखदायक लगता है ।

9. Dharma

Dharma: Decoding the Epics for a Meaningful Life अमीश त्रिपाठी और भावना रॉय की वर्ष 2020 की किताब है । यह Amish Tripathi Books in Hindi की अबतक रिलीज हुई आखिरी किताब है जिसमें उन्होंने प्राचीन भारत, पौराणिक तथ्यों और कथाओं को बड़े ही आसान भांजा में समझाया है । भावना रॉय अमीश त्रिपाठी की ही बहन हैं और इन दोनों ने मिलकर पाठकों से प्राचीन भारत के अद्भुत तथ्यों को सांझा किया है ।

अमीश हमेशा से पौराणिक कथाओं पर लिखते रहे हैं और उन्हें आधुनिक दृष्टिकोण से चित्रित करने का श्रेय भी इन्हें ही जाता है । इस पुस्तक में भी इन्होने प्राचीन भारत की पौराणिक कथाओं को बड़े ही सरल और आसान तरीके से समझाया है जो आज के नवयुवकों को काफी प्रभावित भी करती है । इस किताब में धर्म और कर्म से जुड़ी बातें समझाने के लिए पूरे 8 भागों में बांटा गया है ।

आप इस किताब को अमेजन या फ्लिपकार्ट से खरीद कर पढ़ सकते हैं । इसका अगर अनुवाद होता है तो उसकी जानकारी भी आपको आर्टिकल में दे दी जायेगी ।

Amish Tripathi book quotes in Hindi

एक आदमी महान है या नहीं यह इतिहास द्वारा तय किया जाता है, न कि ज्योतिषियों द्वारा ।

अमीश त्रिपाठी

अच्छे समय में किसी व्यक्ति की नैतिकता और चरित्र की परीक्षा नहीं होती है । बुरे वक्त में ही इंसान दिखाता है कि वह अपने धर्म के प्रति कितना अडिग है ।

अमीश त्रिपाठी

मैं प्रतीकात्मक देवताओं में विश्वास नहीं करता । मुझे विश्वास है कि भगवान हमारे चारों ओर मौजूद हैं । नदी के प्रवाह में, पेड़ों की सरसराहट में, हवाओं की फुसफुसाहट में । वह हमसे हर समय बात करता है । हमें बस सुनने की जरूरत है ।

अमीश त्रिपाठी

जीवन से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ नहीं है । कुछ भी तो नहीं । इसका एहसास आप तभी करते हैं जब आप हर रोज मौत का सामना करते हैं ।

अमीश त्रिपाठी

कमजोर लोग कभी यह स्वीकार नहीं करते कि वे अपने स्तिथि के लिए स्वयं जिम्मेदार हैं । वे हमेशा परिस्थितियों या दूसरों को दोष देते हैं ।

अमीश त्रिपाठी

तो ये रहे कुछ Amish Tripathi quotes in Hindi जो हमें प्रेरित करते हैं कुछ बेहतर करने के लिए । ऐसे ही अन्य ढेरों अमीश त्रिपाठी के कोट्स हैं जिन्हें आप किताबों को पढ़कर जान सकते हैं ।

Download Amish Tripathi books in Hindi

अगर आप Amish Tripathi books in Hindi को मुफ्त में डाउनलोड करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए Telegram Book Channels को ज्वाइन जरूर करें । यहां आप ऊपर दिए गए किताबों को सर्च करके डाउनलोड कर सकते हैं ।

Best Telegram Book Channels in Hindi

आप अगर अमीश त्रिपाठी जी के बारे में और उनके अन्य पुस्तकों, latest announcements इत्यादि की जानकारी चाहते हैं तो उनसे सोशल मीडिया से जुड़े और साथ ही आप उनकी official website भी विजिट कर सकते हैं ।

Conclusion on Amish Tripathi Books

Amish Tripathi books in Hindi के इस आर्टिकल में मैंने अमीश त्रिपाठी की पुस्तकों का क्रमवार तरीके से जिक्र किया है । साथ ही मैंने आपको यह भी बताया कि आप कैसे इन सभी किताबों को बिल्कुल मुफ्त में डाउनलोड करके पढ़ भी सकते हैं । अगर आपके मन में इस विषय से जुड़े अन्य प्रश्न हैं या आपको अमीश की किताबें पढ़कर कैसा लगा, नीचे कमेंट करके जरूर बताएं ।

अगर आपको यह आर्टिकल हेल्पफुल लगा हो तो इसे अपने दोस्तों, रिश्तेदारों से जरूर शेयर करें । आप नीचे कमेंट में अपनी राय/सुझाव भी दे सकते हैं ।

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.