Application writing in Hindi – आवेदन पत्र लेखन पर संपूर्ण जानकारी उदाहरण सहित

रोजमर्रा के जीवन में हमें न जाने कितनी बार आवेदन यानि एप्लीकेशन लिखने की जरूरत पड़ती है । जीवन के हर क्षेत्र में इसकी जरूरत है और रहेगी भी । आप चाहे एक छात्र हों या नौकरी कर रहे हों , विभिन्न मौकों पर एप्लीकेशन लिखना ही होता है । इसलिए Application writing in Hindi का यह पोस्ट आज उनके लिए dedicated है जिन्हें कभी न कभी एप्लीकेशन लिखने की जरूरत पड़ती है या वे लिखना सीखना चाहते हैं ।

अगर मैं कहूं कि यह पोस्ट application writing for students है तो भी यह बिल्कुल सही होगा । ज्यादातर छात्रों को ही परीक्षाओं व दैनिक जीवन में आवेदन पत्र लिखने की जरूरत पड़ती है । इस पोस्ट में आपको आवेदन पत्र के format , examples , types , tips इत्यादि चीजें बताई जायेंगी ।

अगर आप ध्यान से आवेदन पत्र पर लिखी इस जानकारी को पढ़ें और जरूरी चीजों को नोट करते जाएं तो आप एप्लीकेशन लिखना अच्छे से समझ जायेंगे । तो चलिए विस्तार से इसके बारे में हम बात करते हैं ।

Application या आवेदन पत्र क्या होता है ?

आवेदन या एप्लीकेशन एक प्रकार का अनुरोध पत्र होता है जिसे विभिन्न मौकों पर लिखा जाता है । उदाहरण के तौर पर प्रधानाध्यापक से छुट्टी लेने के लिए अनुरोध पत्र लिखा जाता है तो वहीं किसी नौकरी के लिए जॉब एप्लीकेशन लिखा जाता है । इसे सरकारी या निजी कार्यालयों में अधिकतर प्रयोग में लाया जाता है ।

हम एक एप्लीकेशन विभिन्न मौकों पर विभिन्न कारणों से लिखते हैं । प्रधानाध्यापक को अवकाश प्रदान करने हेतु तो कभी सामाजिक जीवन में समस्या आने पर पुलिस या स्थान विशेष के पदाधिकारी को , हम जीवन में कई बार आवेदन पत्र लिखते हैं । ऐसा कहा जाता है कि जीवन में कुछ सीखो या नहीं , कम से कम application letter लिखना सीख जाओ क्योंकि इसकी जरूरत जीवन के हर मोड़ पर पड़ती है ।

अगर आपने Graduation / post graduation कर लिया है और आपको अपने गांव के प्रधान को सड़क निर्माण हेतु आवेदन लिखने नहीं आ रहा है तो यकीन मानिए सब व्यर्थ है । इसलिए जरूरी है कि आप सभी types of application को लिखना जानें ।

Importance of writing application

अब जबकि आपने आवेदन पत्र का overview पढ़ लिया है तो यह जरूरी है कि आप इसके महत्व को समझें । इसलिए मैंने नीचे आवेदन पत्र लिखने के महत्व को summarise किया है जिसे आप पढ़ सकते हैं :

  • यह आपकी समस्या को बेहतर ढंग से प्रदर्शित करता है
  • इसकी मदद से आप आसानी से अपने skills, abilities और achievements को प्रेजेंट कर पाते हैं
  • किसी समस्या के समाधान के लिए यह एक अच्छा माध्यम है
  • इसका format और writing style आसान है जिससे अपनी बात समझाने में आसानी रहती है
  • यह formal और informal communication को बेहतर बनाता है
  • आज के डिजिटल युग में application letters को एक जगह से दूसरे जगह भेजना सेकंडों का काम रह गया है

Types of application letter in Hindi

अगर बात करें Types of application letter in Hindi की तो इसके कुल 2 प्रकार हैं :

  • Formal
  • Informal

1. Formal letter

Formal letter या औपचारिक पत्र एक प्रकार का पत्र होता है जिसे आप मुख्य रूप से अधिकारियों, गणमान्य व्यक्तियों, सहकर्मियों, वरिष्ठों आदि के लिए लिखते हैं । इसे लिखते समय एक विशेष प्रारूप का ध्यान रखना होता है । इसे मित्रों , परिवारजनों इत्यादि के लिए नहीं लिखा जाता है ।

इसमें मुख्य रूप से निम्नलिखित प्रकार शामिल होते हैं :

  • Letter of inquiry ( पूछताछ पत्र )
  • Order letter ( आदेश पत्र )
  • Letter of Complaint ( शिकायत हेतु पत्र )
  • Reply to a Letter of Complaint ( शिकायत पत्र के उत्तर हेतु पत्र )
  • Promotion Letter ( पदोन्नति पत्र )
  • Sales Letters ( बिक्री पत्र )
  • Recovery Letters ( वसूली पत्र )
  • Job Letters ( नौकरी के आवेदन हेतु पत्र )

2. Informal letter

Informal letter या अनौपचारिक पत्र एक प्रकार के पत्र होते हैं जिसे आप मुख्य रूप से अपने सगे संबंधियों , रिश्तेदारों या दोस्तों को लिखते हैं । अनौपचारिक पत्र लिखने के लिए जरूरी नहीं कि आप एक विशेष प्रारूप यानि फॉर्मेट का ध्यान रखें हीं । अनौपचारिक पत्र कभी भी आधिकारिक कार्यों या व्यक्तियों हेतु नहीं लिखा जाता है ।

इसमें मुख्य रूप से निम्नलिखित प्रकार शामिल होते हैं :

  • Thank You letter ( धन्यवाद पत्र )
  • Invitation letter ( निमंत्रण पत्र )
  • A letter of acceptance ( स्वीकृति पत्र )
  • A letter of regret ( खेद का पत्र )
  • A letter of apology ( माफ़ी पत्र )
  • Congratulation letter ( बधाई पत्र )

आवेदन पत्र लेखन के लिए जरूरी बातें

अगर आप application in Hindi लिखना चाहते हैं तो यह जरूरी है कि इसे लिखते समय कुछ बेहद जरूरी बातों का ध्यान रखें । एक एप्लीकेशन को विभिन्न मौकों पर लिखा जाता है इसलिए परिस्थिति के हिसाब से आपको आवेदन पत्र लिखना चाहिए । आवेदन लिखते समय निम्नलिखित बातें ध्यान रखें :

1. कोशिश करें कि यह सिर्फ एक पृष्ठ यानि पेज का हो ।

2. आवेदन लिखते समय आपको आत्मविश्वास बनाए रखना चाहिए और सीधे और सधे शब्दों में अपनी बात कहनी चाहिए ।

3. आवदेन पत्र में व्याकरण या लेखन संबंधित अशुद्धियां नहीं रहनी चाहिए ।

4. आप जिस व्यक्ति को एप्लीकेशन लिख रहे हैं , उसके प्रति सम्मान दिखाएं और सभ्य भाषा का प्रयोग करें ।

5. अपनी समस्या या एप्लीकेशन को लिखने के कारण को विस्तारपूर्वक लिखिए ।

6. कभी भी गलत जानकारी लिखने का प्रयास न करें ।

7. एप्लीकेशन के शुरुआत में अभिवादन करना न भूलें ।

Application format in Hindi

एक application लिखने से पहले आपको इसे लिखने का format यानि प्रारूप पता होना चाहिए । एप्लीकेशन को आप किसी भी तरह से नहीं लिख सकते क्योंकि इसे ज्यादातर आधिकारिक तौर पर लिखा और इस्तेमाल किया जाता है । तो चलिए जानते हैं कि आवेदन पत्र कैसे लिखें :

Simple application format

सेवा में ,

श्रीमती , श्रीमान , सुश्री ( पदाधिकारी का नाम )

कार्यालय का नाम : ( विद्यालय , पुलिस स्टेशन , बिजली / सिंचाई / खाद्य विभाग , इत्यादि का नाम )

कार्यालय का पता : (3 से 4 शब्दों में कार्यालय का पता )

विषय : ( आप जिस कारणवश आवेदन लिख रहे हैं , उसे संक्षेप में लिखें )

अभिवादन : ( महोदय , महोदया , श्रीमान , माननीय )

आवेदन लिखने का कारण विस्तारपूर्वक : ( इसमें आप अपनी समस्या / मुद्दे को विस्तारपूर्वक बताते हुए पत्र लिख सकते हैं । ध्यान रखना है कि यह 1 या अधिकतम 2 पैराग्राफ से ज्यादा बड़ा न हो )

समापन : ( इसमें आपको यह लिखना है कि आप पदाधिकारी से क्या चाहते हैं, क्या उम्मीदें हैं और क्या समाधान किया जा सकता है । इसके साथ ही आप पदाधिकारी के प्रति आभार भी प्रकट करें )

अपना हस्ताक्षर

नाम

पता

संलग्न : ( अगर आपने अपने आवेदन पत्र के साथ अन्य दस्तावेजों को भी जोड़ा है तो आप उन्हें संलग्न की श्रेणी में रख सकते हैं । उदाहरण के तौर पर प्रिंसिपल को अगर आप बीमारी की वजह से अवकाश हेतु application लिखते हैं तो साथ ही medical documents भी लगा सकते हैं )

Examples

अब आपने विस्तारपूर्वक आवेदन पत्र को हिंदी में लिखने के बारे में जानकारी प्राप्त कर ली है । ऊपर मैंने application के बारे में हर जानकारी दी है ताकि आपको अच्छे से इसके बारे में पता चल सके । अब बारी है उदाहरणों की । नीचे आवेदन पत्र के उदाहरण दिए गए हैं जिन्हें आप देख सकते हैं और अपनी कॉपी में लिख भी सकते हैं ताकि भविष्य में अगर आपको ऐसे आवेदन पत्र लिखने की जरूरत पड़े तो आप लिख सकें ।

1. Application in Hindi to prinicipal for leave

सेवा में ,

श्रीमान प्रधानाध्यापक / प्रधानाध्यापिका महोदय

डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल , सिंगरौली

मध्य प्रदेश

विषय : बुखार से पीड़ित होने के कारण 3 दिनों की छुट्टी ।

महोदय/महोदया,

मैं ऋषभ कुमार आपके स्कूल में कक्षा दसवीं ‘ब’ का छात्र हूं । आदरपूर्वक , मैं यह कहना चाहता हूं कि बुखार से पीड़ित होने के कारण स्कूल आने में असमर्थ हूं । मुझे डॉक्टर द्वारा सलाह दी गई है कि मैं कम से कम 3 दिन तक आराम करूं । मुझे 23/07/2021 से 25/07/2021 तक अवकाश प्रदान करने की कृपा करें । इस अवधि के दौरान , मैं विद्यालय में अनुपस्थित रहूंगा जिसके लिए मैं क्षमाप्रार्थी हूं ।

चिकित्सा प्रमाण पत्र आवेदन के साथ संलग्न है । इस कार्य के लिए मैं सदैव आपका आभारी रहूंगा ।

आपका आज्ञाकारी छात्र

नाम : ऋषभ कुमार

अनुक्रमांक – 17

दिनांक – 23/07/2021

2. Application in Hindi to principal for fee concession

सेवा में ,

श्रीमान प्रधानाध्यापक महोदय

केंद्रीय विद्यालय , रामगढ़

झारखंड

विषय : फीस माफी के लिए आवेदन पत्र ।

महोदय ,

मैं राजीव शुक्ला आपके विद्यालय में कक्षा सातवीं ‘अ’ का छात्र हूं । मैं एक निर्धन परिवार से संबंध रखता हूं और मेरे पिता की वार्षिक आय ₹ 34,000 से भी कम है । घर में आय का मुख्य श्रोत कृषि है जिसकी वजह से परिवार का भरण पोषण बड़ी मुश्किल से हो पाता है । इन सब परिस्थितियों की वजह से मैं विद्यालय का शुल्क जमा करने में असमर्थ हूं । मैंने पिछली कक्षाओं में हमेशा प्रथम किया है जिसके अंकपत्र और पिता का आय प्रमाणपत्र आवेदन पत्र के साथ संलग्न हैं ।

मैं आपसे सविनय निवेदन करता हूं कि कृपया करके आप मेरा विद्यालय शुल्क माफ करें ताकि मैं आगे की पढ़ाई जारी रख सकूं । मैं आपसे वादा करता हूं कि भविष्य में भी मैं इसी तरह कक्षा में बढ़िया अंक प्राप्त करने की कोशिश करूंगा और आपको कभी शिकायत का मौका नहीं दूंगा ।

धन्यवाद!

आपका आज्ञाकारी शिष्य

नाम : राजीव शुक्ला

अनुक्रमांक : 11

दिनांक : 28/07/2021

3. Application to principal for T.C. ( transfer certificate )

सेवा में,

श्रीमान प्रधानाध्यापक महोदय

डीएवी पब्लिक स्कूल

रांची , झारखंड

विषय : स्थानांतरण प्रमाणपत्र ( टीसी ) प्राप्त करने के संबंध में

महोदय ,

सविनय निवेदन है कि मेरे पिताजी का रांची से पटना स्थानांतरण हो गया है । परिवार की अनुपस्थिति में मैं रांची अकेले रहकर पढ़ाई करने में असमर्थ हूं जिसकी वजह से मुझे भी पटना रहकर ही अध्ययन करना होगा । इस वजह से मैं आपके विद्यालय में आगे की पढ़ाई करने में असमर्थ हूं ।

अतः आपसे विनती है कि मुझे विद्यालय स्थानांतरण पत्र अनुग्रहित करें जिसका शुल्क जमा कर दिया गया है । स्थानांतरण पत्र के लिए शुल्क की एक प्रति और पिताजी के स्थानांतरण पत्र की प्रतिलिपि आवेदन के साथ ही संलग्न है । मैं आशा करता हूं कि आप मेरी सहायता करेंगे ।

धन्यवाद!

आपका आज्ञाकारी शिष्य

नाम : अन्वेष चतुर्वेदी

अनुक्रमांक : 02

कक्षा : दसवीं ‘ अ ‘

4. Application in Hindi to police station

सेवा में,

श्रीमान थानाध्यक्ष

रायपुर पुलिस स्टेशन , छत्तीसगढ़

विषय : बाइक चोरी होने के संबंध में

मैं श्रीजेश कुमार , उम्र 24 वर्ष , लेक रोड अपार्टमेंट , वसुंधरा मैदान , रूम नंबर 125 का निवासी हूं । आज शाम लगभग 04:45 बजे मैं लेक रोड सुपरमार्केट खरीददारी करने गया था । वहां बने पार्किंग जोन में गाड़ी खड़ा करने की जगह नहीं थी इसलिए मुझे गाड़ी पार्किंग जोन के बाहर सड़क के किनारे ही खड़ी करनी पड़ी । जब मैं खरीददारी करके लगभग 05:30 बजे आया तो मेरी गाड़ी अपने स्थान से गायब थी ।

मैंने आसपास काफी लोगों से पूछताछ की और खोजने की कोशिश भी की परंतु निराशा ही हाथ लगी । बाइक 3 महीने पुरानी है और यह नीले रंग की है । बाइक का अन्य विवरण है :

नाम और मॉडल : Royal Enfield Meteor 350

रंग : नीला

पंजीकरण संख्या : CG 11AD 1992

आवेदन पत्र के साथ गाड़ी की तस्वीर और पंजीकरण दस्तावेज की छायाप्रति संलग्न है । अतः आपसे निवेदन है कि मेरे द्वारा दी गई सूचना के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर उचित कार्रवाई करने की कृपा करें ।

धन्यवाद!

प्रार्थी

श्रीजेश कुमार

5. Application to bank manager in Hindi

सेवा में,

श्रीमान बैंक मैनेजर महोदय

बैंक ऑफ बड़ौदा

रिहंद नगर , बिजपुर

विषय : बैंक में नया खाता खुलवाने के संबंध में ।

महोदय ,

मैं अंकिता सिंह आपके बैंक ऑफ बड़ौदा में एक नया खाता खुलवाना चाहती हूं । दरअसल मैंने डीएवी पब्लिक स्कूल , रिहंद नगर से अपनी बारहवीं की पढ़ाई पूरी कर ली है और स्नातक की पढ़ाई के लिए मेरा प्रवेश मध्य प्रदेश के एक कॉलेज में हो गया है । वहां मुझे अकेले रहकर पढ़ाई करनी होगी जिसके लिए मुझे रुपयों की जरूरत होगी । मेरे अभिभावक हर महीने वहां जाकर रुपए पहुंचाने में असमर्थ हैं ।

इसलिए आपसे सविनय निवेदन है कि आप बैंक में मेरा नया खाता खुलवाएं ताकि मेरे अभिभावक आसनिंसे मेरे बैंक अकाउंट में रुपए भेज सकें और मैं बिना किसी बाधा के अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकूं । खाता खुलवाने के लिए जरूरी सभी दस्तावेजों को मैंने संलग्न कर दिया है ।

आशा है कि आप जल्द ही अपने व्यस्त दिनचर्या से समय निकाल कर मेरी इस कार्य में मदद करेंगे । मैं आपकी सदा आभारी रहूंगी ।

साभार

नाम : अंकिता सिंह

स्थाई पता : रिहंद नगर , बिजपुर , सोनभद्र , 231223

मोबाइल नंबर : 1221344356

दिनांक : ( आवेदन पत्र लिखने की तिथि डालें )

हस्ताक्षर : ( अपना हस्ताक्षर करें जिसका उपयोग भविष्य में खाते से रुपए निकालने के लिए होगा )

6. पासबुक जारी करने के लिए बैंक मैनेजर को आवेदन पत्र

सेवा में,

बैंक मैनेजर महोदय

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया

लहरतारा रोड , वाराणसी

विषय : नया पासबुक जारी करने के संबंध में

महोदय ,

मैं आपसे सविनय निवेदन करता हूं कि मेरा नाम मिथिलेश कुमार है और मैं वर्ष 2017 से ही आपके बैंक का एक खाताधारक हूं । 10 दिन पहले वाराणसी से प्रयागराज ट्रेन से सफर करते हुए मेरा बैग चोरी हो गया जिसमें मेरे कपड़ों के साथ ही पासबुक और अन्य जरूरी कागजात भी थे । मैंने पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज कराई थी परंतु अभी तक मेरा सामान मुझे वापस नहीं मिला है । प्राथमिकी की एक प्रतिछाया आवेदन के साथ संलग्न है ।

पासबुक खो जाने की वजह से मैं बैंक संबंधित लेन देन और अन्य जरूरी सेवाओं का लाभ नहीं ले पा रहा हूं । इसलिए आपसे सविनय निवेदन है कि मुझे एक नया पासबुक जारी करने की कृपा करें । मैं आपका सदा आभारी रहूंगा ।

धन्यवाद!

प्रार्थी

नाम : मिथिलेश कुमार

खाता संख्या : XXXX 2345 23

पता : विजयपथ मार्ग , लहरतारा , वाराणसी

दिनांक : 11/06/2021

हस्ताक्षर : ( अपना पुराना हस्ताक्षर करें )

Conclusion on application writing in Hindi

ऊपर आपने विस्तार से आपने application writing in Hindi के बारे में जाना । आवेदन क्या है , आवेदन कैसे लिखें , आवेदन के प्रकार , आवेदन का प्रारूप , प्रधानाध्यापक को बीमारी के लिए पत्र , थानाध्यक्ष को चोरी के लिए आवेदन पत्र के साथ ही बैंक मैनेजर को खाता खुलवाने और पासबुक जारी करने के लिए पत्र लिखना आपने सीखा ।

मैंने पूरी कोशिश की है कि आपको application writing के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी दे सकूं । अगर आपको पोस्ट में कोई त्रुटी नजर आए या आपको लगता है कि कुछ जानकारियां छूट गईं हैं तो कॉमेंट बॉक्स के माध्यम से मुझे अवश्य अवगत कराएं । अगर आप दूसरों की मदद करना चाहते हैं तो पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.