Computer Science in Hindi – कंप्यूटर साइंस कोर्स, किताबें और नौकरी

Computer Science कंप्यूटर टेक्नोलॉजी का अध्ययन है । इसके अंतर्गत हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और एल्गोरिथम का अध्ययन किया जाता है । इसे छोटे रूप में CS भी कहा जाता है और वर्तमान समय में दुनियाभर के छात्रों का पसंदीदा विषय भी है । वर्तमान और भविष्य को देखते हुए यह विषय काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि टेक्नोलॉजी एडवांसेडमेंट तेजी से हो रहा है और आने वाले समय में इसका रूप ज्यादा विकसित होगा ।

अगर आपको कंप्यूटर, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, एल्गोरिथम, इन्फॉर्मेशन प्रोसेसिंग जैसे विषयों में रुचि है तो आपको यह कोर्स जरूर करना चाहिए । हाल ही में आपने ChatGPT और Bard AI के बारे में सुना होगा जोकि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस चैटबॉट हैं, उन्हें बनाने के लिए भी आपको कंप्यूटर साइंस की ही पढ़ाई करनी होगी । कुल मिलाकर यह फील्ड काफी रोचक है संभावनाओं से भरा पड़ा है ।

इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से Computer Science in Hindi विषय पर जानकारी प्रदान करेंगे । कंप्यूटर साइंस क्या है, इसके फायदे, कोर्स, किताबें, कॉलेज, फीस, कैरियर, स्कोप सबकुछ डिस्कस किया जाएगा । अगर आप कंप्यूटर साइंस कोर्स करने को लेकर वाकई गंभीर हैं तो आपको हर जानकारी ध्यानपूर्वक पढ़नी चाहिए ताकि आप कोर्स करने से संबंधित सही निर्णय ले सकें ।

Computer Science क्या है ?

Computer Science कम्प्यूटेशनल सिस्टम का अध्ययन है, जिसमें हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों शामिल हैं । इसके अध्ययन का मूल उद्देश्य कम्प्यूटेशनल एल्गोरिदम और डेटा संरचनाओं का उपयोग करके जटिल समस्याओं के समाधान विकसित करना है । Database से लेकर Artificial Intelligence तक, सभी इसके अंतर्गत आते हैं ।

कंप्यूटर साइंस के अध्ययन में आपको कई अलग अलग विषयों का अध्ययन करना होता है जैसे Operating Systems, Computer Architecture, Algorithms and Data Structures, Software Engineering, Artificial Intelligence आदि । इन विषयों के अध्ययन से आप कंप्यूटर, इसके कार्य और विभिन्न तत्वों को समझ पाते हैं ।

आप जिस स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिस एप्लीकेशन पर इस जानकारी को पढ़ रहे हैं, जिस वेबसाइट आप इस जानकारी को पढ़ रहे हैं वे सभी कहीं न कहीं कंप्यूटर साइंस से कनेक्टेड हैं । इस तरह आप समझ पा रहे होंगे कि कंप्यूटर साइंस किस प्रकार आधुनिक जीवन के हर हिस्से में पकड़ बनाए हुए है और इसलिए काफी महत्वपूर्ण है ।

Computer Science Engineering क्या है ?

Computer Science Emgineering एक 3 वर्ष का अंडरग्रेजुएट कोर्स है जिसे 12वीं कक्षा के बाद किया जाता है । इसके अंतर्गत विभिन्न डोमेन में कंप्यूटर हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और उनके अनुप्रयोगों का अध्ययन शामिल है । दूसरे शब्दों में इसे बीटेक कंप्यूटर साइंस भी कहते हैं ।

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स करने वाले छात्रों को प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट टूल्स और हार्डवेयर प्लेटफॉर्म के साथ प्रैक्टिकल एक्सपीरिएंस भी प्राप्त होता है । यानि यह कुछ कुछ Vocational Courses की ही तरह होता है यानि आप सिर्फ और सिर्फ सैद्धांतिक ज्ञान नहीं बल्कि व्यवहारिक ज्ञान भी प्राप्त करते हैं ।

Computer Science Engineering पाठ्यक्रम का लक्ष्य छात्रों को कंप्यूटर सिस्टम और सॉफ्टवेयर अनुप्रयोगों को डिजाइन करने, विकसित करने और बनाए रखने के लिए आवश्यक कौशल और ज्ञान से लैस करना है । अगर आपकी रुचि कंप्यूटर की दुनिया में है तो इस कोर्स को आप जरूर करें ।

Computer Science के अंतर्गत आने वाले विषय

Computer Science के अंतर्गत ढेरों विषय आते हैं जैसे प्रोग्रामिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, एल्गोरिथम आदि । चलिए हम आपको एक एक करके सभी विषयों की संक्षेप में जानकारी देते हैं ताकि आप समझ सकें कि आप कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग यानि बीटेक कंप्यूटर साइंस में क्या पढ़ेंगे:

1. Algorithms and Data Structures

Data Structures एक वर्चुअल सिस्टम में डेटा को व्यवस्थित करने का एक तरीका है । डेटा स्ट्रक्चर कंप्यूटर में डेटा को व्यवस्थित और संग्रहीत करने का एक तरीका है ताकि इसे एक्सेस किया जा सके और कुशलता से उपयोग किया जा सके ।

दूसरा है Algorithms, जिसका इस्तेमाल किसी खास समस्या का समाधान करने और कंप्यूटर को दिशानिर्देश देने के लिए किया जाता है । कंप्यूटर विज्ञान में, डेटा को छाँटने से लेकर इंटरनेट पर जानकारी खोजने तक, सभी प्रकार की समस्याओं को हल करने के लिए एल्गोरिदम का उपयोग किया जाता है ।

2. Computer Architecture

Computer Architecture किसी भी कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर डिजाइन से संबंधित होता है । इसके अंतर्गत आपको यह पढ़ाया जाता है कि कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर मिलकर एक दूसरे के साथ कैसे कार्य करते हैं और कठिन से कठिन समस्याओं का समाधान करते हैं ।

उदाहरण के तौर पर मॉनिटर और माउस, सीपीयू और मॉनिटर आदि एक साथ मिलकर किस प्रकार कार्य करते हैं, यह आपको Computer Science Course में ही सीखने को मिलता है । अगर आप एक Computer Architech बनते हैं तो आपका कार्य सिस्टम को इस प्रकार डिजाइन करना है ताकि किसी प्रकार की कोई दिक्कत न आए, सिस्टम बेहतरीन तरीके से काम कर सके और डिजाइन अनुकूल हो ।

3. Programming Languages

Programming Languages के अंतर्गत आप कंप्यूटर को दिशानिर्देश देने के लिए लिखना समझते हैं । Python, Java, C++ आदि प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ही हैं जिन्हें एक कंप्यूटर साइंस स्टूडेंट को सिखाया जाता है । आसान शब्दों में कहें तो एक प्रोग्रामिंग भाषा एक आर्टिफिशियल लैंग्वेज है जिसका उपयोग मशीन, विशेष रूप से कंप्यूटर के व्यवहार को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है ।

इसे भी आप BTech Computer Science के अंतर्गत ही सीखते हैं । प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखकर आप आसानी से प्रोग्राम तैयार कर सकते हैं, नए सॉफ्टवेयर और टूल्स विकसित कर सकते हैं आदि ।

4. Operating Systems

Android एक ऑपरेटिंग सिस्टम है, यह तो आपको भली भांति पता होगा । इसी ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में आपको सम्पूर्ण जानकारी कंप्यूटर साइंस कोर्स में दी जाती है । अगर हम ऑपरेटिंग सिस्टम को आसान भाषा में समझें तो इसे यह एक प्रोग्राम है जिसे किसी कंप्यूटर में लोड करने पर यह मौजूद बाकी सभी एप्लीकेशन को मैनेज करता है ।

एप्लिकेशन प्रोग्राम एक परिभाषित एप्लिकेशन प्रोग्राम इंटरफ़ेस के माध्यम से सेवाओं के लिए अनुरोध करके ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग करते हैं । इसी तरह से आपके स्मार्टफोन के सभी एप्लीकेशन सही ढंग से काम करते हैं ।

5. Databases

Database एक वर्चुअल स्थान है जहां किसी सिस्टम या एप्लीकेशन से संबंधित सभी जानकारी इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से एकत्रित होती हैं । एक डेटाबेस संगठित डेटा का एक संग्रह है जिसे आसानी से एक्सेस, प्रबंधित और अपडेट किया जा सकता है । यह आपकी फोन गैलरी के ही समान है, जिसमें ढेरों अलग अलग तस्वीरें एल्बम के हिसाब से व्यवस्थित होती हैं, ठीक इसी तरह डेटाबेस भी होता है ।

छोटे डेटाबेस को फाइल सिस्टम में स्टोर किया जाता है तो वहीं बड़े डाटाबेस को स्टोर करने के लिए cloud storage की जरूरत पड़ती है । डेटाबेस का महत्व बड़ी मात्रा में डेटा को व्यवस्थित और संग्रहीत करने की उनकी क्षमता में निहित है जिसे आसानी से एक्सेस और विश्लेषण किया जा सकता है ।

6. Software Engineering

Computer Science के अंतर्गत अगला विषय है Software Engineering । सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के अंतर्गत सॉफ्टवेयर तैयार किया जाता है, यह बड़े स्केल पर भी हो सकता है और छोटे स्केल पर भी । Software Design, Testing और Maintenance सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के ही अंतर्गत आता है ।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर सॉफ्टवेयर को बेहतर और कुशल बनाने के लिए ढेरों अलग अलग टूल्स का भी इस्तेमाल करते हैं । वे सभी टूल्स की जानकारी भी आपको कंप्यूटर साइंस में ही दी जायेगी । यह फील्ड लगातार बदल रहा है और इसमें नित नए नए परिवर्तन आ रहे हैं, ऐसे में आपको उस कॉलेज से कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करनी चाहिए जिनका पाठ्यक्रम हमेशा अपडेटेड होता हो ।

7. Artificial Intelligence

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) कंप्यूटर विज्ञान की एक शाखा है, जो ऐसे कार्यों को करने में सक्षम मशीनों के निर्माण से संबंधित है, जिनके लिए आम तौर पर मानव की आवश्यकता होती है । वर्तमान समय में आप कई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के उदाहरण अपनी चारों तरफ आसानी से देख सकते हैं । फिलहाल ChatGPT और Google Bard AI ट्रेंडिंग पर है, जिनका उदाहरण आप आई के तौर पर ले सकते हैं ।

आपको सलाह दी जाती है कि कंप्यूटर साइंस के अंतर्गत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की पढ़ाई जरूर करें । ऐसा इसलिए क्योंकि यह फील्ड तेजी से विकसित हो रहा है और आने वाले समय में इसमें अपार संभावनाएं होंगी । एक एआई साइंटिस्ट के तौर पर आपका कार्य ऐसी मशीनें बनाना या मशीनें बनाने में सहयोग देना होगा जो मानव स्तर का कार्य करने में सक्षम हों ।

Computer Science Subjects

Computer Science के अंतर्गत कई विषय आते हैं । कंप्यूटर साइंस तीन 4 वर्ष का अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है इसलिए इसे कुल 8 अलग अलग सेमेस्टर में बांटा गया है । हर सेमेस्टर में आपको कुछ नया पढ़ना होता है । हम आपको ओवरऑल सभी सब्जेक्ट्स की जानकारी नीचे दे रहे हैं जिन्हें आपको 4 वर्ष में पढ़ना होगा:

  • Humanities and Social Sciences including Management courses
  • Basic Science courses
  • Engineering Science courses including workshop, drawing, basics of electrical/mechanical/computer, etc
  • Professional core courses
  • Professional Elective courses relevant to chosen specialization/branch
  • Open subjects – Electives from other technical and /or emerging subjects
  • Mandatory Courses [Environmental Sciences, Induction Program, Indian Constitution, Essence of Indian Knowledge Tradition]

पूरे 4 वर्ष के कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स के दौरान आपको ऊपर दिए गए सभी विषय की पढ़ाई करनी होगी । इसमें Calculus से लेकर Engineering Graphics and Drawing और Computer Architecture से लेकर Computer Networks Lab शामिल है ।

अक्सर पूछा जाता है कि कंप्यूटर साइंस में कितने सब्जेक्ट होते हैं ? इसका उत्तर है 8 सेमेस्टर में कुल 40 विषय होते हैं । ऊपर दिया गया कंप्यूटर साइंस सिलेबस ही आपको 4 वर्षों की अवधि में पढ़ने होते हैं ।

कंप्यूटर साइंस नौकरी और सैलरी

Computer Science में पोस्टग्रेजुएट तक की पढ़ाई पढ़ने के पश्चात आप कई विभिन्न पदों पर नौकरी कर सकते हैं । हालांकि आपको सलाह दी जाती है कि इस विषय की पढ़ाई आप किसी अच्छे कॉलेज/यूनिवर्सिटी से ही करें । कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करने के पश्चात आपकी नौकरी किन पदों पर लगेगी और सैलरी कितनी होगी, इसकी पूरी जानकारी:

JobAverage Yearly Salary
Principal Software Engineer₹2,346,700
Software Architect₹2,135,024
Computer Scientist₹1,749,672
IT Project Manager₹1,511,574
Site Reliability Engineer₹1,192,691
Data Engineer₹ 826,959
IT Security Consultant₹718,173

कंप्यूटर साइंस के अंतर्गत ढेरों नौकरियां हैं लेकिन ये 7 सबसे अच्छी और अच्छी सैलरी देने वाली नौकरियां हैं । अगर आप कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको उन्हीं जॉब प्रोफाइल को लक्ष्य बनाना चाहिए जिसमें आपकी रुचि हो । इस फील्ड में प्रिंसिपल सॉफ्टवेयर इंजीनियर को सबसे ज्यादा सैलरी दी जाती है ।

ऊपर दी गई नौकरियों के अलावा DevOps Engineer, Systems Analyst, Cybersecurity Engineer भी कुछ अच्छे कैरियर विकल्प हैं । यह फील्ड हमेशा से रिवार्डिंग रहा है इसलिए आपको इसमें हमेशा अच्छी पोजिशन पर अच्छी सैलरी मिलेगी ।

Computer Science Course List

Computer Science एक बहुत बड़ा अध्ययन का क्षेत्र है, जिसके अंतर्गत कई कोर्सेज आते हैं । ये कोर्सेज कंप्यूटर साइंस के विभिन्न क्षेत्रों जैसे Algorithm, Artificial Intelligence, Databases आदि । नीचे दिए टेबल की मदद से आप कंप्यूटर साइंस कोर्स लिस्ट को देख सकते हैं, साथ ही सभी कोर्सेज में लगने वाले फीस की जानकारी भी दी गई है ।

CourseAnnual Fees
BSc Computer Science₹3,00,000 से ₹7,00,000
BE Computer Science₹50,000 से ₹3,00,000
Bachelor of Computer Science₹50,000
BTech Computer Science₹1,50,000 से ₹3,00,000
BTech CSE₹2,00,000 से ₹10,00,000
BE CSE₹50,000 से ₹15,00,000
BSc Hons in CS₹3,00,000 से ₹10,00,000
Diploma in Computer Programming₹4,000 से ₹50,000

ऊपर दिए गए सभी कोर्सेज को आप IIT, BITS Pilani, Loyola College, Chennai, Christ University, Bangalore, Delhi University आदि की मदद से कर सकते हैं । अगर आप कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करके अच्छी पोस्ट हासिल करना चाहते हैं तो आपको किसी अच्छे कॉलेज/यूनिवर्सिटी की तलाश करनी चाहिए ।

अगर आप Computer Science के फील्ड में अच्छी पोजिशन पर नौकरी हासिल करना चाहते हैं तो आपको कुछ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे JavaScript, R and Software Development और C++ जरूर सीखना चाहिए । इन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की एडवांस लेवल जानकारी आपके सुरक्षित भविष्य के लिए आवश्यक है ।

अगर आप ऑनलाइन मोड में कंप्यूटर साइंस कोर्स करना चाहते हैं तो इंटरनेट पर कई प्लेटफॉर्म मौजूद हैं । खासकर कि Udemy, Coursera, edX कुछ अच्छे ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म हैं जिनकी मदद से आप आसानी से Computer Science Online Course कर सकते हैं ।

Computer Science Books

Computer Science के क्षेत्र में आपको कुछ अच्छी किताबों की जरूरत पड़ेगी । इंटरनेट और मार्केट में आपको कुछ अच्छी कंप्यूटर साइंस बुक मिल जायेंगी जिन्हें खरीदकर आप पढ़ सकते हैं । इन किताबों में आपको कंप्यूटर विज्ञान की पूरी जानकारी, बेसिक से एडवांस लेवल की मिल जायेगी । खासकर कि अगर आप theoretical knowledge प्राप्त करना चाहते हैं तो इन किताबों को जरूर पढ़ें ।

नीचे हम आपको जिन कंप्यूटर साइंस बुक की जानकारी दे रहे हैं उन्हें आप आसानी से ऑनलाइन खरीद सकते हैं । ध्यान दें कि सभी किताबें अंग्रेजी भाषा में ही हैं और अगर आप कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में अच्छी नौकरी और सैलरी पाना चाहते हैं तो आपको Intermediate Level की अंग्रेजी की जानकारी होनी ही चाहिए । कुछ किताबें:

  • Superintelligence: Paths, Dangers, Strategies
  • Hackers: Heroes of the Computer Revolution
  • Thinking in Systems: A Primer
  • Algorithms to Live By: The Computer Science of Human Decisions
  • Structure and Interpretation of Computer Programs
  • Clean Code: A Handbook of Agile Software Craftsmanship
  • Everything You Need to Ace Computer Science and Coding in One Big Fat Notebook

Amazon पर मौजूद ये किताबें आपको आपके बजट में मिल जायेंगी । इन किताबों में वो जानकारियां हैं जो आपको Google, Apple, Meta जैसी बड़ी कंपनियों में नौकरी दिलाने में काफी मदद करेंगी ।

FAQs on Computer Science

1. कंप्यूटर साइंस का मतलब क्या होता है ?

Computer Science कंप्यूटर टेक्नोलॉजी का अध्ययन है । इसके अंतर्गत हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और एल्गोरिथम का अध्ययन किया जाता है । इसे छोटे रूप में CS भी कहा जाता है ।

2. कंप्यूटर साइंस कोर्स कितने साल का होता है ?

कंप्यूटर साइंस कोर्स आमतौर पर 4 वर्ष का होता है जिसमें कुल 8 सेमेस्टर होते हैं ।

3. कंप्यूटर साइंस से क्या बन सकते हैं ?

कंप्यूटर साइंस से आप Principal Software Engineer, Software Architect, Computer Scientist, Data Engineer आदि बन सकते हैं ।

4. कौन सी कंप्यूटर साइंस की सबसे अच्छी डिग्री है ?

कंप्यूटर साइंस की सबसे अच्छी डिग्री बीएससी कंप्यूटर साइंस और बीटेक कंप्यूटर साइंस है । हालांकि इनकी फीस भी अधिक है और इन कोर्स को करने के लिए आपको सिर्फ अच्छे कॉलेज/यूनिवर्सिटी का ही चुनाव करना चाहिए ।

5. कंप्यूटर साइंस में मैं क्या सीखूं ?

कंप्यूटर साइंस के अंतर्गत आपको Artificial Intelligence, Databases, algorithms, Programming Languages और Operating System के बारे में सीखना चाहिए ।

10. क्या मैं 10वीं के बाद कंप्यूटर साइंस चुन सकता हूं ?

कक्षा 10वीं के बाद तुरंत आप कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा और अंडरग्रैजुएट कोर्स नहीं कर सकते हैं । इसके लिए आपका कक्षा 12वीं में Physics, Chemistry, Mathematics से न्यूनतम 50% अंक लाना जरूरी है ।

पसंद आया ? शेयर करें 😊

Leave a comment