History of Axis Bank in Hindi – एक्सिस बैंक का इतिहास

Axis Bank भारत में निजी क्षेत्र का तीसरा सबसे बड़ा बैंक है । हाल के कुछ वर्षों में कंपनी के उपभोक्ताओं में गजब का उछाल देखने को मिला है । बैंक बड़ी और मध्यम कंपनियों, कृषि और रिटेल व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है । आज देश के निजी क्षेत्र के तीसरे बड़े बैंक की शुरुआत वर्ष 1993 में हुई थी । कम्पनी के इतिहास से लेकर वर्तमान तक, सब कुछ, आपको History of Axis Bank में जानने को मिलेगा ।

अगर आप एक निवेशक हैं जो एक्सिस बैंक में निवेश करना चाहते हैं या एक छात्र हैं जो एक्सिस बैंक के इतिहास को समझना चाहते हैं, आप सभी के लिए यह लेख काफी सहायक साबित होगा । हमने Timeline की मदद से आपको कम्पनी के इतिहास के बारे में समझाया है ताकि आप रोचक ढंग से सभी बातें जान सकें । आर्टिकल के अंत में कम्पनी से जुड़े तथ्यों को भी जोड़ा गया है ।

Axis Bank क्या है ?

Axis Bank एक भारतीय बैंकिंग और वित्तीय सेवा कंपनी है जिसे पहले UTI यानि Unit Trust of India के नाम से जाना जाता था । कम्पनी की स्थापना 3 December 1993 को किया गया था और इसका हेडक्वार्टर मुंबई, महाराष्ट्र में स्थित है । अमिताभ चौधरी कंपनी के CEO और MD हैं ।

कम्पनी Large और Medium Size Companies के साथ साथ कृषि और खुदरा उद्योग को वित्तीय सेवा प्रदान करती है । भारत में कम्पनी के कुल 4,050 घरेलू शाखाएं हैं तो वहीं 11,801 ATMs क्रियान्वित की जा रही हैं । कम्पनी फिलहाल काफी मुनाफा कमा रही है जिसके आंकड़े (August, 2022) आप नीचे पढ़ सकते हैं

1. Revenue: ₹86,114 crore

2. Operating income: ₹26,746 crore

3. Net income: ₹14,162 crore

4. Total assets: ₹1,195,528 crore

5. Total equity: ₹117,495 crore

Title Description
कंपनीAxis Bank
Chief Executive Officer अमिताभ चौधरी
स्थापना वर्ष3 December 1993
हेडक्वार्टरमुंबई, महाराष्ट्र
सेवाएंRetail & Corporate Banking
वेबसाइटhttp://www.axisbank.com/

Axis Bank Timeline in Hindi

सबसे पहले आपको Axis Bank की यह टाइमलाइन देखनी चाहिए जिसमे रोचक ढंग से बैंक के इतिहास को समझाया गया है । इस टाइमलाइन में कम्पनी के Key Decisions और वर्षों को जोड़ा गया है । तो चलिए एक नजर Axis Bank History Timeline पर डालते हैं:

वर्ष 1993

“कम्पनी का शुभारंभ 3 दिसंबर, 1993 को”

Unit Trust of India, Life Insurance Corporation of India और United India Insurance Company के ज्वाइंट प्रमोशन से UTI Bank (अब एक्सिस बैंक) की स्थापना हुई ।

वर्ष 2006 – 2007

“Overseas Branch खुलने की शुरुआत”

वर्ष 2006 में कम्पनी ने अपना पहला Overseas Branch सिंगापुर में खोला । उसी वर्ष में कम्पनी ने शंघाई, चीन में भी अपना ऑफिस खोला । वर्ष 2007 में कम्पनी ने Dubai International Financial Centre में ब्रांच खोला ।

July 2007

कम्पनी ने बदला अपना नाम

30 जुलाई, 2007 को कम्पनी ने UTI Bank से नाम बदलकर Axis Bank रख दिया ।

वर्ष 2010 – 2019

“CEO और MD की नियुक्ति”

वर्ष 2010 में कंपनी ने Shikha Sharma को MD और CEO नियुक्त किया । इसके 9 वर्षों बाद वर्ष 2019 में अमिताभ चौधरी को Axis Bank CEO और MD नियुक्त किया गया ।

Axis Bank History in Hindi

आप ऊपर दिए टाइमलाइन की मदद से Axis Bank History के बारे में काफी कुछ समझ चुके होंगे । पर अब हम आपको सविस्तार समझाएंगे कि एक्सिस बैंक का इतिहास क्या है । अगर आप कम्पनी से जुड़ा कोई रिसर्च कर रहे हैं या इसमें निवेश करना चाहते हैं तो आपको इसके इतिहास के बारे में पता होना चाहिए ।

Axis Bank History की शुरुआत होती है वर्ष 1993 से । भारत सरकार ने वर्ष 1993-1994 में यह ऐलान किया कि देश में प्राइवेट बैंक अब खोले जा सकते हैं । इससे पहले सिर्फ सरकारी बैंक ही देश में क्रियान्वित थे । जैसे ही सरकार ने यह ऐलान किया, Axis Bank और IndusInd जैसे बैंकों की स्थापना सबसे पहले शुरू हो गई ।

Axis Bank भारत का पहला ऐसा प्राइवेट बैंक था जिसकी स्थापना भारत सरकार के ऐलान के तुरंत बाद हुआ । बैंक ने वर्ष 1994 में अपना ऑपरेशन शुरू किया और आज कंपनी देश की सबसे बड़ी प्राइवेट बैंकों में से एक है । बैंक की शुरुआत में कई अन्य बड़ी संस्थाओं ने योगदान दिया था, जिसमें UTI ने 100 करोड़, LIC ने 7.5 करोड़, GIC ने 1.5 करोड़ का योगदान दिया था ।

वर्ष 2006 से ही कंपनी ने Overseas Branches और ऑफिस खोलने शुरू किए । सबसे पहले कम्पनी ने अपना पहला ओवरसीज ब्रांच सिंगापुर में खोला । इसके बाद वर्ष 2007 में शंघाई, चीन में कम्पनी द्वारा Dubai International Financial Centre में ब्रांच खोला गया । इस तरह से कम्पनी ने धीरे धीरे कई देशों में अपना ओवरसीज ब्रांच और ऑफिस खोला । वर्ष 2007 में ही कंपनी ने नाम बदलकर Axis Bank कर लिया ।

इसके बाद कम्पनी ने भारत में कई क्रांतिकारी और बड़े बदलावों को इंट्रोड्यूस किया । उदाहरण के तौर पर, मार्च 2008 में कम्पनी द्वारा Platinum Credit Card लॉन्च किया गया जोकि भारत का पहला EMV Chip Based Card था । फिर वर्ष 2011 में कम्पनी ने विदेशी नागरिकों के लिए India travel card लॉन्च किया ।

वर्ष 2013 में कम्पनी को देश की Most Trusted Private Sector Bank का खिताब मिला । यह सर्वे Brand Equity द्वारा वर्ष 2013 में किया गया था । इसके बाद भी कम्पनी लगातार नित नई ऊंचाइयों को छू रही है । उम्मीद है कि आप Axis Bank History अच्छे से समझ गए होंगे ।

Axis Bank Facts in Hindi

Axis Bank आज देश का एक बहुत बड़ा निजी बैंक है जिसके पास लाखों करोड़ो उपभोक्ता भी हैं । हालांकि कंपनी की कुछ सर्विसेज को लेकर लोगों में नाराजगी देखी जा रही है खासकर कि Consolidated Charges को लेकर । लेकिन अगर बात करें उद्योगों के नजरिए से तो कंपनी उनके लिए काफी फायदेमंद साबित हुई है । चलिए कम्पनी से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों को पढ़ते हैं:

1. वर्ष 2013 में आयोजित एक सर्वे में एक्सिस बैंक को Most Trusted Private Sector Bank माना गया ।

2. Axis Bank ने विदेशी नागरिकों के लिए भारत का पहला और एकमात्र भारतीय मुद्रा प्रीपेड Travel Card लॉन्च किया ।

3. वर्ष 2008 में कम्पनी ने देश का पहला Platinum Credit Card लॉन्च किया था जो EMV chip based card था ।

4. एक्सिस बैंक का पुराना नाम UTI Bank था जिसे कंपनी ने वर्ष 2007 में बदल दिया था ।

5. UTI Bank (अब एक्सिस बैंक) ने वर्ष 2007 में Spice Rewards लॉन्च किया था । यह भारत का पहला व्यापारी-समर्थित पुरस्कार कार्यक्रम था ।

6. UTI Bank भारत का पहला बैंक था जिसने अंतर्राष्ट्रीय बाजार में विदेशी मुद्रा हाइब्रिड पूंजी को सफलतापूर्वक जारी किया था ।

FAQs

1. Axis Bank का पुराना नाम क्या था ?

Axis Bank का पुराना नाम UTI Bank था जिसे वर्ष 2007 में बदलकर एक्सिस बैंक किया गया था ।

2. एक्सिस बैंक का हेडक्वार्टर कहां है ?

एक्सिस बैंक का हेडक्वार्टर मुंबई, महाराष्ट्र में है ।

3. एक्सिस बैंक का CEO और MD कौन है ?

वर्तमान में Axis Bank CEO और MD अमिताभ चौधरी हैं । इनसे पहले वर्ष 2010 में शिखा शर्मा को कम्पनी का सीईओ और एमडी नियुक्त किया गया था ।

4. बैंक की स्थापना किस वर्ष में हुई थी ?

एक्सिस बैंक की स्थापना वर्ष 1993 में हुई थी और कंपनी ने अपना ऑपरेशन वर्ष 1994 में शुरू किया था । Axis Bank भारत का पहला ऐसा प्राइवेट बैंक था जिसकी स्थापना भारत सरकार के द्वारा प्राइवेट बैंक को अनुमति प्रदान करने के बाद हुआ था ।

5. Axis Bank किस प्रकार की सेवाएं देती है ?

एक्सिस बैंक Retail और Corporate Banking की सुविधाएं देती है । बैंक बड़ी और मध्यम कम्पनियों के साथ साथ रिटेल और कृषि से जुड़े उद्योगों को वित्तीय सेवाएं प्रदान करती है ।

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.