PESTLE analysis क्या है ? Definition , meaning , templates और examples

PESTLE analysis क्या है ? Definition , Template , Analysis और Examples

if you want to read About PESTLE Analysis in English language then click on this link. Along with this , we want to tell that this article Translated in English language may be filled with grammar flaws . We apologize in advance for this .

क्या आप जानना चाहते हैं कि PESTLE analysis ( पेस्ट विश्लेषण ) क्या है ? क्या आप PESTLE analysis के Definiotions , Templates , Analysis और Examples को देखना और समझना चाहते हैं ? अगर हां , तो अल बिल्कुल सही जगह पर हैं । हम आपको पेस्ट एनालिसिस से जुड़ी हर वो जानकारी देंगे जिसकी आपको जरूरत है ।

धीरे धीरे बिजनेस करने और इसके फैलाव के मायने बदलते जा रहे हैं । ऐसे में अगर ये Businesses अपने काम को सही से analyse नहीं करते तो इन्हे भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है । किसी भी कंपनी को जब अपने Growth का सही सही अंदाजा लगाना होता है या किसी नए प्रोजेक्ट को शुरू करना होता है तो सबसे पहले उसे अपने Business को पूरी तरह analyse करना होता है । Business के फिल्ड में चीजों को ( inner + outer ) को एनालाइज करने के लिए ढेरों तरीके मौजूद हैं । इनमे से PESTLE analysis ( पेस्ट एनालिसिस ) एक है । यहां पर आपको बताते चलें कि पेस्ट एनालिसिस PESTLE एनालिसिस का एक Traditional framework है । तो चलिए शुरू से शुरू करते हैं :

PESTLE Analysis ( पेस्ट एनालिसिस ) क्या है ?

PESTLE ANALYSIS क्या है

PESTLE Analysis ( पेस्ट एनालिसिस ) मार्केटिंग प्रिंसिपल का एक concept है । कंपनी द्वारा इस टूल का उपयोग उस समय किया जाता है जब कंपनी अपने बिजनेस से जुड़ी अन्य बाहरी चीजों ( factors ) को एनालाइज करना चाहती है । इसमें राजनीतिक , आर्थिक , सामाजिक – सांस्कृतिक , तकनीकी , कानूनी और पर्यावरण शामिल हैं । कंपनी इन Factors को अच्छे से समझने के लिए PESTLE Analysis का उपयोग करती है ।

PESTLE Analysis का फूल फॉर्म है :

  • P – Political ( राजनीतिक )
  • E – Economic ( आर्थिक )
  • S – Social ( सामाजिक )
  • T – Technological ( तकनीकी )
  • L – Legal ( कानूनी )
  • E – Environmental ( पर्यावरणीय )

अब तक आप समझ गए होंगे कि PESTLE Analysis क्या है और इसका मतलब क्या है ? तो चलिए अब PESTLE Analysis ( पेस्ट एनालिसिस ) के matrix को देख और समझ लेते हैं :

PESTLE Analysis के Matrix ( Template )

Political ( राजनैतिक )Economic ( आर्थिक )Social ( सामाजिक )Technological ( तकीनिकी )Legal ( कानूनी ) Environmental ( पर्यावरणीय )
सामाजिक अस्थिरताआर्थिक परिस्थितिजीवन शैली के रुझानप्रतिस्थापन प्रौद्योगिकीव्यवसाय और कंपनी कानूनपर्यावरण से जुड़े मुद्दे
सामाजिक सिद्धांत और विचारधारामार्केट और ट्रेड साइकिलजनसांख्यिकीप्रौद्योगिकी की परिपक्वतारोजगार कानूनपर्यावरण के जोखिम
वर्तमान और भविष्य की टैक्स पॉलिसीइंडस्ट्री से जुड़े कारकउपभोक्ता का नजरिया और रायविनिर्माण परिपक्वताप्रतियोगिता कानूनपर्यावरण कानून
सरकार की पॉलिसीब्याज और विनियम दरब्रांड , कंपनी और तकिनिक तस्वीरनवाचार क्षमतास्वास्थ्य और सुरक्षा कानूनऊर्जा की खपत
सरकार में बदलाव और शासन अवधिमहंगाई और बेरोजगारीउपभोक्ता खरीद का स्वरूपप्रौद्योगिकी का उपयोग, लाइसेंस, पेटेंटअंतरराष्ट्रीय कानूनWaste ( अपशिष्ट ) का निपटान

PESTLE Analysis कैसे करें ( 3 स्टेप्स )

अगर आप कोई बिजनेस चलाते हैं तो आप भी PESTLE एनालिसिस आसानी से कर सकते हैं । इसको करने के 3 steps हैं :

1. PESTLE के विभिन्न Categories के बारे में जानें

PESTLE एनालिसिस करने के लिए सबसे पहले आपको इसके विभिन्न Categories के बारे में समझना होगा । हमने ऊपर दिए गए Table में आपको इन Categories के बारे में बहुत ही अच्छे से समझाया है । आप चाहे तो उन्हें दोबारा पढ़ कर अच्छे तरीके से इसे समझ सकते हैं ।

इसमें कुल 6 categories होती है जिनके नाम हैं Political , Economic , Social , Technology , Legal और Environment । इन Categories में किन किन चीजों का ध्यान में रखना चाहिए , इसका पूरा विवरण हमने ऊपर ही दे दिया है ।

2. रिसर्च करें

एक बार जब आप PESTLE और इसके categories के बारे में अच्छे से जान लें तो Research का काम करें । यह दूसरा सबसे जरूरी step है । अगर आप PESTLE analysis में बिल्कुल नए हैं तो आपको Research का काम बेहद ही मुश्किल लगेगा । पर हम हैं न , हम आपको बताएंगे कि आपको Research में किन किन चीजों का ध्यान रखना है ।

  • सबसे पहला काम आपको करना है कि अपने बिजनेस को अच्छे से समझना है । उसके साथ ही आपको यह तय करना है कि आपको अपने Business के analysis में किन Categories को जोड़ना है । यह आप इस तरह से भी Determine कर सकते हैं कि कौन कौन से External Factors हैं जो आपके Business को बाहरी तरीके से Effect करते हैं । इस तरह आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आपका analysis कैसा होगा ।
  • दूसरा अगर आपको नहीं पता कि आपको Informations कहां से मिलेंगी तो आप Web पर खोज सकते हैं । इंटरनेट की दुनिया में लगभग हर वो जानकारी है जिसे आप जानना और समझना चाहते हैं । इसके साथ ही अगर आपको कोई अन्य information चाहिए तो आप नीचे कमेंट भी कर सकते हैं ।
  • तीसरा : एक बार आपने PESTLE analysis को अच्छे से समझ लिया , अपने बिजनेस को समझ लिया और अंत में वेब से information भी इकट्ठा कर ली है तो आप आसानी से यह analysis कर सकते हैं । इन तीनों चीजों को मिलाकर आप आसानी से यह analysis कर सकते हैं ।

यह भी पढ़ें :

Conclusion

इस पोस्ट में हमने आपको अच्छे तरीके से PESTLE Analysis के बारे में समझाया । अगर फिर भी कोई समस्या है तो आप हमें Contact कर सकते हैं और साथ ही नीचे कॉमेंट कर के भी कोई भी प्रश्न पूछ सकते हैं । पोस्ट अच्छी लगी हो तो शेयर करें ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.