Deep और dark वेब क्या है ?

Deep और Dark वेब क्या है ? सुरक्षित तरीके से इन तक कैसे पहुंचे ?

आपने अक्सर इंटरनेट पर , न्यूज में Deep और Dark वेब के बारे में सुना होगा । हां , हो सकता है कि आपने Deep वेब के बारे में न सुना हो । परन्तु आपने Dark Web के बारे में जरूर सुना होगा । वैसे , Youtube के उस डरावने वीडियो में तो सुना ही होगा जिसमें Dark Web के बारे में डरावना तरीके से दिखाया जाता है । ज्यादातर लोग Deep वेब और Dark वेब को लेकर काफी उलझन में रहते हैं और कई तो इन दोनों को एक जैसा भी मान लेते हैं । खैर , इसमें गलती आप की नहीं है । हमारे Internet की दुनिया ने बड़ा फरेब फैला कर रखा है ।

पर Listrovert है न , आपके सारे समस्याओं के हल की एकमात्र दुकान । हम आज आपको Deep वेब और Dark वेब के बारे में अच्छे से समझाएंगे और साथ ही बताएंगे कि आप कैसे इन तक सुरक्षित पहुंच सकते हैं यानि कि Access कर सकते हैं ।

Dark वेब क्या है ?

Dark वेब क्या है ?

Dark वेब इंटरनेट का ही एक हिस्सा है जिसे Search Engines कभी भी ढूंढ नहीं पाती । Dark वेब को अपराधिक गतिविधियों का अड्डा माना जाता है और यह है भी । Dark वेब के जरिए इंटरनेट पर मौजूद Businesses और Enterprises को भारी नुकसान पहुंचाया जाता है ।

एक Report के मुताबिक , करीब 20% dark वेब की वेबसाइट्स Enterprises और Business को नुकसान पहुंचा सकती है । इसके साथ ही Dark वेब पर वो सब कुछ बिकता है जो गैरकानूनी है । आप Dark Web पर Drugs , बंदूकें , हैक किए गए Netflix Accounts , एक्टिव पर hacked मेंबरशिप प्लान्स के साथ साथ उन Softwares को भी खरीद सकते हैं जो किसी के भी बैंक अकाउंट का बंटाधार कर सकते हैं । इसके साथ ही आप Dark वेब पर ऐसे Hackers को भी hire कर सकते हैं जो आपके लिए किसी भी Computer को Hack कर सकते हैं ।

Note : यह भी ध्यान रखें कि यहां पर सब कुछ Illigal नहीं है । कुछ अच्छी चीजें भी यहां पर मौजूद हैं । जैसे आप ChessBook और BlackBook को ज्वाइन कर सकते हैं जोकि बिल्कुल भी illigal नहीं हैं । हालांकि Dark Web तक पहुंचने के लिए आपको एक tor browser की जरूरत पड़ती है । जिसे आप https://www.torproject.org से डाउनलोड कर सकते हैं ।

क्या Dark वेब पूरी तरह से सुरक्षित है ?

इस प्रश्न का उत्तर है हां भी है और नहीं भी । यह आप पर depend करता है कि आप इसका कैसे use करते हैं । इसका सही इस्तेमाल भी किया जा सकता है ।

Dark वेब के लिए ध्यान में रखने वाली बातें

Dark वेब को Access करते समय आपको इन चीजों को ध्यान में रखना चाहिए :

  • Tor browser का उपयोग हमेशा Dark वेब को access करने के लिए करें ।
  • tor ब्राउज़र और अपने डिवाइस के सिस्टम , दोनों को हमेशा Up – to – date रखें । Outdated सिस्टम आपको हानि पहुंचा सकता है ।
  • tor ब्राउज़र से dark वेब access करते समय कभी भी अपने Original Email का उपयोग न करें । यह आपके लिए बहुत बड़ा खतरा बन सकता है ।

Deep वेब क्या है ?

Deep वेब क्या है ?

Deep वेब भी Dark web की ही तरह इंटरनेट का एक हिस्सा है जिसे Search Engines जैसे Google , Bing, Yahoo द्वारा index नहीं किया जाता । इसे ‘ Surface Web ‘ के नाम से भी जाना जाता है । हालांकि , dark वेब की तरह यह आम इंटरनेट यूजर्स से छिपा हुआ नहीं है और इसे कोई भी use और access कर सकता है ।

Deep वेब पर आपको आपके बैंक खाते की पूरी जानकारी , अपने Personal ईमेल Accounts की जानकारी , मेडिकल से संबंधित दस्तावेज , Research पेपर्स , कानूनी दस्तावेज जैसी ढेरों सामग्रियां मिल जाएंगे । Deep वेब में ये सारी जानकारियां या यूं कहें कि सामग्रियां Stored हैं परन्तु Search Engines उन्हें Index नहीं करती ताकि आपके Personal Informations का गलत उपयोग न किया जा सके ।

उदाहरण : मान लीजिए कि आपको किसी भी वेबसाइट में अपना Username और Password डाल कर login करना है । Login करने के बाद आपके सामने जो भी information सामने आती है वह deep वेब है । इसका मतलब कि आपकी सारी जानकारी को गोपनीय रखा जाता है जोकि आपके लिए अच्छा ही है ।

क्या Deep वेब पूरी तरह से सुरक्षित है ?

इसका उत्तर है हां , क्योंकि यह आपके Personal Information को Index होने से बचाता है इसके साथ ही उसे गोपनीय भी रखता है । जिसे सिर्फ़ आप ही Access कर सकते हैं ।

Deep वेब के लिए ध्यान में रखने वाली बातें

Deep वेब Access करते समय आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए । जैसे :

  • Deep वेब पर आपके ढेरों personal informations स्टोर होते हैं जिन्हें Passwords से ही खोला जा सकता है । इसलिए हमेशा Strong Password ही बनाएं । Strong password बनाने के लिए आपको Letters , Numbers और साथ में Symbolics का प्रयोग करना चाहिए । ताकि हैकर्स के लिए इन्हें Guess करना या तोड़ना आसान न हो ।
  • कभी भी Wifi का उपयोग करते समय अपने Personal Informations को न खोलें । यह बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं होता है ।
  • अगर आप Wifi के उपयोग से अपने Personal Information को Access करना चाहते हैं तो VPN ( Virtual Private Network ) का जरूर उपयोग करें । जिससे कि आपका Online Data सुरक्षित रहता है ।
  • कभी कभार ऐसा होता है कि हमें Messages या Email मिलते हैं जिनमें Security से जुड़े Codes , Bank Account से जुड़े नंबर्स मांगता है । याद रखें कि IRS ( INTERNAL REVENUE SYSTEM ) कभी भी इन चीजों की मांग नहीं करता । इसलिए कभी भी अपने Personal Informations को इनको न दें ।

इंटरनेट पर Dark वेब और Deep वेब क्यों हैं ?

आपके मन में यह प्रश्न जरूर उठ रहा होगा कि जब दोनों कई मायनों में Safe नहीं है तो ये Internet पर मौजूद हैं ही क्यों ? चलिए हम बताते हैं :

  • Deep वेब और Dark वेब दोनों Privacy और Anonymity को ही प्रोमोट करते हैं जोकि कानून के हिसाब से बिल्कुल सही है ।
  • Deep वेब आपके personal informations जैसे बैंक का पासवर्ड इत्यादि को Secure करके रखता है और इसे Public होने से बचाता है । हालांकि banking डिटेल्स ज्यादा safe नहीं होते और इन्हे access किया जा सकता है बशर्ते आप Updated Security System और Strong Password का इस्तेमाल कर रहे हो ।
  • Dark वेब पूरी तरह से Anonymity प्रिंसिपल पर काम करता है । इसका अर्थ है कि आप वहां जो भी करें , वह आपकी प्राइवेसी हो गई जिसे कोई भी Track नहीं कर सकता । वह आपका अपना काम है और Risk भी आपके ही हैं ।
  • Dark वेब की मदद से ढेरों अच्छे काम भी किए जा सकते हैं जिनमें Freedom of Speech जैसी मुख्य चीजें शामिल हैं । हालांकि , इसका दुरुपयोग आपको जेल की चक्की पिसवा सकता है । दूसरी ओर , अगर आप इस प्लेटफॉर्म को सामाजिक और राष्ट्रीय मुद्दों को उठाने में लगाएं तो ज्यादा बेहतर रहेगा । यह इस कारण भी इंटरनेट पर Exist करता है ।

तो दोस्तों , ये रहा Detailed आर्टिकल कि Dark वेब और Deep वेब क्या है और इसे कैसे access करें , access करते समय किन बातों का ख्याल रखें और यह कितना Safe है ? अगर अभी भी आपके मन में deep और dark वेब को लेकर सवाल हैं तो नीचे Comment बॉक्स में पूछे । Deep और Dark वेब के बारे में अन्य जानकारियां और tor browser के उपयोग के बारे में जानने के लिए Listrovert को Subscribe करें और Notifications को Allow करें ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.