Fred Google Algorithm Update in Hindi

Google के हिसाब से यह लगभग हर दिन अपने algorithms में कुछ न कुछ बदलाव करता रहता है । कभी कभी कुछ Algorithm updates और changes छोटे होते हैं तो कभी बड़े । इनका मकसद users को ज्यादा से ज्यादा valuable content देना ही होता है । इस पोस्ट में हम Google के Major algorithm Update ” Fred ” के बारे में बात करेंगे । इस पोस्ट में हम आपको Algorithm Update Fred के बारे में hindi में विस्तार से बताएंगे ।

इस पोस्ट को अंत तक पढ़ने के बाद आप जान जाएंगे कि –

  • Google Fred Algorithm Update क्या है ?
  • Google Fred की वजह से किन websites पर सबसे ज्यादा असर पड़ा ?
  • Google के Fred update के लिए SEO tactics कौन कौन से हैं ?

तो चलिए इस Algorithm Update के बारे में विस्तार से बात करते हैं । शुरू से शुरू करते हैं –

Google Fred Update क्या है ?

Google का Fred Update क्या था

Fred एक Google Algorithm Update था जो मोनेटाइजेशन के लिए black hat seo करने वाले वेबसाइट्स को टारगेट करता है । यह उन वेबसाइट के कंटेंट को टारगेट करता है जिनका कंटेंट low quality का है , overloaded ads placements हैं । इस अपडेट के बाद इन वेबसाइट को penalise किया गया और उनकी रैंकिंग और ट्रैफिक में भारी गिरावट देखने को मिली ।

हालांकि एक बात ध्यान में रखने वाली है कि google के Fred Algorithm के बाद जितने भी sites की ranking और traffic में गिरावट देखने को मिला , जरूरी नहीं कि से black hat tactics अपना ही रहे हों । कई बार Algorithm change और updates की वजह से कई वेबसाइट्स की traffic और search ranking में बदलाव देखने को मिलता है । Fred Updates का बुरा प्रभाव सिर्फ उन वेबसाइट्स पर पड़ा है जो users को quality content नहीं देना चाहती , बाद पैसे कामना चाहती हैं ।

Google Fred की वजह से किन वेबसाइट्स पर बुरा असर पड़ा ?

तो चलिए अब बात करते हैं कि Google के Fred Algorithm update की वजह से किन websites पर बुरा प्रभाव पड़ा –

  • जरूरत से ज्यादा Affiliate links को सेटअप करना
  • बहुत ही ज्यादा मात्रा में Ads का होना
  • Deceptive और Pop Ups ads का होना
  • UX Barrier का होना
  • Multi Niche टॉपिक का होना
  • Low Quality Content का होना
  • Monetisation पर ज्यादा ध्यान देना , बजाय के Quality Contents के

जिन भी वेबसाइट्स में ऊपर दिए गए points पाए गए , उनकी rankings और search traffic में भारी गिरावट देखने को मिली । Google ने Fred Update से यह बताना शुरू किया कि किसी भी वेबसाइट की अच्छी रैंकिंग और high traffic निर्भर करेगी user experience के ऊपर ।

Google Fred के लिए SEO tactics कौन कौन से हैं ?

अगर आप चाहते हैं कि Google के Fred Algorithm Update की वजह से आपकी वेबसाइट पर बुरा प्रभाव न पड़े , तो आपको अपने वेबसाइट के user experience को ज्यादा बेहतर बनाना होगा । इसके लिए आप Google के Quality Rating Guidelines को दोबारा पढ़ सकते हैं । इसमें अच्छे से गूगल द्वारा समझाया गया है कि आप कैसे अपने वेबसाइट को valuable और Good Quality का बना सकते हैं ।

नीचे हम बताने जा रहे हैं कुछ Common SEO Tactics जोकि आपके साइट को Fred Update से बचाया जा सकता है –

  • अपने वेबसाइट के Topic को हमेशा क्लियर रखें । ताकि पता चल सकें कि कोई भी पार्टिकुलर पेज किस बारे में है ।
  • वेबसाइट के knowledge graph को सही रखें । यह इसलिए ताकि पता चल सके कि वेबसाइट किसकी है ।
  • आपकी वेबसाइट पूरी तरह से error free होनी चाहिए । इसके साथ ही यह समय समय पर update भी होनी चाहिए खासकर कि तब जबकि आप trending या dynamic topics पर पेज या पोस्ट लिख रहे हों ।
  • कोई भी technical error नहीं होनी चाहिए । इसके साथ ही आपकी वेबसाइट Quickly Load होना चाहिए ।
  • आपके वेबसाइट की reputation जैसे backlinks , positive user reviews , industry awards भी बेहतरीन होनी चाहिए ।
  • आपका कंटेंट किसी एक खास Niche पर हो जो यह बताया हो कि आप उस फील्ड में Expert हैं ।

Read Also –

अगर आप ऊपर दिए गए points को ध्यान में रखकर अपने वेबसाइट को फिर से update करते हैं तो आप Google के Fred के बारे प्रभाव से बच सकते हैं । तो यह रहा हमारा Google के Fred Algorithm Update पर detailed post . अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे शेयर करना न भूलें ।

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.