Distance Learning in Hindi – दूरस्थ शिक्षा प्राप्त कैसे करें

टेक्नोलॉजी के चहुमुखी विकास की वजह से शिक्षा के मायने अब पहले से काफी बदल गए हैं । आज कुछ वर्ष पहले के मुकाबले शिक्षा ज्यादा आसान, सरल और रोचक बन चुकी है और कई मायनों में काफी सस्ती भी । टेक्नोलॉजी के विकास ने ही Distance Learning को भी जन्म दिया है जिसके बारे में हम आज इस लेख में बात करेंगे ।

देश में कई शिक्षण संस्थान ऐसे हैं जो इच्छुक छात्रों को घर बैठे ही शिक्षा प्रदान कर रहे हैं । इसके लिए बस बढ़िया इंटरनेट कनेक्शन और मोबाइल/लैपटॉप होना चाहिए । साथ ही दूरस्थ शिक्षा का वार्षिक शुल्क भी काफी कम है इसलिए ज्यादा से ज्यादा छात्र अब डिस्टेंस लर्निंग को अपना रहे हैं ।

हालांकि आपको पता होना चाहिए कि Distance Learning के फायदे कई हैं तो कई नुकसान भी हैं । इसके साथ ही डिस्टेंस लर्निंग से जुड़े कुछ जरूरी नियम भी हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए । इस लेख में हम विस्तार से इस विषय पर आपको जानकारी देंगे । अगर आप दूरस्थ शिक्षा का फायदा उठाने की सोच रहे हैं तो आपको आर्टिकल अंत तक पढ़ना चाहिए ।

Distance Learning क्या है ?

Distance Learning को दूरस्थ शिक्षा भी कहा जाता है जो टेक्नोलॉजी की मदद से पूरी की जाने वाली शिक्षण प्रक्रिया है । इस शिक्षण प्रक्रिया में छात्रों और शिक्षकों को एक विशेष समय में एक विशेष स्थान पर उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं होती है । छात्र शिक्षक से दूर होते हुए भी टेक्नोलॉजी की मदद से शिक्षा हासिल कर पाते हैं ।

उदाहरण के तौर पर मान लेते हैं कि आप ने अपनी कक्षा 12वीं की पढ़ाई पूरी कर ली है । अब आपको किसी कॉलेज/यूनिवर्सिटी में दाखिला लेना है जोकि आपके घर से काफी दूर स्थित है । आप इतने सक्षम नहीं हैं कि कॉलेज या यूनिवर्सिटी जाकर शिक्षा प्राप्त कर सकें । तो इस परिस्थिति में आप Distance Learning Classes की मदद ले सकते हैं ।

आप चाहें तो दूरस्थ शिक्षा के लिए सबसे प्रचलित और लोकप्रिय Indira Gandhi National Open University यानि IGNOU में प्रवेश ले सकते हैं । प्रवेश लेने के उपरांत आपको सभी Learning Materials घर बैठे ही प्राप्त होंगे और ऑनलाइन कक्षाएं चलेंगी । आपको सिर्फ परीक्षा देने के लिए ही पूर्वनिर्धारित परीक्षा सेंटर पर जाना होगा । Distance Education के बारे में हम आगे विस्तार से समझेंगे ।

Distance Learning काम कैसे करता है ?

आपके मन में अक्सर यह प्रश्न आता होगा कि आखिर दूरस्थ शिक्षा काम कैसे करती है ? दूरस्थ शिक्षा की प्रक्रिया काफी सरल है । इसके लिए बस Updated Technology की ही आवश्यकता पड़ती है । अगर आपके पास बढ़िया इंटरनेट कनेक्शन और लैपटॉप/स्मार्ट फोन है तो आप डिस्टेंस लर्निंग के लिए पात्र हैं । इस प्रक्रिया में सबसे पहले किसी LMS यानि Learning Management Service की मदद ली जाती है ।

एक LMS में ढेरों अलग अलग फीचर्स होते हैं जैसे Quizze, Online Courses, Video Conferencing, Live Classes आदि । हालांकि कई दूरस्थ शिक्षण संस्थान LMS की सहायता न लेकर सिर्फ Zoom और Google Meet जैसे प्लेटफार्म की मदद से भी शिक्षा प्रदान करते हैं । इसके अलावा WhatsApp और Telegram जैसे प्लेटफार्म पर Learning Materials प्रदान किए जाते हैं ।

अगर शिक्षण संस्थान LMS की सुविधा देता है तो आपको एक प्लेटफॉर्म का User id और Password प्रदान किया जाएगा । आप प्लेटफॉर्म में लॉगिन करके Distance Learning Institution द्वारा प्रदान की जा रही सभी शिक्षण सामग्रियों को हासिल कर सकते हैं । साथ ही Online Attendance और Live Classes का विकल्प भी आपको यहां मिल जाता है ।

Types of Distance Learning in Hindi

मुख्य रूप से देखा जाए तो Distance Learning के कुल 2 प्रकार हैं । पहला Online Education Program और दूसरा Hybrid Education Program । इन दोनों के बारे में आप नीचे संक्षेप में पढ़ सकते हैं:

1. Online Education Program

कई ऐसे शिक्षण संस्थान हैं जो अपने छात्रों को सिर्फ और सिर्फ Online Learning की सुविधा ही प्रदान करते हैं । Study Materials हो या Educational Classes, सब कुछ ऑनलाइन ही प्रदान किया जाता है । इस परिस्थिति में ज्यादातर संभावना होती है कि संस्थान Learning Management System का उपयोग करता है ।

आप सिर्फ परीक्षा देने के लिए ही किसी परीक्षा केंद्र पर जायेंगे बाकी सबकुछ आपको घर बैठे ही प्राप्त होगा । कई बार घर बैठे ही टेस्ट की सुविधा भी प्रदान की जाती है । IGNOU इसी प्रकार की शिक्षा प्रदान करता है जहां छात्र घर बैठे शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं ।

2. Hybrid Education Program

Distance Learning का अगला प्रकार है Hybrid Education Program । पिछले 2 वर्षों से पूरा विश्व कोरोनावायरस महामारी के चपेट में था । इस समय सिर्फ और सिर्फ ऑनलाइन कक्षाएं और परीक्षाएं आयोजित की जाती रहीं । लेकिन जैसे ही स्तिथि थोड़ी सामान्य हुई तब कुछ कक्षाएं ऑनलाइन मोड में चलने लगीं और कुछ ऑफलाइन मोड में भी ।

अवश्य आपने भी अपने स्कूल या कॉलेज में यह अनुभव किया होगा कि महामारी का असर जब लगभग खत्म हो चला था तो Online और Offline दोनों मोड में कक्षाएं संचालित की जा रही थीं । इसे ही हम Hybrid Education Program कहेंगे ।

Distance Learning क्यों जरूरी है ?

Distance Learning कई कारणों से बेहद ही जरूरी है । खासकर कि वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए जब निकट भविष्य अनिश्चितताओं से भरा पड़ा है, ऐसे में Distance Education का महत्व कई गुना बढ़ जाता है । कई ऐसे छात्र हैं जो बड़ी बड़ी यूनिवर्सिटी या कॉलेज में दाखिला लेकर, रोज उपस्थित होकर पढ़ाई नहीं कर सकते हैं । ऐसे में डिस्टेंस लर्निंग उनके लिए फायदे का सौदा है ।

दूरस्थ शिक्षा काफी सरल भी है और सस्ती भी । कई ऐसे शिक्षण संस्थान भी हैं जो बिल्कुल मुफ्त में दूरस्थ शिक्षा प्रदान कर भी रहे हैं । ऑफलाइन कक्षाओं की सबसे बड़ी कमी यह है कि शिक्षक एक ही जानकारी को कई बार नहीं दोहरा सकता (भले वे कहते हों कि हजार बार पूछो, हजार बार बताएंगे) ।

कोई छात्र तेज गति से सीखता है तो कोई धीमी गति से । ऐसे में खासकर कि धीमी गति से सीखने वालों के लिए Distance Learning किसी वरदान से कम नहीं है । आप जब चाहें एक ही जानकारी को हजारों बार देख सकते हैं और सीख सकते हैं । कक्षाएं संचालित करते समय आपका भी भौतिक रूप से उपस्थित होना आवश्यक नहीं है ।

आप जब चाहें कक्षाएं पूरी कर सकते हैं और यहां तक कि Live Classes को रिकॉर्डेड वर्जन में भी देख सकते हैं । पारंपरिक शिक्षा के मुकाबले दूरस्थ शिक्षा काफी सस्ती भी है । उदाहरण के तौर पर अगर आप Bachelor of Commerce कोर्स Amity University से करते हैं तो आपको लगभग 4,50,600 रुपए देने होंगे तो वहीं IGNOU में इसी कोर्स के लिए लगभग 35,000 रुपए ही देने पड़ेंगे ।

Distance Education की कमियां

जहां Distance Learning Advantages हैं तो वहीं इसकी कई कमियां या खामियां भी हैं । दूरस्थ शिक्षा की सबसे बड़ी कमी व्यवहारिक ज्ञान का अभाव है । कई ऐसे कोर्स और कक्षाएं हैं जिनमें भौतिक रूप से उपस्थित रहकर अनुभव प्राप्त करना जरुरी होता है । लेकिन दूरस्थ शिक्षा में व्यवहारिक ज्ञान प्रदान करना या प्राप्त करना काफी मुश्किल हो जाता है ।

मान लेते हैं कि आप Medical या Medicine विषय की पढ़ाई पढ़ रहे हैं या आप Manufacturing विषय पर ज्ञान प्राप्त करना चाहते हैं । तो इन परिस्थितियों में दूरस्थ शिक्षा कोई खास मदद नहीं कर पाती है या अंततः शिक्षक और विद्यार्थियों को एक साथ एक समय पर भौतिक रूप से एकत्रित होना ही पड़ता है ।

Distance Learning में तुरंत या वास्तविक समय में Feedback प्राप्त करना काफी मुश्किल हो जाता है । उदाहरण के तौर पर ईमेल की मदद से असाइनमेंट या प्रोजेक्ट पूरा करके भेजने पर आपको फीडबैक प्राप्त होने में काफी समय लग सकता है । लेकिन वहीं Traditional Learning में आपको तुरंत ही फीडबैक दिया जा सकता है । इसके अलावा दूरस्थ शिक्षा में Evaluation करने में भी समस्याएं आती हैं ।

दूरस्थ शिक्षा के लिए मूलभूत आवश्यकता है बढ़िया इंटरनेट और साथ ही मोबाइल या लैपटॉप । बिना इनके आप ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त नहीं कर सकते हैं । लेकिन आपको अच्छे से पता है कि कई बार इंटरनेट कनेक्शन में दिक्कतें आती हैं तो कई बार लैपटॉप/मोबाइल ही ठीक ढंग से काम नहीं कर पाता है । ऐसे में हमेशा कनेक्ट रह पाना मुश्किल हो जाता है ।

Best Distance Learning Applications & Tools

Distance Education के लिए सही Applications & Tools का होना आवश्यक है । बढ़िया इंटरनेट कनेक्शन होना और एक स्मार्टफोन/लैपटॉप का होना मूलभूत आवश्यकताएं हैं । लेकिन इनके अलावा भी अन्य कई टूल्स की आवश्यकता पड़ती है जो Distance Learning को आसान और रोचक बनाते हैं । तो चलिए उनके बारे में एक एक करके जानते हैं ।

1. Learning Management System

Distance Learning के लिए LMS का होना आज के समय में बहुत ही जरूरी हो चुका है । ज्यादातर बड़े संस्थान जो दूरस्थ शिक्षा प्रदान कर रहे हैं, उनके पद खुद का Learning Management System अवश्य होता है । इंटरनेट पर ढेरों LMS हैं जिनकी सेवा आप ले सकते हैं, इनकी सूची है:

ऊपर दिए गए LMS से ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने की प्रक्रिया काफी आसान बनाई जा सकती है । इनकी मदद से छात्रों को एक ही प्लेटफॉर्म पर जगह दी जाती है और फिर उन्हें Study Materials प्रदान किए जाते हैं । साथ ही उन्हें समय समय पर Quizze, Tests भी दिए जाते हैं जिन्हें छात्र सिस्टम पर मौजूद रहकर ही पूरा करता है ।

2. Video Conferencing Tools

Live Classes और Doubt Classes के लिए वीडियो कान्फ्रेंसिंग की मदद भी ली जाती है । Video Conference की मदद से छात्रों को वास्तविक समय में शिक्षा प्रदान की जाती है, उनसे फीडबैक लिया जाता है और उनके प्रश्नों का उत्तर दिया जाता है । इसके लिए कुछ बढ़िया Softwares है :

इन Video Conferencing Softwares की मदद से डिस्टेंस लर्निंग में मदद मिलती है और छात्रों का शिक्षकों से समय समय पर संवाद भी होता रहता है ।

3. Learning Platforms

ढेरों ऐसे Online Learning Platforms भी हैं जो सीधे तौर पर Distant Education प्रदान कर रहे हैं । आपको बस इन प्लेटफार्म्स पर रजिस्टर करना है और फिर आप अपनी तैयारी या पढ़ाई शुरू कर सकते हैं । कई ऐसे प्लेटफार्म भी हैं जहां से आप बिल्कुल मुफ्त में पढ़ाई भी कर सकते हैं ।

  • Khan Academy
  • edX
  • Udemy
  • Simplilearn
  • Skillshare

यहां से आप लगभग सब कुछ आसानी से घर बैठे सीख सकते हैं । चाहे आप एक स्कूल छात्र हों या कॉलेज छात्र, आप सभी के लिए ये प्लेटफॉर्म काफी सहायक साबित होंगे ।

Distance Learning Universities & Colleges

भारत देश में ढेरों Distance Learning Universities और Colleges हैं जहां आप एडमिशन ले सकते हैं । इन कॉलेज या यूनिवर्सिटी की फीस बहुत कम होगी और आपको Proper Education सही स्टडी मैटेरियल के साथ प्रदान किया जायेगा । सबसे पहले आप डिस्टेंस लर्निंग प्रदान कर रहे कॉलेज और यूनिवर्सिटी की सूची देख सकते हैं ।

इसके उपरांत हम आपको बताएंगे कि आप IGNOU जोकि एक Open University या डिस्टेंस लर्निंग यूनिवर्सिटी है, उसमें एडमिशन कैसे ले सकते हैं ।

  • Indira Gandhi Open National University
  • Sikkim Manipal University
  • Madhya Pradesh Bhoj University
  • NMIMS Distance Education
  • Chandigarh University Distance Education
  • Acharya Nagarjuna University
  • Jamia Millia Islamia
  • Swami Vivekananda Subharti University

IGNOU में एडमिशन कैसे लें ?

जब भी Open University या Distance Learning की बात आती है तो सबसे पहला नाम IGNOU का आता है । आपने भी अवश्य ही यह नाम कई बार सुना होगा । यह एक शिक्षण संस्थान है जो दूरस्थ शिक्षा प्रदान करती है । अगर आप इस संस्था में प्रवेश पाना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना होगा:

Step 1. अपने पास सभी जरूरी दस्तावेज जैसे Passport Size Photo, Scanned Signature, Age Proof Scanned Copy, Education Qualification Copy, Category Certificate Copy और अगर हो तो BPL Certificate Copy रख लें ।

Step 2. इसके बाद आपको सबसे पहले IGNOU Admission Portal पर जाना होगा । यहां एक नए यूजर के तौर पर रजिस्ट्रेशन करें ।

Step 3. रजिस्ट्रेशन के वक्त मांगी गई सभी जानकारियां जैसे नाम, ईमेल एड्रेस, मोबाइल नंबर आदि सही सही भर दें ।

Step 4. Registration होते ही आपके ईमेल पर login details आ जायेंगे जिन्हें सुरक्षित रख लें । अब दोबारा पोर्टल पर आएं और उन्हीं डिटेल की मदद से लॉगिन करें ।

Step 5. लॉगिन करने के पश्चात आपको Admission Form दिखाई देगा । इसपर क्लिक करें और मांगी गई सभी जानकारियां जैसे आपकी Personal Details, Education Qualification, Contact Information आदि सही सही भर दें ।

Step 6. इसके बाद आपसे सारे Documents मांगे जाएंगे जिनकी जानकारी सबसे ऊपर दे दी गई है । सभी डॉक्यूकेंट्स को बताए हुए फॉर्मेट में अपलोड कर दें ।

Step 7. Documentation पूरी होने के पश्चात आपको Fee Payment करनी होगी । आप Internet Banking या Debit Card/Credit Card की मदद से फीस जमा कर सकते हैं ।

Step 8. अब आपको पूरे एप्लीकेशन फॉर्म का Preview दिखाई देगा जिसे प्रिंट करके अपने आप संभाल कर रख लें । इसकी आवश्यकता भविष्य में पड़ेगी ।

अगर आपके Admission को स्वीकार कर लिया जाता है तो आपको जल्द से जल्द SMS या Email के द्वारा Admission Confirmation Message आएगा । अगर आपका एडमिशन किन्हीं कारणों से रद्द कर दिया गया तो आपको आपके रुपए रिफंड कर दिए जायेंगे । पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन ही है इसलिए आपको कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी ।

जैसे ही आपको Admission स्वीकार कर लिया जाएगा, आपको एक Study Center अलॉट किया जाएगा । यहां से आप अपने एडमिशन और अन्य जरूरी जानकारियां प्राप्त कर पाएंगे । आपकी किताबें और आईडी कार्ड संभवतः पोस्ट ऑफिस से प्राप्त होगा । इसके बाद आप लगातार Study Centre से संपर्क में रहेंगे और आप सारे असाइनमेंट यही जमा करेंगे ।

पसंद आया ? शेयर करें 😊

Leave a comment