गूगल AMP को रैंक factor नहीं मानता है

क्या AMP गूगल में रैंक करने के लिए सबसे जरूरी Factor है

आपके मन में हमेशा यह प्रश्न उठता होगा कि क्या AMP गूगल में रैंक करने के लिए सबसे जरूरी factor है ? क्या गूगल AMP pages को गूगल में सबसे पहले रैंक करता है ? क्या AMP को अपने वेबसाइट में use करने से हमारी Site अच्छे पोजिशन पर रैंक होने लगेगी ? तो चलिए एक एक करके आपके सभी प्रश्नों का उत्तर देते हैं ।

इस पोस्ट में हम बात करेंगे कि AMP को गूगल ने क्यों Introduce किया ? क्या AMP एक गूगल रैंकिंग Factor है ? क्या आपको अपने वेबसाइट में AMP को एनाबल करना चाहिए ? तो चलिए शुरू करते हैं :

AMP को गूगल ने क्यों और कैसे introduce किया ?

चलिए सबसे पहले इसके timeline को देख लेते हैं कि यह कैसे Internet की दुनिया में गूगल द्वारा introduce किया गया :

  • गूगल ने 24 फरवरी , 2016 को Accelerated Mobile Pages ( AMP ) को लॉन्च किया था ।
  • गूगल ने 20 सितम्बर , 2016 को Accelerated Mobile Pages को अपने Search results में जोड़ दिया ।
  • 21 अगस्त , 2017 को इसका Development Phase 2 पूरा हो गया ।
  • 13 फ़रवरी , 2018 को AMP Stories को introduce किया गया था ।
  • वर्डप्रेस पर 7 दिसंबर , 2018 को Official Plugin को लॉन्च कर दिया गया ।

अब प्रश्न आता है कि AMP को गूगल ने introduce क्यों किया ? तो चलिए इसके कारणों को भी देख लेते हैं :

  • गूगल ने AMP को इसलिए Introduce किया ताकि इंटरनेट यूजर्स का user – experience बेहतर हो ।
  • AMP पेजेस को तैयार करना बहुत ही आसान होता है । हालांकि , यह तभी आसान है जब आप Blogging Platform wordpress या Drupal का उपयोग कर रहें हों ।
  • गूगल सर्च pages की loading time बढ़ें ताकि लोग ज्यादा से ज्यादा समय Internet Surfing में बिताएं । इसके साथ ही Google यूजर्स कंपनी से जुड़े रहें । क्योंकि मार्केट में Google के Competitors की एंट्री बहुत पहले ही हो चुकी है ।

क्या AMP एक गूगल रैंकिंग factor है ?

अब सवाल आता है कि क्या AMP Pages को गूगल अपने सर्च रैंकिंग में Priorities करता है ? क्या गूगल AMP पेजेस को ही सर्च रिजल्ट्स में सबसे पहले रखता है ? तो इसका उत्तर है नहीं !

यह पूरी तरह से एक अफवाह ( rumour ) है कि AMP गूगल में रैंक करने का एक जरूरी factor है ! इस बात को Google के Developer Martin Split ने खुद माना है । ये देखिए :

इसे Google के Webmaster Trends Analyst John Muller ने खुद माना है कि AMP गूगल में रैंक करने के लिए एक जरूरी Factor नहीं है :

तो आप समझ गए ही होंगे कि गूगल AMP पेजेस को Search Results में Prioritise नहीं करता है । हालांकि , गूगल Fast Loading को एक जरूरी रैंकिंग Factor मानता है परन्तु सिर्फ AMP होने भर की वजह से अगर आप सोचते हैं कि आपकी साइट गूगल में सबसे पहले रैंक होगी , तो , आप गलत हैं । इसके लिए गूगल Domain और Page Authority , SEO , High Quality Content इत्यादि को रैंकिंग Factor मानता है ।

क्या आपको अपने वेबसाइट में गूगल AMP का use करना चाहिए ?

अब प्रश्न उठता है कि क्या आपको अपने वेबसाइट में गूगल AMP को use करना चाहिए ? इस प्रश्न के उत्तर के लिए आपको सबसे पहले इसके Pros और Cons को अच्छी तरह से समझना होगा :

AMP के फायदे ( Pros ) :

तो सबसे पहले बात कर लेते हैं कि गूगल AMP के क्या फायदे हैं :

  • इसकी वजह से user – experience इंप्रूव होता है ।
  • यह Web Pages की Fast Loading करता है ।
  • यह Mobile Friendly वेबसाइट को रेंडर करने का काम करता है ।
  • इसकी वजह से साइट लोडिंग टाइम घटता है इसलिए Search Ranking improve होता है ( सिर्फ AMP का होना search ranking इंप्रूव नहीं कर सकता )

हमने पहले ही बता दिया है कि AMP Ready Themes कौन कौन से हैं । इसके साथ ही हम यह भी बता चुके हैं कि AMP को WordPress और Blogspot पर कैसे Enable किया जा सकता है ।

AMP के नुकसान ( Cons ) :

अब बात करते हैं इसके नुकसान की तो :

  • इसकी वजह से आपके वेबसाइट की Creativity बर्बाद हो जाती है ।
  • इसकी वजह से आप अपने वेबसाइट पर ज्यादा ads को Display नहीं कर सकते हैं ।
  • इसको enable करने के बाद आप पाएंगे कि Desktop और Mobile पर आपका Content अलग अलग तरह से Display हो रहा है ।
  • इसे आप Tracking Tools से सही तरीके से Track नहीं कर सकेंगे ।
  • अपने वेबसाइट पर AMP को Implement करना बिल्कुल भी आसान नहीं है ।

हमने ऊपर आपको Pros और Cons दोनों को अच्छे से समझाया । अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप Accelerated Mobile Pages को अपने वेबसाइट पर Use करना चाहेंगे या नहीं ।

तो यह रहा गूगल AMP के रैंक फैक्टर होने या न होने पर डिटेल्ड पोस्ट । अगर आपको Accelerated Mobile Pages से जुड़ी कोई भी समस्या आ रही है तो नीचे Comment करें , हम उस जरूर हल करेंगे । इसके साथ ही Newsletter को Subscribe करें और Notifications को Allow करें ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.