What is landmark meaning in Hindi ? लैंडमार्क क्या है कैसे पता करें

आपने अक्सर ” landmark ” शब्द सुना होगा परंतु क्या आप जानते हैं कि इसका क्या अर्थ है ? अगर आप online shopping करते हैं तो आपको अपने सामान की डिलीवरी एड्रेस में लैंडमार्क को भी भरना होता है । इसके अलावा भी आपने कई अवसरों पर इस शब्द को जरूर सुना होगा । परंतु इसका अर्थ क्या है ?

इसका अर्थ और इसे कैसे चिन्हित करें, उसकी पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में दी जाएगी । What is landmark meaning in Hindi के इस आर्टिकल में उदाहरण के साथ विस्तार पूर्वक जानकारी दूंगा । इसलिए आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें ।

What is landmark in Hindi ?

Image source: Pixabay

सीमाचिह्न या landmark एक वस्तु या जगह होती है जिसकी विशेषता यह है कि उसे आसानी से पहचाना जा सकता है । लैंडमार्क का हिंदी अर्थ सिमाचिन्ह होता है यानि कि उस स्थान का कोई विशेष चिन्ह जो उसे पहचान योग्य बनाता है । उदाहरण के तौर पर, आपके घर के पास स्कूल एक लैंडमार्क है ।

हम रोजमर्रा के जीवन में काफी सफर करते हैं । घर से ऑफिस/स्कूल/बाजार इत्यादि जगहों पर जाते हैं और उन सभी जगहों पर कोई न कोई चीज, वस्तु या चिन्ह ऐसा होता है जो उसे खास बनाता है । यहां पर ध्यान देने वाली बात यह है कि कुछ सिमाचिंह काफी मामूली होते हैं और उनका महत्व कम होता है ।

उदाहरण के तौर पर, अगर आपके घर के आसपास एयरटेल टावर है तो वह एक सामान्य सिमाचिन्ह कहलाएगा । इसके ठीक विपरीत, अगर आपके locality में कोई किला है, पुरातत्व से जुड़ी कोई साइट है, इतिहास से संबंध रखने वाली कोई वस्तु या बिल्डिंग है इत्यादि तो यह भी लैंडमार्क ही कहलाएगा जिसका महत्व ज्यादा होता है । इस तरह आप Landmark meaning in Hindi example समझ गए होंगे ।

Landmark optional in Hindi

मैंने पहले ही आपको बताया कि जब आप online shopping करते हैं तब आपको अपने पता के साथ साथ सिमाचिन्ह का विवरण भी देना होता है । इस वजह से डिलीवरी पार्टनर आपको आसानी से ढूंढ पता है । परंतु, यह optional होता है । आपने Landmark के साथ ही ब्रैकेट में optional लिखा हुआ देखा होगा जिसका अर्थ है कि इसे भरना आपके लिए वैकल्पिक है ।

आप चाहें तो इसे भर सकते हैं और नहीं भी भर सकते हैं । यह सिर्फ आपकी और दूसरे व्यक्ति की सहूलियत के लिए होता है ताकि आपके स्थान/पता पर आसानी से पहुंचा जा सके । परंतु यह optional यानि वैकल्पिक क्यों होता है ? इसका कारण यह है कि जरूरी तो नहीं कि हर व्यक्ति के आसपास कोई सिमाचिन्ह हो ही ।

उदाहरण के तौर पर, हो सकता है कि आपके घर के पास न कोई मंदिर हो और न ही कोई स्कूल । इसके अलावा, ऐसा कुछ भी चिन्ह नहीं है जिसकी वजह से आपकी लोकेलिटी को पहचाना जाता हो या प्रसिद्ध हो । ऐसे में व्यक्ति क्या करेगा ? इसलिए इसे *required यानि जरूरी न रखकर *optional यानि वैकल्पिक रखा जाता है ।

Indication of landmark in Army in Hindi

आपने अक्सर सुना या देखा होगा कि Army trainers & professionals को लैंडमार्क की पहचान करना सिखाया जाता है । आर्मी को अक्सर ढेरों operations में भाग लेना होता है और उन्हें ढेरों जगहों पर जाना भी होता है । कई सारे आर्मी के वीर जवानों को जंगलों और पहाड़ी इलाकों पर रहकर सुरक्षा आदि का कार्य करना होता है । ऐसे में, उन्हें अलग अलग लैंडमार्क और signs सीखते जाते हैं ताकि वे सही ढंग से सुरक्षा संभाल सकें ।

उदाहरण के तौर पर, मान लीजिए कि जिस क्षेत्र में आर्मी के जवान कार्यरत हैं वहीं पर नदी, पहाड़ और कुछ आवासीय घर हैं । ऐसे में, उन्हें नदियों, पहाड़ों और घरों की पहचान करने में सहूलियत देने और अपने क्षेत्र को सही से समझने के लिए लैंडमार्क के बारे में समझाया सिखाया जाता है । उदाहरण के लिए आप नीचे दिए इमेज को देख सकते हैं और समझ सकते हैं कि landmark को कैसे indicate किया जाता है ।

Image source : Education.com

लैंडमार्क के प्रकार

अगर हम बात करें types of landmark की तो यह दो प्रकार का होता है । चलिए इन दोनों प्रकारों के बारे में विस्तार से समझते हैं ।

1. प्राकृतिक

सबसे पहले स्थान पर natural landmark आते हैं यानि जिनकी उत्पत्ति या निर्माण प्राकृतिक कारणों से हुआ है । हमारे आसपास कई ऐसे सिमाचिन्ह हैं जिनका निर्माण प्रकृति की ही वजह से हुआ है । उदाहरण के तौर पर, पहाड़ । अब आप हर पहाड़ या पत्थरों के ढेर को महत्वपूर्ण लैंडमार्क नहीं कह सकते हैं । कंचनजंगा, नंदा देवी, त्रिशूल कुछ ऐसी पहाड़ या mountains हैं जिन्हें हम landmark कहते हैं ।

2. मानव निर्मित

कई सारे ऐसे लैंडमार्क हैं जो man made हैं । ज्यादातर मानव निर्मित सिमाचिन्ह ही हम अपने स्थान की पहचान के लिए उपयोग में लाते हैं । जैसे कि एयरटेल टावर के पास, परमाणु विभाग के पास, फुटबॉल स्टेडियम के सामने, शर्मा पैथोलॉजी लैब के पीछे… ये सभी मानव निर्मित लैंडमार्क हैं जिन्हें हम रोजमर्रा के जीवन में इस्तेमाल करते हैं । ये लैंडमार्क हमारे स्थान को कहीं न कहीं विशेष या पहचान योग्य बनाते हैं ।

अगर कुछ महत्वपूर्ण सीमाचिन्हों की बात करें तो Statue of Unity, Kutub Minar, Tajmahal इत्यादि हैं । इन्हें मानव द्वारा ही निर्मित किया गया है । मुझे पूर्ण आशा है कि आप सभी बातों को समझ रहे होंगे और अबतक आप landmark meaning समझ गए होंगे ।

Conclusion

मैं आशा करता हूं कि मैंने What is landmark meaning in Hindi से जुड़े सभी प्रश्नों का उत्तर दे दिया है । अगर आपको इस विषय से प्रश्न पूछना है या कोई doubt है तो कॉमेंट में जरूर पूछें । इसके अलावा आप अपनी राय, सुझाव भी कॉमेंट में से सकते हैं ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर करना न भूलें । ज्यादा से ज्यादा लोगों तक मुफ्त में मिल रही जानकारियां शेयर करें ताकि लोग जागरूक हो सकें और डिजिटल साक्षरता से जुड़ सकें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.