Smallcase in Hindi – स्मॉलकेस से निवेश कैसे करें

Smallcase को समझने से पहले जरा भारत के Middle Class पर गौर करें । आने वाले 15 सालों में मिडल क्लास परिवारों की जनसंख्या में 45 करोड़ लोग जुड़ने वाले हैं । बढ़ती जनसंख्या के साथ साथ मिडल क्लास की आय में भी वृद्धि हो रही है । पहले की अपेक्षा मिडल क्लास के लोग अब luxury goods और services पर रुपए खर्च कर रहे हैं ।

उदाहरण के तौर पर महंगे होटलों में खाना, महंगी गाड़ियां खरीदना, बेहतर शिक्षण संस्थानों में शिक्षा प्राप्त करना आदि । यानि इन क्षेत्रों से जुड़ी कंपनियों को आन वाले समय में काफी फायदा पहुंचने वाला है । आप अगर चाहें तो इस फायदे का हिस्सेदार बन सकते हैं The Great Indian Middle Class आइडिया में इन्वेस्ट करके ।

बस यही तो है Smallcase, जो theme-based portfolios हैं । यानि आप किसी स्टॉक में निवेश नहीं करते हैं बल्कि एक आइडिया या थीम में निवेश करते हैं । उस आइडिया या थीम से जुड़ी कंपनियों को आपके निवेश का एक निश्चित धनराशि प्राप्त होती है और आपका पूरा निवेश स्मॉलकेस ही मैनेज करता है ।

Smallcase क्या है ?

Smallcase आपको बाजार पूंजीकरण के आधार पर शेयरों के बजाय विचारों में निवेश करने में सक्षम बनाता है । अगर आपको लगता है कि आने वाले समय में गांवों का विकास होगा, गांवों का कायाकल्प होगा और ग्रामीण क्षेत्र से संबंधित कंपनियां मुनाफा कमाएंगी तो आप स्मॉलकेस के Rising Rural Demand में निवेश कर सकते हैं ।

यानि आप एक आइडिया या विचार में निवेश कर रहे हैं न कि किसी एक स्टॉक में । आपके द्वारा निवेश की गई कुल धनराशि को स्मॉलकेज कई हिस्सों में बांट देता है और आपके फायदे को ध्यान में रखते हुए उसे विचार से सम्बन्धित कंपनियों में निवेश कर देता है ।

स्मॉलकेस उन निवेशकों के लिए एक अच्छा निवेश विकल्प है, जिन्हें शेयर बाजारों की उचित समझ है और वे Fund Management Fee का भुगतान किए बिना पोर्टफोलियो में निवेश करना चाहते हैं । अगर आप निवेश शुरू करना चाहते हैं और आपको इसके बारे में कुछ भी नहीं पता तो बेहतर होगा कि आप Mutual Funds की ओर रुख करें ।

Smallcase VS Mutual Funds

देखा जाए तो Mutual Funds और Smallcase दोनों एक जैसे ही कांसेप्ट पर आधारित हैं । लेकिन दोनों के बीच कुछ बेसिक अंतर हैं जिन्हें समझ लेना जरूरी है ।

1. स्मॉलकेस में शेयरों को सीधे निवेशक के डीमैट खाते में जमा किया जाता है । निवेशक के पास आवश्यकता पड़ने पर स्मॉलकेस के किसी भी शेयर को खरीदने या बेचने का विकल्प होता है । तो वहीं म्यूचुअल फंड में कोई यह नहीं चुन सकता कि ये फंड किन शेयरों में निवेश करते हैं ।

2. Smallcase में डीमैट खाते में शेयरों को जमा किया जाता है और कोई भी लाभांश निवेशक के बैंक खाते में दिखाई देता है । तो वहीं Mutual Funds में निवेशकों को म्यूचुअल फंड की इकाइयाँ दी जाती हैं न कि पोर्टफोलियो के शेयर । निवेशक को डीमैट खाता खोलने की कोई आवश्यकता नहीं है ।

3. Smallcase म्यूचुअल फंड की तुलना में ज्यादा जोखिम भरे होते हैं इसलिए शुरुआती दौर के निवेशकों को इससे दूर रहने की सलाह दी जाती है । तो वहीं म्यूचुअल फंड में कम जोखिम होता है । फंड मैनेजर जोखिम से बचने के लिए कई रणनीतियां अपनाते हैं और नियमित समीक्षा और निगरानी सुनिश्चित करते हैं ।

4. स्मॉलकेस में लॉक-इन अवधि नहीं होती है, और इस प्रकार कोई अतिरिक्त exit load charges नहीं होता है । दूसरी तरह म्यूचुअल फंड्स में लॉक इन अवधि होती है और निवेशक को exit load charges भी देने पड़ते हैं ।

5. Smallcase में निवेशक को निवेश करने और पोर्टफोलियो तैयार करने के लिए एक बड़ी धनराशि चाहिए होती है । जबकि म्यूचुअल फंड्स में काम धनराशि से भी निवेश करके पोर्टफोलियो बनाया जा सकता है । कम से कम आप 5,000 रुपए आप एक बारे में निवेश कर सकते हैं तो वहीं 500 रुपए SIP आप निवेश कर सकते हैं ।

Smallcases List in Hindi

देखा जाए तो आपके पास ढेरों Smallcases हैं जिनमें आप निवेश कर सकते हैं । लेकिन हम आपको सिर्फ उन्हीं स्मॉलकेस की जानकारी देंगे जिनमें सबसे ज्यादा निवेश किया जाता है और जो सबके लिए PERFECT हैं ।

1. All Weather Investing

अगर आप सिर्फ और सिर्फ फायदे में रहना चाहते हैं और कम धनराशि से निवेश करना चाहते हैं तो All Weather Investing आपके लिए ही है । यह स्मॉलकेस सभी प्रकार की बाजार स्थितियों के लिए आदर्श है । यह सुनिश्चित करता है कि आप न घाटे में जाएं और न ही आपको काफी ज्यादा निवेश करने की आवश्यकता पड़े ।

अगर आप long term investment की तलाश में हैं जिसमें आपको मुनाफा ही मुनाफा हो तो इसे चुन सकते हैं । यह स्मॉलकेस 3 एसेट क्लास-इक्विटी, डेट और गोल्ड में निवेश करता है ।

2. Top 100 Stocks

ज्यादातर Smallcase Investors की सबसे पसंदीदा पोर्टफोलियो Top 100 Stocks है । इस पोर्टफोलियो में भारत की 100 सबसे दमदार कंपनियों को रखा गया है जिनमें आप काफी कम धनराशि से निवेश शुरू कर सकते हैं ।

इस पोर्टफोलियो में देश की बड़ी बड़ी कंपनियां शामिल हैं इसलिए आपके पैसे डूबने की संभावना कम ही है । अगर आप long term wealth creation पर ध्यान देना चाहते हैं तो यह पोर्टफोलियो आपके लिए आदर्श है ।

3. Equity & Gold

Equity & Gold Smallcase Portfolio उनके लिए अच्छा है जो काफी कम धनराशि से निवेश शुरू कर सकते हैं । वर्तमान में इस पोर्टफोलियो में आप ₹279 से भी निवेश कर सकते हैं । इसमें आपको कुल 16.02% का CAGR यानि Compound annual growth rate मिलता है ।

यह स्मॉलकेस इक्विटी और गोल्ड में निवेश करता है, जिसमें 70% इक्विटी में निवेश किया जाता है तो 30% सोने में । Equity और Gold आपके पोर्टफोलियो को हमेशा बैलेंस रखने में भी कारगर साबित होंगे और आपको लंबी अवधि में अच्छा फायदा होगा ।

4. Green Energy

देश दुनिया में Green Energy पर काफी चर्चाएं हो रही हैं और विभिन्न देश ग्रीन एनर्जी को प्रमोट करने के लिए कई कदम उठा रहे हैं । ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले समय में ग्रीन एनर्जी से जुड़ी कंपनियों को काफी फायदा होगा । ऐसे में आप भी इस फायदे के हिस्सेदार बन सकते हैं Smallcase के इस पोर्टफोलियो की मदद से ।

हालांकि इसका Investment Amount काफी ज्यादा है और यह पोर्टफोलियो High Volatility में आता है । इस पोर्टफोलियो में निवेश करने के लिए फिलहाल आपको ₹58,615 देने होंगे । हालांकि इसका 1 वर्ष का Compound annual growth rate 86.33% है यानि अगर सबकुछ बढ़िया रहा तो आप मालामाल हो जाएंगे ।

5. TAARE ZAMEEN PAR

नहीं, यह बॉलीवुड फिल्म तारे जमीं पर नहीं बल्कि Smallcase का पोर्टफोलियो है । अगर आप long term investment में रुचि रखते हैं और एक छोटी धनराशि हर महीने निवेश करना चाहते हैं तो यह पोर्टफोलियो आपके लिए बेहतर है । इस स्मॉलकेस के अंतर्गत कुल 7 Independent Stocks रखे गए हैं जो अलग अलग सेक्टर्स के हैं ।

आप इस पोर्टफोलियो में मात्र ₹1,207 से निवेश शुरू कर सकते हैं । सबसे अच्छी बात यह है कि इतनी कम धनराशि निवेश करने के पश्चात भी आपको दो वर्ष का CAGR 68.07% मिलता है । इसके साथ ही यह पोर्टफोलियो Low Volatility में आता है यानि आपको नुकसान होने की संभावना काफी कम ।

Smallcase Supported Brokers

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया, Smallcase Portfolios में निवेश करने के लिए आपको Demat Account की जरूरत पड़ेगी । इससे आप अपने स्टॉक्स और पोर्टफोलियो पर ज्यादा कंट्रोल रख पाते हैं और आप तय कर पाते हैं कि किस स्टॉक को कब खरीदना और कान बेचना है । इन्वेस्टमेंट की दुनिया पर मौजूद लगभग सभी Too Brokers को स्मॉलकेस सपोर्ट करता है ।

  • 5Paisa
  • Alice Blue
  • Angel One
  • Zerodha
  • Dhan
  • Axis Securities
  • Groww
  • HDFC Securities
  • Upstox
  • Motilal Oswal
  • Kotak Securities
  • IIFL
  • ICICIDirect
  • FundzBazar
  • Trustline
  • Edelweiss

अगर आप विस्तार से जानना चाहते हैं कि Smallcase Brokers List में कौन कौन शामिल है और इनके फीचर्स क्या हैं, तो आप यह Sheet देख सकते हैं । इसमें विस्तार से सभी स्मॉलकेस ब्रोकर्स की सूची दी गई है और साथ ही उनके विभिन्न फीचर्स की जानकारी भी दी गई है ।

Interested Articles:

Smallcase से निवेश कैसे करें ?

अगर आप Smallcase की मदद से निवेश करने का मन बना चुके हैं तो आपको निम्नलिखित Steps ध्यान में रखने चाहिए । इस प्रकार आप आसानी से प्लेटफॉर्म इस्तेमाल कर पाएंगे और सही ढंग से निवेश भी कर सकेंगे ।

1. Smallcase Website पर जाएं और Login पर क्लिक करें ।

2. अगर आपके पास पहले से ही Broker Account है तो आप आसानी से इस ब्रोकर अकाउंट की जानकारियां डाल कर लॉगिन कर सकते हैं ।

3. अगर आपके पास पहले से Broker Account नहीं है तो स्मॉलकेस द्वारा दी गई ब्रोकर लिस्ट से किसी एक ब्रोकर का चुनाव करें । मान लेते हैं कि आप Groww को चुनते हैं तो आप ग्रो वेबसाइट पर redirect हो जायेंगे ।

4. ब्रोकर की वेबसाइट पर आपको एक अकाउंट बनाना होगा और सभी जरूरी जानकारियां देनी होंगी । जैसे ही आपका डीमैट अकाउंट बनकर तैयार हो जाता है, आप इस अकाउंट के लॉगिन डिटेल्स की मदद से स्मॉलकेस में भी लॉगिन कर सकते हैं ।

5. लॉगिन होते ही आपके सामने ढेरों theme-based portfolios डिस्प्ले होंगी । आप उनमें से कोई भी स्टॉक चुनकर उन्हें अपने मन से कस्टमाइज कर सकते हैं । आप अपनी पसंद की पोर्टफोलियो पर क्लिक करके सारी जानकारी ले सकते हैं ।

6. जब आप किसी पोर्टफोलियो को फाइनल कर देंगे तो आपको भुगतान करना होगा । आप अपने चुने हर पोर्टफोलियो के हिसाब से minimum amount का भुगतान करेंगे ।

7. जैसे ही आप पेमेंट करेंगे, ब्रोकर प्लेटफॉर्म आपके द्वारा खरीदे गए स्टॉक्स के लिए आर्डर प्लेस कर देगा । यह प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरी होती है और आप स्टॉक्स के मालिक हो जायेंगे ।

आपको ध्यान रखना है की Smallcase भी आपसे One Time Payment लेता है । यानि कि आपको स्मॉलकेस इस्तेमाल करने और पोर्टफोलियो में निवेश करने के लिए सिर्फ एक बार भुगतान करना होगा । इसके अलावा Brokerage Charges और अन्य Regular Charges भी आपको देने होंगे ।

बात करें Charges of Smallcase की तो आपको ₹100 + GST या निवेश की गई राशि का 2.5% जो भी इन 2 में से खरीद के दिन कम हो का भुगतान करना होगा ।

FAQs

Smallcase और निवेश से जुड़े कुछ प्रश्न अक्सर इंटरनेट पर पूछे जाते हैं । उन सभी प्रश्नों की सूची बनाकर उनके उत्तर सरल और संक्षेप में नीचे दिए गए हैं । अगर आपके मन में भी कोई प्रश्न है तो आप कॉमेंट करके पूछ सकते हैं ।

Q1. Smallcase क्या है ?

Smallcase आपको बाजार पूंजीकरण के आधार पर शेयरों के बजाय विचारों में निवेश करने में सक्षम बनाता है । म्यूचुअल फंड के विपरीत, स्मॉलकेस आपको ट्रेंडिंग मार्केट थीम के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं ।

Q2. Smallcase Charges क्या है ?

स्मॉलकेस प्लेटफार्म्स के इस्तेमाल के लिए आपको One Tine Payment करना होता है । आपको ₹100 + GST या निवेश की गई राशि का 2.5% जो भी इन 2 में से खरीद के दिन कम हो का भुगतान करना होगा ।

Q3. क्या स्मॉलकेस के माध्यम से खरीदे गए स्टॉक मेरे पोर्टफोलियो में दिखाई देंगे ?

हाँ, Smallcase के लिए दिया गया कोई भी खरीद या बिक्री ऑर्डर ट्रेडिंग के अगले दिन आपके पोर्टफोलियो में दिखाई देगा ।

Q4. सबसे बेहतरीन Smallcases कौन से हैं ?

कुछ बेहतरीन स्मॉलकेस पोर्टफोलियो इस प्रकार हैं:
1. All Weather Investing
2. TAARE ZAMEEN PAR
3. Top 100 Stocks
4. Green Energy
5. Equity and Gold

Q5. Smallcase Supported Brokers कौन हैं ?

कुछ मुख्य Smallcase Supported Brokers इस प्रकार हैं:
1. 5Paisa
2. Zerodha
3. Groww
4. Upstox
5. Motilal Oswal

Conclusion

अगर आप निवेश के क्षेत्र में नए हैं तो आपको Smallcase से बचकर रहना चाहिए । जरूरी है कि आप सबसे पहले निवेश के बारे में सारी जरूरी बातें समझें और तब जाकर स्मॉलकेस की तरफ रुख करें । इसके अलावा स्मॉलकेस में आमतौर पर काफी धनराशि की आवश्यकता पड़ती है इसलिए जरूरी है कि आप जोखिमों को ध्यान रखते हुए ही आगे बढ़ें ।

उम्मीद है कि आपको ऊपर दी गई जानकारी पसंद आई होगी । अगर आपके मन में इस विषय से संबंधित कोई भी प्रश्न है तो आप नीचे कॉमेंट करके पूछ सकते हैं । आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें ।

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.