A Private Life is a Happy Life Meaning in Hindi

अगर आप अपने जीवन में कम drama चाहते हैं, किसी से फालतू बहस झगड़ा नहीं चाहते, सुकून से जीना चाहते हैं तो इसका एक ही उपाय है, Private Life । प्राइवेट लाइफ का यह अर्थ बिल्कुल भी नहीं है कि आप बिल्कुल भी लोगों से मिलना जुलना बंद कर दें और खुद को एक कमरे में बंद कर दें । बल्कि खुद को कितना socialise करना है और कितना नहीं, इसे समझना है ।

अक्सर लोग A Private Life is a Happy Life का यह अर्थ निकाल लेते हैं कि दुनिया से दूर हो जाना चाहिए, दूसरों से कोई भी बात सांझा नहीं करनी चाहिए, इत्यादि । लेकिन सही मायनों में इसका अर्थ यह है कि आप अपने जीवन में निजता को कितना महत्व देते हैं । इसके बारे में इस लेख में हम विस्तार से बात करेंगे ।

What is a Private Life ?

Private Life यानि निजी जीवन का साधारण सा अर्थ यह है कि आप अपनी निजी जानकारियां, पसंद नापसंद, सपनें, आपकी रोजमर्रा के जीवन को अपने तक ही रखते हैं, उसे पब्लिक से दूर रखते हैं । यानि अन्य लोग आपके सोच, विचार और इच्छाओं के बारे में कम जानते हैं और इस तरह आप कठपुतली बनने से बच जाते हैं ।

आपने अक्सर उन लोगों को देखा होगा जो अपने जीवन में घट रही पल पल की घटना को सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं । उनके जीवन की हर छोटी बड़ी घटना उनके सोशल मीडिया प्रोफाइल में पब्लिश होती है और वे एक खुली किताब की तरह होते हैं । शायद “मेरा जीवन एक खुली किताब की तरह है” कहने में cool लगता हो लेकिन इसी के साथ उनके जीवन में बेवजह का drama बढ़ जाता है ।

जितना ज्यादा लोग आपके जीवन में होंगे, उन्हें आपके बारे में पता होगा उतना ही वे आपका बारे में अपनी राय बनाएंगे । सबकी अपनी अपनी राय है और हां, हमें सबकी राय अच्छी नहीं लगती है । हम जब अपने जीवन को खुली किताब की तरह रखते हैं या ज्यादा से ज्यादा लोगों से जुड़ने की कोशिश करते हैं तो हमारा जीवन अशांत हो जाता है । हालांकि यहां पर उनकी बात नहीं हो रही है जिनके लिए socialise होना पेशा या फायदे का सौदा है ।

A Private Life is a Happy Life Meaning in Hindi

A Private Life is a Happy Life

A Private Life is a Happy Life का हिंदी अर्थ है कि एक निजी जीवन एक सुखी जीवन है । हालांकि यह दोबारा याद दिलाने वाली बात है कि आप इस पंक्ति को गलत तरीके से न लें । इस पंक्ति का बिल्कुल भी यह अर्थ नहीं है कि आप कुछ भी न करें, खुद को बिल्कुल isolate कर दें या नए लोगों से बिल्कुल भी न जुड़े । इसका अर्थ यह है कि आप अपने जीवन के हर पल को दूसरों से न बांटें, गैर जरूरत लोगों से न जुड़ें ।

निजी जीवन आपको खुद से प्यार करना सिखाता है, आप खुद को ज्यादा समय दे पाते हैं । सोशल मीडिया पर दिनभर अपने जीवन के अपडेट्स देने का अर्थ यह है कि आप दूसरों को खुश रखने या दूसरों की राय में ज्यादा रुचि लेते हैं । यानि आप खुद से प्यार करना तो बिलकुल भूल ही जाते हैं । आपने अक्सर ऐसे लोगों को देखा होगा जो रेस्टोरेंट में खाते वक्त भी तस्वीरें लेते रहते हैं लेकिन वे भोजन को एंजॉय नहीं करते । बल्कि भोजन के साथ आई तस्वीर पर लाइक से उनके चेहरे पर बड़ी सी स्माइल आ जाती है ।

लेकिन अगले ही पल जब कोई आपके पहनावे, भोजन या किसी अन्य चीज पर कुछ नकारात्मक लिख दे तो वही स्माइल उदासी में तब्दील हो जाती है । कहने का अर्थ सिर्फ इतना है कि आप जितना ज्यादा दूसरों को खुश रखने के लिए अपने जीवन के हर अपडेट्स शेयर करेंगे, आपका जीवन उतनी ही अशांति से भर जाएगा । उम्मीद है कि आपको A Private Life is a Happy Life Meaning in Hindi समझ आ गया होगा ।

निजी जीवन के फायदे

एक Private Life के कई फायदे होते हैं और सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप खुद को प्राथमिकता के तौर पर देखते हैं और खुद को भी समय दे पाते हैं । चलिए एक निजी जीवन के फायदे समझते हैं और जानते हैं कि A Private Life is a Happy Life क्यों होता है ?

1. शांत जीवन

एक निजी जीवन का सबसे बड़ा फायदा ही यही होता है कि आप शांतिमय जीवन व्यतीत कर पाते हैं । हम सभी के धर्म, राजनीति, देश आदि कई मुद्दों पर राय हैं और वे अलग अलग हो सकती हैं । जबतक कि आप उसे अपने तक रखते हैं, तब तक सब कुछ सही रहता है । लेकिन जैसे ही आप उसे पब्लिकली लोगों से शेयर करना शुरू कर देते हैं तभी से लोग आपके बारे में राय बनाना शुरू कर देते हैं ।

कुछ लोग यह भी कहेंगे कि हमने The Subtle Art of Not Giving a F*ck पढ़ रखी है और हमें दूसरों की राय से फर्क नहीं पड़ता । लेकिन फिर हम भी यही कहना चाहेंगे कि prevention is better than cure यानि किसी चीज़ को होने के बाद हुए नुकसान को ठीक करने की तुलना में पहली बार में किसी चीज़ को होने से रोकना आसान है । आप कितनी भी कोशिश कर लें लेकिन लोगों की राय/विचार आपको प्रभावित अवश्य करती है ।

2. आत्मप्रेम

आत्मप्रेम यानि self love किसी भी व्यक्ति के मानसिक और आध्यात्मिक विकास के लिए महत्वपूर्ण है । आत्म प्रेम यानि खुद पर विश्वास, खुद से जुड़ाव और खुद से ईमानदारी । जब आप खुद की खुशियों और अपने बारे में अपनी राय के बारे में ज्यादा चिंतित होते हैं तो उसे आत्म प्रेम कहा जाता है । A Private Life is a Happy Life इसलिए ही कहा जाता है क्योंकि यह आपको खुद से प्रेम करना सिखाता है ।

एपिकुरस ने कहा है कि

अन्य सभी प्रेम आत्म-प्रेम के सामने बौने हैं; उपकार, मानवता, न्याय, दर्शन, सब कुछ आत्मप्रेम के बाद आते हैं ।

3. आपकी समझ विकसित होती है

Private Life आपकी समझ को विकसित करने में काफी सहायक है । आप न सिर्फ खुद को अहमियत देने लगते हैं बल्कि उन्हें भी समझते और अहमियत देते हैं जो आपके करीब हैं, आपके लिए महत्वपूर्ण हैं । निजी जीवन आपके आध्यात्मिक विकास के लिए बहुत सहायक होता है । जब आप बाहरी दुनिया से जरूरत भर का नाता रखकर खुद के आसपास जरूरी लोगों पर ध्यान देना शुरू करते हैं तो उनके साथ रिश्तों में प्रगाढ़ता आती है ।

दुनियाभर की राय के बारे में जानने के लिए हम इतने उतावले होते हैं कि हम अपने जीवन के महत्वपूर्ण किरदारों को भूल जाते हैं । लेकिन जब आप बाहरी दुनिया से अपना संपर्क कम करते हैं तो अपने करीबियों से जुड़ना शुरू कर देते हैं जो सच में आपके लिए जरूरी हैं, आपके लिए मायने रखते हैं ।

4. निजता

निजी जीवन जीना आपके निजता का हनन को रोकता है । निजता का हनन जिसे हम breach of privacy भी कहते हैं, वर्तमान के डिजिटल युग में एक समस्या बन चुका है । हम इतना ज्यादा सोशल हो चुके हैं कि कोई भी राह चलता व्यक्ति मात्र कुछ ही क्लिक में हमारे जीवन के पन्ने खोलकर रख सकता है । हमारी निजता हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जिससे हम भावनात्मक रूप से जुड़े होते हैं ।

जब हम public life चुनते हैं तो न सिर्फ अशांति को बुलावा देते हैं बल्कि कई परेशानियां भी खड़ी हो जाती हैं । कुछ ही समय पहले की खबर है कि एक परिवार सोशल मीडिया पर घर से बाहर पार्टी में जाने का अपडेट देता है और इसी रात उनके घर में चोरी हो जाती है । अन्य गंभीर अपराध की खबरें भी इसी प्रसंग से निकलकर सामने आती हैं ।

5. नौकरी और व्यवसाय

Careerbuilder की एक रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 70% Employers किसी भी व्यक्ति को नौकरी पर रखने से पहले उनकी ऑनलाइन जानकारियां खंगालते हैं । उन 70% में से लगभग 54% ऐसे भी एंप्लायर हैं जो व्यक्ति के सोशल मीडिया प्रोफाइल को देखकर उन्हें काम पर नहीं रखते हैं । यानि कि आपके सोशल मीडिया प्रोफाइल पर पब्लिश किसी पोस्ट/तस्वीर से आपको judge किया जाता है ।

आप बिल्कुल भी ऐसा नहीं चाहते होंगे कि आपकी एक पुरानी गलती आपका पूरा भविष्य बर्बाद कर दे । वर्तमान समय में सबके अपने अपने opinion हैं और इससे देश दुनिया की बड़ी बड़ी कंपनियां भी अछूती नहीं रही हैं । इस परिस्थिति में अगर आपके विचार उनके विचारों से मेल नहीं खाते तो आपको काम पर नहीं रखा जायेगा और जरूरी नहीं कि यह सबकुछ profession से जुड़ा हुआ हो ही ।

इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि निजी जीवन जीने के महत्व को समझें और अगर आप A Private Life is a Happy Life का एक उदाहरण बनना चाहते हैं तो निजी जीवन जीना शुरू कर दें । आप सभी के इस विषय पर अलग अलग विचार हो सकते हैं, प्रश्न हो सकते हैं जिसे आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं ।

Conclusion on A Private Life is a Happy Life

A Private Life is a Happy Life क्यों कहा जाता है इसका उत्तर आप जान गए होंगे । आपका जीवन पूरी तरह आपका ही है और आप इसे जैसे चाहे वैसे जी सकते हैं । इसलिए अगर आपको कोई छुपा रुस्तम कहे तो ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है बल्कि खुश होने की जरूरत है क्योंकि इसकी वजह से आपके जीवन में कई सकारात्मक बदलाव आए ।

हमें उम्मीद है कि आपको A Private Life is a Happy Life Meaning in Hindi समझ आ गया होगा । अगर इस विषय से संबंधित कोई भी प्रश्न आप पूछना चाहते हैं तो कॉमेंट कर सकते हैं । आपके इस विषय पर क्या विचार हैं उसे भी आप कॉमेंट के माध्यम से रख सकते हैं । अगर लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.