Conspiracy Theory Meaning in Hindi – षड्यंत्र सिद्धांत क्या है ?

हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की मृत्यु पर कई प्रश्न खड़े किए जाते हैं । उनकी मृत्यु के पश्चात अलग अलग लोगों ने अपने अपने हिसाब से मृत्यु के कारण गिनाए । यहां तक कि आज भी उनकी मृत्यु के कारण के बारे में कोई नहीं जान पाया है । इसी तरह सुभाष चन्द्र बोस जी की मृत्यु हुई थी या नहीं, इसपर भी कई प्रश्न खड़े किए जाते हैं । इन्हीं प्रश्नों को हम Conspiracy Theory का एक हिस्सा कह सकते हैं ।

षडयंत्र सिद्धांत एक ऐसा सिद्धांत है जिसमें लोग किसी घटना के सामान्य पहलू को नहीं मानते हैं और उन्हें ऐसा लगता है कि घटना से संबंधित कोई राज है जिसे छुपाया जा रहा है । भारत में होमी जहांगीर भाभा, लाला बहादुर शास्त्री, सुभाष चन्द्र बोस, की मृत्यु के पीछे किए जा रहे सामान्य दावों को भारत का एक बड़ा वर्ग खारिज करता है और मानता है कि कोई सच है जो छुपाया गया है ।

Conspiracy Theory Meaning in Hindi

षडयंत्र सिद्धांत

Conspiracy Theory को हिंदी में षडयंत्र सिद्धांत कहा जाता है । यह सिद्धांत किसी घटना के सामान्य स्पष्टीकरण (explanation) को खारिज कर देता है और मानता है कि घटना के पीछे किसी गुप्त समूह या संस्था की गुप्त साजिश है । भारत सहित पूरी दुनिया में ऐसे षडयंत्र सिद्धांतों की संख्या अनगिनत है ।

उदाहरण के तौर पर हम अपने देश भारत के महान वैज्ञानिक होमी जहांगीर भाभा की मृत्यु को ले सकते हैं । उनकी मृत्यु एक प्लेन क्रैश में Mont Blanc के पास हुई थी । रिपोर्ट में कहा गया कि Geneva Airport और पायलट के बीच गलतफ़हमी की वजह से प्लेन क्रैश हुआ और भाभा जी की मृत्यु हुई । लेकिन भारत का एक बड़ा तबका ऐसा बिल्कुल नहीं मानता है ।

इससे जुड़ी Conspiracy Theory यह है कि भाभा जी भारत के न्यूक्लियर प्रोग्राम से जुड़े हुए थे और भारत को न्यूक्लियर संपन्न देश बनाना चाहते थे । लेकिन अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA यानि Central Investigation Agency को यह बिल्कुल भी पसंद नहीं था । इसलिए CIA ने ही उनकी हत्या करने की पूरी साजिश रची थी और इस तर्क का समर्थन करने के लिए कई किताबें, दस्तावेज भी रिलीज किए जा चुके हैं ।

क्या Conspiracy Theory हमेशा गलत होती है ?

अक्सर Conspiracy theory को गलत ठहरा दिया जाता है और कहा जाता है कि यह लोगों का भ्रम मात्रा है । हालांकि ऐसा नहीं कहा जा सकता कि सभी षडयंत्र सिद्धांत सही ही हैं लेकिन कुछ ऐसी घटनाएं भी देश दुनिया में घटती हैं जिनका साधारण स्पष्टीकरण आसानी से हजम करने वाला नहीं होता है । किसी घटना के पीछे षडयंत्र के होने की संभावना तब और बढ़ जाती है जब स्पष्टीकरण असामान्य, विसंगत और बेबुनियाद हो ।

दुनिया भर में कई बड़ी घटनाएं घटित हुई हैं और अगर आप उनके स्पष्टीकरण को पढ़ें तो काफी चीजें आपको अपने आप ही समझ में आने लगती हैं । भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की मृत्यु से संबंधित दस्तावेजों को अभी तक declassify यानि पब्लिक डोमेन में नहीं लाया गया है । इससे षडयंत्र सिद्धांत को अधिक बल मिलता है और घटना के पीछे की साजिश के सिद्धांत का दावा पुख्ता हो जाता है ।

हालांकि हर conspiracy theory को सही ठहराना भी जायज नहीं है । वर्तमान समय में लोगों के पास सोशल मीडिया है जिसकी मदद सा सूचनाओं का आदान प्रदान बिजली की गति से होता है । ऐसे में किसी भी घटना के पीछे के षडयंत्र को खोजना भी आम बात हो गया है । जब किसी स्पष्टीकरण के के खिलाफ तर्क प्रस्तुत किए जाते हैं तो वे factual होने चाहिए ।

Examples of Conspiracy Theory in India

भारत में कई ऐसी बड़ी घटनाएं घटी हैं जिनसे संबंधित कई षडयंत्र सिद्धांत सर्कुलेट होते रहते हैं । सोशल मीडिया के इस युग में न सिर्फ वर्तमान की घटनाओं बल्कि सोशल मीडिया के आने से दशकों पुरानी घटनाओं पर दिए स्पष्टीकरण पर लोग प्रश्न उठाते रहे हैं । कुछ Indian conspiracy theories आप नीचे पढ़ सकते हैं ।

1. क्या भारत अभी भी UK की एक कॉलोनी है ?

आपने अवश्य ही सोशल मीडिया पर पढ़ा होगा या किसी से सुना होगा कि भारत अभी भी UK की एक कॉलोनी है । यानि भारत अभी भी पूरी तरह से आजाद नहीं हुआ है बल्कि भारत को आजादी पर lease पर प्राप्त हुई है । पिछले दिनों एक टीवी शो में किसी पार्टी के प्रवक्ता भी इसी बात को कह रहे थे ।

लेकिन ऐसी बातें सिर्फ कही नहीं जाती है बल्कि इसके पीछे लोग तर्क भी पेश करते हैं । जैसे कि इंग्लैंड की रानी विक्टोरिया को भारत में आने के लिए वीजा की जरूरत नहीं पड़ती है । UK की जहां जहां कॉलोनियां रही हैं, वहां रानी विक्टोरिया बिना वीजा के जा सकती हैं । वर्ष 1997 में रानी विक्टोरिया भारत आई थी और इससे इस षडयंत्र सिद्धांत को काफी बल भी मिला ।

2. भारत के पास अपना UFO Base है ।

UFO यानि Unidentified flying object जिसे एलियंस के साथ जोड़कर देखा जाता है । ऐसा माना जाता है कि भारत और चीन के परस्पर साझेदारी से भारत चीन बॉर्डर पर एक UFO base है । Kongka La Pass के क्षेत्र में भारत का यूएफओ बेस होने के षडयंत्र सिद्धांत को तब बल मिलता है जब उस क्षेत्र में पर्यटकों के आवागमन को रोक दिया गया है ।

इसके अलावा वर्ष 2006 में Google Earth के सैटेलाइट इमेज में एक ऐसे क्षेत्र की पहचान की गई थी जो काफी गुप्त था । इस क्षेत्र में कुछ अजीबोगरीब मॉडल बनाए गए थे और इसके चारों तरफ मिलिट्री बेस बनाई गई थी । इससे लोगों को इस क्षेत्र में कुछ अजीबोगरीब प्रयोग या यूएफओ बेस के होने पर शक होने लगा । हालांकि संबंधित अधिकारी इस बात को सिरे से नकारते हैं ।

3. COVID 19

भारत में वर्तमान में भी कोरोनावायरस के केसेज आ रहे हैं और जब यह आर्टिकल लिखा जा रहा है तब कोरोनावायरस की चौथी लहर आने की संभावना भी जताई जा रही है । लेकिन इसकी शुरुआत चीन के वुहान शहर से हुई और पूरी दुनिया में फैली । माना जाता है कि चीन द्वारा इस वायरस को एक लेबोरेटरी में तैयार किया गया था लेकिन किसी चूक की वजह से यह पूरी दुनिया में फैला ।

इससे संबंधित कई तर्क भी पेश किए गए और कई news reports भी हमें पढ़ने को मिलीं । इस Conspiracy Theory को बल तब मिला जब चीन ने investigation करने से मना कर दिया । चीन के The Wuhan Institute of Virology (WIV) में कई दशकों से चमगादड़ों पर रिसर्च किया जा रहा था और जहां कोरोनावायरस का पहला केस सामने आया वह लब से मात्र 40 मिनट की दूरी पर था ।

कई रिपोर्ट्स में ऐसा दावा किया गया कि जिन चीन के नागरिकों ने चीन के कोविड षड़यंत्र का खुलासा करने की कोशिश की, उन्हें मार दिया गया या जेल में डाल दिया गया । इसी तरह WHO की विश्वसनीयता पर भी प्रश्न उठाए गए जिसने कोई ठोस कदम नहीं उठाए । हालांकि इन दावों की आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है ।

Conclusion

आपने इस लेख में जाना कि Conspiracy Theory Kya Hai. षडयंत्र सिद्धांत संबंधित हर जरूरी जानकारियां और उदाहरण आपके सामने पेश किए गए हैं ताकि आप रोचक तरीके से पूरे सिद्धांत को समझ सकें । अंत में आपको भारत संबंधित षडयंत्र सिद्धांतों का उदाहरण भी दिया गया है जिससे आप Conspiracy Theory meaning in Hindi अच्छे से समझ सकें ।

अगर आपके मन में इस विषय से सम्बन्धित अन्य कोई प्रश्न है तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं । आप इस विषय से संबधित अपने विचार भी कॉमेंट बॉक्स में दे सकते हैं, हमें खुशी होगी । अगर आपको यह जानकारी रोचक और हेल्पफुल लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.