10+ Best Autobiography Books in Hindi – सर्वश्रेष्ठ आत्मकथा पुस्तकें

अगर आप दुनिया के महान लोगों की आत्मकथाएं पढ़ना चाहते हैं तो आपको Best Autobiography Books in Hindi का यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ना चाहिए । उन महान लोगों द्वारा लिखी आत्मकथाओं में सिर्फ आपको कहानियां ही नहीं पढ़ने को मिलती, बल्कि काफी कुछ सीखने और समझने को मिलता है । उनका पूरा जीवन, गलतियां, सपनें, सफलता, विफलता सब कुछ आपको आत्मकथाओं के द्वारा सीखने को मिलता है ।

अगर किसी महान व्यक्ति का पूरा जीवन किसी एक पुस्तक में लिखी गई है तो आपको उसे अवश्य पढ़ना चाहिए । इसलिए इस आर्टिकल में मैं देश दुनिया में लिखी गई Autobiography books को आपके सामने रखूंगा जो हिंदी भाषा में लिखी गईं हैं या हिंदी में अनुवादित हैं । अगर उपलब्ध होगा तो मैं आपको PDF Link भी दूंगा ताकि आप किताबें डाउनलोड करके पढ़ सकें । अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आए तो इसे शेयर करना न भूलें ।

1. अग्नि की उड़ान

अग्नि की उड़ान आत्मकथा एपीजे अब्दुल कलाम जी द्वारा

Best Autobiography Books in Hindi की सूची में पहला नाम Wings Of Fire का है जिसे हिंदी में अग्नि की उड़ान नाम से अनुवादित किया गया है । यह आत्मकथा है हमारे देश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री और मिसाइल मैन एपीजे अब्दुल जी की, जिसमें उन्होंने अपने बचपन से लेकर मिसाइल मैन बनने तक की कहानी ( सन् 1999 ) तक की पूरी आत्मकथा लिखी है ।

उन्होंने किताब में बताया है कि कैसे वे एक आम लड़के थे जो गरीब परिवार से आता था, कितनी ही सारी मुश्किलें थी । लेकिन उन्होंने सारी मुश्किलों को पारकर अपने लक्ष्यों को प्राप्त किया । अपनी इस आत्मकथा में उन्होंने देश का सच्चा नागरिक बनने और विफलताओं से सिख लेने की भी शिक्षा दी है । इस Autobiography book by A.P.J. Abdul Kalam को आपको एक बार अवश्य पढ़ना चाहिए ।

Download Wings of Fire PDF in Hindi

2. सत्य के प्रयोग

सत्य के प्रयोग आत्मकथा Autobiography by Mahatma Gandhi

Best Autobiography Books की लिस्ट में अगला नाम सत्य के प्रयोग है जिसे आपको एक बार जरूर पढ़ना चाहिए । इस आत्मकथा में देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी ने अपने जीवन का सारांश लिखा है । अगर आप गांधी को समझना और उनके जीवन को करीब से जानना चाहते हैं तो आपको सत्य के प्रयोग आत्मकथा जरूर पढ़नी चाहिए । किताब में उनके बचपन से लेकर सन् 1921 तक का वर्णन है ।

यह आत्मकथा उन्होंने गुजराती भाषा में लिखी है जिसे बाद में हिंदी में अनुवाद किया गया था । उन्होंने सत्य, अहिंसा के मार्ग को कैसे अपनाया, उनके जीवन के क्या सिद्धांत और उद्देश्य थे, उनकी भारत को लेकर के क्या सोच थी, उन्होंने सत्य और अहिंसा से जुड़े कौनसे प्रयोग किए और उनके जीवन की रोचक घटनाएं सब कुछ आपको उनकी इस आत्मकथा में पढ़ने को मिलेगा । गांधी जी की यह आत्मकथा आपको ढेरों भाषाओं में मिल जायेगी ।

Download Experiment With Truth By Mahatma Gandhi

3. एक योगी की आत्मकथा

यह पुस्तक परमहंस योगानंद के जीवन की एक आत्मकथा है । इसमें दैनिक जीवन की सामान्य घटनाओं और असाधारण घटनाओं दोनों के पीछे के कुछ कारणों को समझाया गया है । आत्मकथा में उनके बचपन के चमत्कारिक अनुभवों से लेकर उनके योगी बनने तक की पूरी कहानी पढ़ने को मिलेगी । इसमें उन्होंने अपने आध्यात्मिक अनुभव का विस्तार से उल्लेख किया है ।

जब आप यह आत्मकथा पढ़ेंगे तो आपके ढेर सारे प्रश्नों का जवाब मिल जायेगा और ऐसा लगेगा जैसे कि आपके नेत्र खुल गए जोकि अभी तक बंद थे । यह कोई आम आत्मकथा नहीं है, यह आपको तब एहसास होगा जब आप इसे पढ़ेंगे । किताब को 20 से भी ज्यादा भाषाओं में अनुवाद किया गया है ।

Download Autobiography of a Yogi in Hindi

4. प्लेइंग इट माय वे

Playing it my way autobiography by Sachin Tendulkar

चौथे नंबर पर जो Autobiography book है उसका नाम प्लेइंग इट माय वे है जिसे सचिन तेंदुलकर यानि क्रिकेट के भगवान न लिखा है । अगर आप सचिन तेंदुलकर के जीवन, उनके क्रिकेट को लेकर पैशन, सफलताएं, विफलताएं इत्यादि के बारे में पढ़ना चाहते हैं तो आपको यह किताब जरूर पढ़ना चाहिए । उन्होंने किताब में अपने जीवन के रोचक पलों का भी उल्लेख किया है जो पुस्तक को रोचक बनाता है ।

कुछ पाठक्रम या अध्याय जो आपको किताब में पढ़ने को मिलेगा:

  • बचपन
  • खेल सीखना
  • मेरा पहला दौरा
  • विदेशी स्थितियां
  • अंजलि
  • वर्ल्ड ट्रेड 1996
  • वर्ल्ड कप 2003

व्यक्तिगत तौर पर मुझे यह पुस्तक सबसे ज्यादा इसलिए पसंद आई क्योंकि सचिन ने इसमें अपने जीवन के कुछ रोचक और खास पलों की तस्वीरें भी सांझा की हैं । आम से खास बनने की इस आत्मकथा को सिर्फ क्रिकेट प्रेमियों को ही नहीं बल्कि उन सभी लोगों को पढ़नी चाहिए जिनमें कुछ कर दिखाने, अपने सपनों को सच करने की आग है ।

Download Playing it my way in Autobiography book

5. द डायरी ऑफ यंग गर्ल

The Diary Of Young Girl Autobiography book in Hindi

The Diary Of A Young Girl इस लिस्ट की अगली आत्मकथा और मेरी Favourite Autobiography Books in Hindi में से एक है । यह किताब सिर्फ एक युवा लड़की की डायरी ही नहीं है जिसमें आपको उसकी शिक्षा, प्यार, रिश्ते के बारे में जानने को मिलेगा, बल्कि इसमें विश्व युद्ध, हिटलर, कत्लेआम भी है ।

इस आत्मकथा में ऐनी फ्रैंक ने बताया है कि कैसे वह और उनका परिवार द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान अपनी जान बचाते छुप रहे थे । इस आत्मकथा को द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान बचे महत्वपूर्ण दस्तावेजों में से एक माना जाता है जिसमें द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान भयानक दृश्यों का चित्रण है । इसके अलावा, आत्मकथा में ऐनी फ्रैंक का जीवन, बनते बिगड़ते रिश्ते, परिवार को भी पढ़ेंगे जो काफी रोचक है ।

Download The Diary Of A Young Girl in Hindi

6. विवेकानंद की आत्मकथा

Autobiography Books की लिस्ट में अगला नाम विवेकानंद की आत्मकथा है जिसमें उनके बचपन से लेकर धर्म महासभा जैसी महान घटनाओं का भी उल्लेख है । इसके साथ ही कुछ चिट्ठियों का भी उल्लेख उनकी इस आत्मकथा में मिलता है जो विवेकानंद जी द्वारा या उन्हें लिखे गए थे । किताब में आपको स्वामी विवेकानंद जी की कुछ तस्वीरें भी मिलेंगी जो पुस्तक को रोचक बनाती हैं ।

अगर आप धर्म, जीवन, कर्म, परमात्मा जैसे विषयों को समझना चाहते हैं तो आपको किताब जरूर पढ़ना चाहिए । उन्होंने देश विदेश में वेद वेदांत और धर्म का प्रचार किया था और धर्म में व्याप्त पाखंड और रूढ़िवादिता का खण्डन भी किया था । ये सारी घटनाओं, तथ्यों, तस्वीरें, कहानियां आपको इनकी इस आत्मकथा में मिलेगी । अगर आप नवयुवा हैं तो किताब को एक बार जरूर पढ़ें ।

7. मेरा संघर्ष

Best Autobiography books in Hindi की लिस्ट में अगला नाम मेरा संघर्ष ( Mein Kamph ) है जिसे हिटलर ने लिखा है । हिटलर की आत्मकथा को अगर आप पढ़ना और उसके सोच को समझना चाहते हैं तो यह किताब आप पढ़ सकते है । इस आत्मकथा में हिटलर ने जिक्र किया है कि वह किस प्रकार यहूदी विरोधी बन गया था और किस प्रकार वह जर्मनी के लिए अपनी राजनीतिक विचारधारा की रूपरेखा तैयार करता है ।

हिटलर ने अपनी आत्मकथा में सेना में एक छोटे से सिपाही के रूप में काम करने से लेकर जर्मनी के तानाशाह बनने की पूरी कहानी को बयां किया है । हिटलर का मानना था कि यहूदी उनके दुश्मन हैं और ऊनी संसाधनों पर हक जमाते हैं । हिटलर का यह भी मानना था कि एकमात्र राष्ट्रवाद से ही जर्मनी का उत्थान हो सकता है । उसके ये सभी विचार, उसका जीवन, सिद्धांत, ताकत, कमजोरी सब कुछ उसकी आत्मकथा में लिखा है । अगर आप हिटलर को दुनिया की नहीं, बल्कि खुद उसी की नजर से देखना चाहते हैं तो किताब जरूर पढ़ें ।

Download Mein Kamph Autobiography by Hitler

8. मेरा जीवन

Autobiography books की सूची में अगला नाम मेरा जीवन आत्मकथा का है जिसे हेलन केलर ने लिखा है । संघर्ष और आत्मविश्वास से भरी इस आत्मकथा में आपको न सिर्फ हेलेन केलर का जीवन करीब से जानने समझने को मिलेगा बल्कि इसे पढ़कर आपके अंदर एक नई ऊर्जा का संचार भी होगा । हेलेन केलर का कहना था कि:

जीवन में यदि संघर्ष किया जाए, तो कोई काम ऐसा नहीं है जिसे हम ना कर सकते हो ।

अगर आपने हेलन केलर के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी भी इकट्ठी की है तो आपको पता होगा कि मूक-बधिर व नेत्रहीन महिला थीं । उन्होंने ब्रेल लिपि सीखी थी जिसकी वजह से वह अपनी आत्मकथा लिख पाईं । नेत्रहीन और मूक बधिर होने की वजह से उनको ढेरों दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, उन्हें समझने और समझाने वाला कोई नहीं था सिवाय उनके शिक्षक एनी सुलीवन के जिन्होंने उन्हें इशारों से बात करना सिखाया ।

ऐसे ही ढेरों घटनाओं का जिक्र उन्होंने अपनी आत्मकथा मेरा जीवन में किया है जिसे आपको एक बार अवश्य पढ़ना चाहिए । यह पुस्तक उन्हें अवश्य पढ़ना चाहिए जिन्हें यह लगता है कि उनके पास संसाधनों की कमी है, उनके पास कुछ करने के लिए चीजें नहीं हैं और वे हमेशा जीवन की समस्याओं को लेकर शिकायतें करते रहते हैं ।

Download My Life Autobiography by Helen Keller

9. बेंजामिन फ्रैंकलिन की आत्मकथा

बेंजामिन फ्रैंकलिन की आत्मकथा इस सूची की अगली आत्मकथा है जिसमें उन्होंने अपने जीवन के 1771 से 1790 तक की कहानी का जिक्र किया है । अपनी आत्मकथा में उन्होंने जिक्र किया है कि कैसे एक साधारण सा बालक संघर्ष करते हुए उच्च सरकारी पदों तक पहुंचा । इस बीच उन्होंने समाज सुधार के कई कार्य किए और वे दास प्रथा के धुरविरोधी थे इसका भी जिक्र उन्होंने किताब में किया है ।

उनके जीवन में कई रोमांचक घटनाएं घटी जिनका जिक्र भी उन्होंने अपनी आत्मकथा में किया है । हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने भी इस किताब को लोगों से पढ़ने के लिए आग्रह किया है क्योंकि बेंजामिन फ्रैंकलिन की आत्मकथा पाठकों को प्रेरित करती है और एक सच्चे मनुष्य के फर्ज को भी समझाती है । आप किताब का पीडीएफ नीचे दिए लिंक से डाउनलोड कर सकते हैं ।

Download Autobiography of Benjamin Franklin

10. क्या भूलूं क्या याद करूं

Best Autobiography books in Hindi की इस सूची की अंतिम आत्मकथा का नाम क्या भूलूं क्या याद करूं है जिसे प्रख्यात लोकप्रिय कवि हरिवंश राय बच्चन जी ने लिखी है । किताब में न सिर्फ आपको उनका पूरा जीवन बल्कि छायावादी युग के बाद के परिदृश्य की कहानी भी पढ़ने को मिलती है । उन्होंने अपनी इस आत्मकथा को कुल 4 भागों में बांटा है:

  • क्या भूलूं क्या याद करूं
  • निड़ का निर्माण फिर
  • बसेरे से दूर
  • दशद्वार से सोपान तक

उन्होंने बचपन से लेकर साहित्य लेखन में प्रसिद्धि तक की पूरी कहानी इस आत्मकथा यानि autobiography में लिखी है । हर छोटी से छोटी जानकारी बड़े ही सरल शब्दों में उन्होंने लिखी है जिसकी वजह से पढ़ने और समझने में आसानी होती है । उनकी आत्मकथा को पढ़ने पर आपको सिर्फ उनका जीवन वृतांत ही नहीं बल्कि उनके समय में समाज, धर्म, साहित्य जैसे अन्य विषयों पर जानकारी भी प्राप्त होगी ।

Conclusion on Best Autobiography in Hindi

Best Autobiography in Hindi के इस आर्टिकल में मैंने हिटलर, महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद, एनी फ्रैंक के अलावा अन्य विद्वानों, विचारकों की आत्मकथाओं का जिक्र किया है जिन्हें आपको एक बार अवश्य पढ़ना चाहिए । मैंने कोशिश की है कि आपको सभी Autobiography books PDF Download Link भी उपलब्ध करा सकूं ।

अगर आप अन्य बेहतरीन आत्मकथाओं के बारे में जानते हैं तो नीचे कमेंट करके जरूर बताएं । अगर आपको आर्टिकल हेल्पफुल लगा हो तो इसे शेयर करें । आप कॉमेंट में अपनी राय/सुझाव भी दे सकते हैं ।

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.