Top 10+ Novel in Hindi to read for free – बेहतरीन हिन्दी उपन्यास

क्या आपको उपन्यास पढ़ना बहुत पसंद है ? अगर हां तो इस आर्टिकल के अंत तक बने रहिए और मैं आपको Top 10+ novel in Hindi से आपकी परिचय करवाऊंगा जिन्हें पढ़कर आपकी उपन्यास पढ़ने की प्यास और बढ़ेगी । नीचे दिए सभी उपन्यासों को फ्री में आप कैसे पढ़ सकते हैं उसका link आपको आर्टिकल के अंत में दिया जायेगा ।

इस सूची में मैं शीर्ष पर मैं उन्हीं Best Hindi novels को रखूंगा जिन्हें मैंने खुद भी पढ़ा है और उनकी reader rating काफी अच्छी है । फणीश्वरनाथ रेणु से लेकर दिव्य प्रकाश दुबे तक की सभी महान उपन्यासों को इस सूची में न सिर्फ शामिल किया जाएगा बल्कि उन्हें मुफ्त में कहां से पढ़ें इसकी जानकारी आर्टिकल के अंत में दी जाएगी । अगर आपके मन में ऐसी कोई Hindi novel है जो बेहतरीन होते हुए भी सूची में नहीं है तो कॉमेंट के माध्यम से अवगत कराएं ।

1. मैला आंचल – फणीश्वरनाथ रेणु

Maila aanchal Hindi novel
Source: Amazon.in

मैला आंचल 1954 का हिन्दी उपन्यास है जिसे फणीश्वर नाथ रेणु जी ने लिखा है । मैला आंचल उपन्यास को आंचलिक उपन्यास का भी श्रेष्ठ उदाहरण माना जाता है । इस उपन्यास में कहानी है उस भारत को कुछ ही समय पहले गुलामी की जंजीरों से आजाद हुआ था । आजादी के बाद भारत के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक परिदृश्य को फणीश्वरनाथ रेणु जी ने ग्रामीण संस्करण के माध्यम से बखूबी समझाया है ।

इस Hindi novel में रेणु जी ने बिहार, पूर्णिया के मेरीगंज की कहानी को पाठकों के समक्ष रखा है । इस उपन्यास में नायक डॉक्टर प्रशांत बनर्जी है जो मेरीगंज को अपना कार्य क्षेत्र चुनता है । इसके बाद की कहानी मेरीगंज में व्याप्त अंधविश्वास, अज्ञानता, अभाव, दुःख दैन्य, पिछड़ापन और सामाजिक शोषण की है । कहानी ग्रामीणों के संघर्ष से शुरू होती है और एक आशापूर्ण अंत पर जाकर खत्म होती है ।

Goodreads rating:

2. पिंजर – अमृता प्रीतम

Source: Amazon.in

पिंजर 1950 का best Punjabi novel है जो प्रसिद्ध कवि और उपन्यासकार अमृता प्रीतम जी द्वारा लिखा गया है । अमृता प्रीतम जी ने इस उपन्यास में भारत के विभाजन की व्यथा को बड़े ही मार्मिक ढंग से उकेरा है और इसके लिए उन्होंने पूरो जोकि उपन्यास की मुख्य किरदार है, का सहारा लिया है । भारत विभाजन के बाद अमृता जी को पाकिस्तान से हिंदुस्तान में आना पड़ा जिसका दर्द भी आपको उपन्यास में छलकता दिखलाई पड़ेगा ।

यह एक हिंदू लड़की, पुरो की कहानी है, जिसका एक मुस्लिम व्यक्ति राशिद द्वारा अपहरण कर लिया जाता है । परंतु पू्रो जैसे तैसे राशिद के चंगुल से भाग निकलने में कामयाब हो जाती है और अपने माता पिता के यहां पहुंचती है । परंतु, उसके माता पिता उसे यह कहकर त्याग देते हैं कि वह अशुद्ध हो चुकी है । इसके बाद के दर्द को अमृता जी ने बड़ी ही मार्मिक ढंग से लिखा है । इसके बाद वह राशिद के वापस तो लौट आती है पर उसे अपनाती नहीं है ।

इसके बाद भारत का बंटवारा होता है और एक नए देश पाकिस्तान का जन्म होता है । इस बंटवारे की वजह से लाखों जिंदगियां तबाह होती हैं जिसमें पुरो भी ढेर सारी समस्याएं झेलती है । इसी बीच वह रामचंद से मिलती है जिससे उसकी शादी राशिद के अपहरण किए जाने से पहले होनी थी । पर वह किसे चुनेगी ? इसका उत्तर आपको इस Hindi novel को पढ़ने के बाद मिलेगा ।

Goodreads rating:

3. गुनाहों का देवता – धर्मवीर भारती

Source: Pustak.org

अगर आप एक ऐसा novel in Hindi पढ़ना चाहते हैं जो बहुत पहले लिखे जाने के बावजूद वर्तमान में भी प्रासंगिक है तो आपको गुनाहों का देवता पढ़ना चाहिए । गुनाहों का देवता हिन्दी उपन्यास को धर्मवीर भारती जी ने 1949 में लिखा था । कहानी में इलाहाबाद ( प्रयागराज ) का जिक्र है और ब्रिटिश शासन के दौरान भारत वाले समय को कहानी में केंद्र बनाया गया है । कहानी में चार मुख्य पात्र हैं: चंदर, सुधा, विंती और पम्मी

इस उपन्यास में प्रेम के सबसे खूबसूरत और अलौकिक रूप का चित्रण किया गया है । इसे भारत का सबसे दर्दनाक उपन्यास भी कहा जाता है जिसका जिक्र मैंने Top Indian romantic novels में भी किया था । कहानी के शुरुआती मुख्य किरदार चंदर और सुधा हैं । सुधा चंदन से बहुत प्यार करती है जिसे चंदन जानते हुए भी अनजान बनने की कोशिश करता है । इस वजह से सुधा की शादी किसी और से हो जाती है जिसके लिए चंदर ही उसे मनाता भी है ।

इसका कारण सुधा के पिता का चंदर पर किए गए एहसान होते हैं । कहीं और शादी करने की वजह से सुधा एक दिन मर जाती है । चंदर खुद को देवता दिखाना चाहता है इसलिए दोनों के बीच भगवान और भक्त का ही रिश्ता होता है । चंदर का बाद में पम्मी के साथ अंतरंग रिश्ता भी दिखाया गया है जोकि कहानी की त्रिकोण है । एक बार इसे best novel in Hindi को जरूर पढ़ें ।

Goodreads rating:

4. राग दरबारी – श्रीलाल शुक्ल

राग दरबारी novel in Hindi
Source: Pustak.org

राग दरबारी श्री लाल शुक्ल द्वारा लिखित एक व्यंग्यात्मक हिंदी उपन्यास है, जो 1968 में प्रकाशित हुआ था । इस उपन्यास के लिए उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया । इस उपन्यास में इस समय का जिक्र है जब अंग्रेजों ने हाल ही में देश छोड़ा था । शुक्ल जी ने इस उपन्यास के माध्यम से बताया है कि कैसे हम भारतीय अंग्रेजों के चले जाने के बाद भी गरीबी, भ्रष्टाचार, अशिक्षा, पिछड़ेपन के शिकार हैं ।

इस best novel in Hindi के केंद्र में शिवपाल गंज है जोकि उत्तरप्रदेश का एक कस्बानुमा गांव है । उन्होंने लिख है कि रागदरबारी उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल के एक कस्बानुमा गाँव शिवपाल गंज की कहानी है; उस गाँव की जिन्दगी का दस्तावेज, जो स्वतन्त्रता-प्राप्ति के बाद ग्राम विकास और ‘गरीबी हटाओ’ के आकर्षक नारों के बावजूद घिसट रही है । श्रीलाल शुक्ल जी ने बड़े ही व्यंग्यात्मक लहजे में देश की लाचारी को गांव की कहानी के माध्यम से चित्रित किया है ।

Goodreads rating:

5. गोदान

Source: Amazon.in

अगर आप प्रेमचंद के लेखनी को बहुत पसंद करते हैं तो इस best Premchand novel Hindi को अवश्य पढ़ें । गोदान का अर्थ होता है गौ यानि गाय का दान और हिंदू धर्म में इसे पुण्यकार्य माना जाता है । किताब की सबसे खास बात यह है कि इसके पात्रों के साथ आप जुड़ जाते हैं, उनकी परेशानियां आप महसूस कर पाते हैं और पात्रों के सुख दुख आपके सुख दुख बन जाते हैं ।

मुख्य रूप से यह उपन्यास ग्राम्य जीवन पर केंद्रित है जिसमें औपनिवेशिक शासन के तले पिसते किसान के जीवन को प्रेमचंद ने बड़े ही मार्मिक परंतु प्रासंगिक ढंग से उकेरा है । अगर आप ग्रामीण समाज के यथार्थ को समझना चाहते हैं तो इस उपन्यास को जरूर पढ़ें । प्रेमचंद जी ने शहरी जीवन का भी समावेश उपन्यास में बड़ी ही उचित मात्रा में करते हुए उनके यथार्थ को चित्रित किया है ।

कहानी में ढेरों पात्र हैं और सबकी अपनी अपनी कहानी है । किसी एक पात्र को नायक कहना कहानी के साथ ज्यादती होगी । भारतीय किसान की आकांक्षा और निराशा, बेबसी और निरीहता, धर्मभीरुता को जिस प्रकार से प्रेमचंद जी ने गोदान में चित्रित किया है वह आपको अन्यत्र देखने को नहीं मिलेगा ।

Goodreads rating:

6. कितने पाकिस्तान – कमलेश्वर

कितने पाकिस्तान एक Hindi novel है जिसे सन् 2000 में कमलेश्वर जी ने लिखा था । कितने पाकिस्तान उपन्यास भारत विभाजन की मार्मिक और कटु कहानी कहती है । इस उपन्यास में ऐतिहासिक घटनाओं का जिक्र है और उपन्यास की मुख्य घटना भारत विभाजन है । कमलेश्वर ने विभाजन से होने वाली भरी क्षति को बड़े ही मार्मिक और यथार्थ रूप में चित्रित किया है । इस पूरे पुस्तक का सार ही यही कि मनुष्य को मनुष्य की तरह रहना चाहिए और यह मार काट बंद हो ।

किताब भारत के बहुत ही विवादास्पद विषय राम जन्मभूमि अयोध्या जैसे अन्य घटनाओं का भी जिक्र करती है । कमलेश्वर का झुकाव इस उपन्यास में वामपंथ की तरफ दिखता है और उन्होंने कई जगहों पर पश्चिमी विचारधारा पर अपना रोष प्रकट किया है । उन्होंने पश्चिमी विचारधारा को मुख्य रूप से भारत पाकिस्तान बंटवारे की वजह करार दिया है । भारत पाकिस्तान विभाजन के समकालीन कई घटनाओं का जिक्र उपन्यास में किया गया है ।

अगर आप कहानी का आनंद लेते हुए ऐतिहासिक घटनाओं को भी बारीकी से समझना चाहते हैं तो इस उपन्यास को पढ़ सकते हैं । हालांकि, यह उपन्यास थोड़ा विवादास्पद जरूर रहा है और इसमें उल्लेख किए गए घटनाओं और मतों पर भी सबके अलग अलग विचार हैं ।

Goodreads rating:

7. काशी का अस्सी – काशीनाथ सिंह

Hindi novel kashi ka assi
Source: Rajkamalprakashan.com

काशी का अस्सी एक Hindi novel है जिसमे आपको काशी की 5 प्रतिनिधि कहानियां पढ़ने को मिलेंगी । 1990 के दशक में लिखी गई यह कहानी वर्तमान परिप्रेक्ष्य में बढ़ी ही सटीक बैठती है और प्रासंगिक है । उपन्यास में राजनैतिक और सामाजिक व्यवस्था और परिदृश्य को काशीनाथ सिंह जी ने बड़ी ही खूबसूरती के साथ चित्रित किया है ।

मोहल्ले में स्थित एक चाय की दुकान है जहां से कहानी की शुरुआत और अंत दोनों होता है । कितने पाकिस्तान की ही तरह इसमें भी कुछ विवादास्पद मुद्दों को उठाया गया है । बाबरी मस्जिद का गिरना, विभिन्न राजनीतिक पार्टियां, सेक्युलरिज और राजनीतिक सेक्युलरिज्म पर काशीनाथ जी ने बड़ी ही सटीकता के साथ लिखा है परंतु कटाक्ष के साथ । इन्होंने लोकतंत्र को भ्रष्टाचार से जोड़ते हुए बोफोर्स घोटाले, हर्षद मेहता, जयललिता आदि पर भी जिक्र किया है ।

उपन्यास की भाषा पूरी तरह से बनारसी है यानि पूरी तरह से हिंदी । उपन्यास में काशी को उकेरा गया है तो जाहिर सी बात है कि थोड़ी बहुत गली गलौज भी देखने को मिलती है जिसके बिना बनारस में वाद संवाद अधूरा है । अगर आप सामाजिक और राजनैतिक विषयों पर मनोरंजन से परिपूर्ण उपन्यास पढ़ना चाहते हैं तो काशी का अस्सी जरूर पढ़ें ।

Goodreads rating:

8. रेहन पर रग्घू – काशीनाथ सिंह

Source: Goodreads.com

रेहन पर रग्घू काशीनाथ सिंह जी द्वारा लिखी गई एक best novel in Hindi है जिसमें उन्होंने दिन प्रतिदिन क्षीण होती मनुष्य की मनुष्यता के बारे में लिखा है । धीरे धीरे मनुष्य भूमंडलीकरण की चपेट में आकर संवेदना, सामूहिकता और संवेदना की हत्या कर रहा है जिसे काशीनाथ जी ने कहानी के माध्यम से चित्रित किया है । उपन्यास का नायक रघुनाथ है जिनकी जिंदगी में आए जबरदस्त उतार चढ़ाव को काशीनाथ जी ने लिखा है ।

नैतिक मूल्यों में आई गिरावट और ग्रामीण समस्याओं पर उनकी यह उपन्यास खूब प्रचलित हुई थी जिसकी वजह से उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार भी दिया गया । अगर आप बीते 2 दशकों के अंदर हुए परिवर्तनों को समझना चाहते हैं और परिवर्तन का यथार्थ समझना चाहते हैं तो उपन्यास एक बार जरूर पढ़ें । आप और हम देश दुनिया में आई कृषि क्रांति और टेक्नोलॉजी के बढ़ते प्रयोग को अच्छा मानते हैं ।

परंतु, काशीनाथ जी ने अपनी ग्रामीण समाज पर आधारित कहानी के माध्यम से हमें यह समझाया है कि कैसे यह सब सहूलियत प्रदान करने के बजाय इंसान के मानवीय मूल्यों का क्षरण कर रहा है । भूमंडलीकरण और बाजारवाद पर लेखन ने सीधा प्रहार करते हुए इन्हें मनुष्य का दुश्मन बताया है ।

Goodreads rating:

9. देवदास – शरतचंद्र चट्टोपाध्याय

देवदास उपन्यास Hindi novel
Source: Amazon.in

एक समय most popular Hindi novel रही देवदास को इस सूची में शामिल न करना अन्याय होगा । इस उपन्यास की कहानी इतनी मार्मिक थी कि इसपर बनाई गई फिल्म भी सुपरहिट हो गई । देवदास शरत चंद्र चटर्जी द्वारा लिखित एक Bengali romantic novel in Hindi है जिसे 30 June 1917 को प्रकाशित किया गया था । यह उपन्यास आज से लगभग 100 साल पहले प्रकाशित की गई था परंतु यह आज के नवयुवकों के दिल की धड़कने आज भी बढ़ाता है ।

उपन्यास में कहानी है देवदास, पारो और चंद्रमुखी की । पारो देवदास को बचपन से प्यार करती है और उससे शादी करना चाहती है परंतु देवदास के माता पिता इसके खिलाफ होते हैं इसलिए वह शादी से इंकार कर देता है । इसलिए पारो दिल पर पत्थर रखकर किसी और से शादी कर लेती है । उधर देवदास पारो के निश्छल प्यार को पाने के लिए तड़पने लगता है और उससे साथ भाग चलने को कहता है । इसपर पारो उसे मना कर देती है ।

यहीं से देवदास के पतन की कहानी शुरू होती है और वह रात दिन शराब के नशे में डूबा रहता है । इसी वक्त उसे चंद्रमुखी मिलती है परंतु उसके साथ होते हुए भी वह पारो के बारे में सोचता रहता है । कहानी का अंत होता है पारो के दरवाजे पर देवदास की मौत से । एक दर्दनाक सच्चे प्यार की कहानी पढ़ना चाहते हैं तो उपन्यास जरूर पढ़ें ।

Goodreads rating:

10. आंनदमठ – बंकिम चंद्र चटोपाध्याय

आनंदमठ Novel in Hindi

आनंदमठ बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय द्वारा लिखित और 1882 में प्रकाशित एक Bengali novel है । यह 18 वीं शताब्दी के अंत में संन्यासी विद्रोह की पृष्ठभूमि से प्रेरित है, इसे बंगाली और भारतीय साहित्य के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण उपन्यासों में से एक माना जाता है । आपको ज्ञात होना चाहिए कि वंदे मातरम् गीत इसी उपन्यास से लिया गया था ।

इसे हिंदी के साथ ही न जाने कितनी ही भाषाओं में अनुवाद किया गया है । उपन्यास में बंकिम चन्द्र चटर्जी जी ने वर्ष 1770 से लेकर 1774 तक के बंगाल का यथार्थ चित्रण किया है । संन्यासी विद्रोह और बंगाल के भीषण अकाल पर आधारित इस पुस्तक पर अंग्रेजी शासन ने प्रतिबंध भी लगाया था जिसे आजादी के बाद हटाया गया । उपन्यास में पदचिन्ह गांव की कहानी और हो रहे अत्याचार को लिखा गया है ।

इस उपन्यास को भगवद्गीता की ही तरह कर्मयोग सिखाने की एक रचना मानी गई है । इस उपन्यास की वजह से जन जन में चेतना का संचार हुआ था और अत्याचार के खिलाफ लोग एकजुट हुए थे । आपको एक बार यह best novel in Hindi जरूर पढ़ना चाहिए ।

Goodreads rating:

Read Hindi novel for free

Novel in Hindi में सूचीबद्ध सभी उपन्यासों को आप फ्री में पढ़ और डाउनलोड भी कर सकते हैं । इसके लिए आपके पास दो तरीके हैं :

1. Best Telegram book channels को join करें और इनमें अपनी मनचाही हिंदी उपन्यास खोजें ।

2. आप जिस भी Hindi novel का pdf download करना या online read करना चाहते हैं उसके नाम के आगे .pdf या read online free लगाकर गूगल ने सर्च करें । आपको किताब कहीं न कहीं अवश्य मिल जायेगी ।

अगर आपको इन दोनों तरीकों से भी किताब पढ़ने को नहीं मिलती तो आप नीचे कमेंट करें और हम आपको किताब पढ़ने या डाउनलोड करने का link प्रोवाइड करेंगे ।

Novel in Hindi – conclusion

Novel in Hindi के इस आर्टिकल में मैंने फिलहाल 10 सबसे बेहतरीन उपन्यासों को जोड़ा है जिन्हें आपको एक बार अवश्य पढ़ना चाहिए । ये सभी उपन्यास आपको ऊपर बताए लिंक में मिल जायेंगे । अगर आपने ऐसी Hindi novels पढ़ी हैं जो बेहतरीन होते हुए भी इस सूची में शामिल नहीं हैं तो कॉमेंट में बताएं जिन्हें हम जोड़ देंगे ।

आपको यह आर्टिकल उन लोगों से जरूर शेयर करना चाहिए जिन्हें पढ़ना बहुत पसंद है और वे हमेशा बेहतर कहानियों और उपन्यासों की तलाश में रहते हैं । इसके अलावा, आप को इन Hindi novels में सबसे ज्यादा कौन पसंद है और आपने इनमें से कितने उपन्यास पढ़े हैं इसे भी कॉमेंट के माध्यम से बताएं ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.