Paying Guest Meaning in Hindi – पेइंग गेस्ट क्या होते हैं

Paying Guest खासकर कि तब सुनने को मिलता है जब हम कहीं यात्रा कर रहे होते हैं । इसके अलावा जब पढ़ाई और काम के सिलसिले में एक शहर से दूसरे शहर जाना पड़ता है तब भी पेइंग गेस्ट जिसे पीजी भी कहते हैं, की चर्चा होती है । लेकिन क्या आप जानते हैं कि पेइंग गेस्ट क्या होता है, इसे कैसे ढूंढें, इसके फायदे और नुकसान क्या हैं ?

इस लेख में हम इन सभी प्रश्नों पर विस्तारपूर्वक आपको जानकारी देंगे । अगर आप एक शहर से दूसरे शहर यात्रा कर रहे हैं या करने की सोच रहे हैं तो आपके लिए यह लेख वाकई हेल्पफुल साबित होगा । जब भी हम पढ़ाई या नौकरी के उद्देश्य से दूसरे शहर जाते हैं तो Paying Guest Facility ढूंढने में काफी मुश्किलें आती हैं ।

लेकिन इस लेख को पढ़ने के बाद आप न सिर्फ आसानी से पेइंग गेस्ट फैसिलिटी की तलाश कर सकेंगे बल्कि पेइंग गेस्ट, हॉस्टल और लॉज का अंतर भी समझ जायेंगे । तो चलिए शुरू से शुरुआत करते हैं ।

Paying Guest क्या होता है ?

Paying Guest जिसे छोटे रूप में पीजी और हिंदी में सशुल्क अतिथि भी कहते हैं, एक ऐसा व्यक्ति है जो आमतौर पर थोड़े समय के लिए दूसरे व्यक्ति के घर में उनके साथ रहने के लिए भुगतान करता है । एक पीजी में आपको घर जैसी सुविधाएं जैसे भोजन, साफ सफाई और सुरक्षा की गारंटी आदि मिलती है ।

सबसे पहले यह समझें कि एक Guest यानि मेहमान क्या होता है ? मेहमान का अर्थ होता है ऐसा व्यक्ति जो आपका रिश्तेदार या जान पहचान का हो और कुछ समय के लिए आपके घर आता हो । वह व्यक्ति कुछ समय के लिए आपके घर पर ठहरता है, आप उसकी सभी सुख सुविधाओं का ध्यान रखते हैं और फिर कुछेक दिन बाद वह चला जाता है । इसके बदले में आप उससे कोई पैसे नहीं लेते हैं ।

लेकिन जब बात पेइंग गेस्ट की आती है तो इसमें गेस्ट के साथ ही पेइंग शब्द भी जुड़ जाता है । Paying अर्थात भुगतान करना । इस तरह पेइंग गेस्ट का अर्थ हो जाता है ऐसा मेहमान जो आपके घर में रहने खाने की सुविधा प्राप्त करने के बदले में आपको एक निश्चित राशि भुगतान करता है । उम्मीद है कि आप Paying Guest Meaning in Hindi समझ गए होंगे ।

Paying Guest Facility इतनी पॉपुलर क्यों ?

पीजी आम तौर पर व्यावसायिक केंद्रों या शैक्षणिक संस्थानों के करीब के क्षेत्रों में प्रसिद्ध है क्योंकि कामकाजी पेशेवर और छात्र अपनी यात्रा के समय को कम करने और कुछ पैसे बचाने के लिए इन स्थानों को पसंद करते हैं । खाने से लेकर फर्नीचर, कपड़े धोने, किराने की खरीदारी तक सब कुछ अपने दम पर प्रबंधित करने से बचने के लिए लोग पीजी कमरे चुनते है ।

एक Paying Guest के तौर पर आपको उचित दाम में सारी सुविधाएं बैठे बैठे ही मिल जाती हैं । दरअसल एक पढ़ाई करने वाले छात्र या कामकाजी व्यक्ति के लिए सुबह उठकर खाना बनाना, साफ सफाई करना, जरूरी सामानों की खरीददारी करना आदि आसान नहीं होता है । इससे उनके काम या पढ़ाई में बाधा आती है ।

इसी समस्या के समाधान के लिए Paying Guest Concept को इंट्रोड्यूस किया गया । इसमें सशुल्क मेहमान को बस महीने के शुरुआत में एक निश्चित धनराशि घर के मालिक को देनी होती है और बस, हो गया काम ।

Paying Guest, Hostel और Lodge में अंतर

Paying Guest, Hostel और Lodge तीनों ही में आपको रहने की सुविधाएं मिलती हैं । ऐसे में हमेशा यह कन्फ्यूजन बना रहता है कि आखिर इन तीनों के बीच अंतर क्या है ? तो सबसे पहले यह समझ लीजिए कि Lodge को अक्सर पीजी के साथ ही जोड़कर देखा जाता है । इसलिए हम मुख्य रूप से पीजी और हॉस्टल के बीच के अंतर को समझेंगे:

Paying GuestHostel
Paying Guest व्यक्तियों/संस्थानों द्वारा प्रबंधित आवास है जिसमें अक्सर हर व्यक्ति के रहने की व्यवस्था अलग अलग होती हैHostel का प्रबंधन कॉलेजों, विश्वविद्यालयों या कार्यालयों द्वारा किया जाता है । इनमें अक्सर 2 या 2 से अधिक छात्रों को एक ही कमरा या कई बार बेड सांझा करना होता है
पीजी अक्सर महंगे होते हैं पीजी की तुलना में हॉस्टल सस्ते होते हैं, खासकर कि सरकारी कॉलेजों के हॉस्टल काफी सस्ते होते हैं
यहां अगर आपको अकेले के लिए बेडरूम मिला है तो आपको पूरी प्राइवेसी मिलती हैहॉस्टल में प्राइवेसी का सपना देखना भी गलत है, यहां कई छात्रों या लोगों के साथ एडजस्ट करना होता है
Paying Guest में अक्सर कामकाजी लोग होते हैं और अपने काम से काम रखते हैंHostel में आमतौर पर छात्र रहते हैं और हमेशा एक दूसरे के साथ इंटरैक्ट होते हैं
ज्यादातर पीजी साफ सुथरे होते हैं हॉस्टल में साफ सफाई का स्तर पीजी के मुकाबले कम होता है
पीजी में सुरक्षा कम या न के बराबर होती हैहॉस्टल में सप्ताह के सातों दिन और 24 घंटे सुरक्षा प्रदान की जाती है

Paying Guest के फायदे और नुकसान क्या हैं ?

अगर आप एक पेइंग गेस्ट में रहने का मन बना रहे हैं तो सबसे पहले इसके फायदे और नुकसान को अच्छे से समझ लीजिए । जहां एक तरफ पेइंग गेस्ट के कई फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं, जिन्हें नजरंदाज नहीं किया जाना चाहिए । तो चलिए सबसे पहले Paying Guest Benefits समझते हैं:

  • पेइंग गेस्ट फैसिलिटी में आपको खाने से लेकर साफ सफाई की सारी व्यवस्था मिलती है
  • एक पेइंग गेस्ट में अक्सर प्राइवेसी का पूरा ध्यान रखा जाता है
  • गंभीर पढ़ाई और कामकाजी लोगों के लिए पीजी एक अच्छा विकल्प है
  • फ्लैट में रहने के मुकाबले आपको पीजी ज्यादा सस्ते पड़ते हैं
  • एक पीजी में आपको दूसरों से समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता, ज्यादातर लोग अपने काम से काम रखते हैं

जहां एक तरफ पीजी के कुछ फायदे हैं तो इसके कुछ नुकसान भी हैं । तो चलिए अब Paying Guest Drawbacks भी हैं:

  • पेइंग गेस्ट फैसिलिटी में सिक्योरिटी की अच्छी व्यवस्था अक्सर नहीं होती है
  • एक हॉस्टल या लॉज की तुलना में पीजी महंगे होते हैं
  • अक्सर आपको साफ सफाई और मिलने वाले खाने से समझौता करना होता है, आपको वहीं भोजन मिलेगा जो सबको मिलता है
  • कई कारणों से पीजी मालिकों से लड़ाई होती है
  • ज्यादातर पीजी में आपको कॉन्ट्रैक्ट साइन करना होता है और एक तय समय तक रहना पड़ता है । कॉन्ट्रैक्ट तोड़ने पर आपको अलग से चार्जेस देने होते हैं

Paying Guest Facility कैसे ढूंढें ?

अगर आप किसी नए शहर में पढ़ाई या काम करने के उद्देश्य से जा रहे हैं तो सबसे बड़ा सिरदर्द होता है पीजी ढूंढना । लेकिन पेइंग गेस्ट फैसिलिटी ढूंढना आपके लिए परेशानी का सबब तभी बनेगा, जबकि आप अपने स्मार्टफोन का सही इस्तेमाल करना नहीं जानते होंगे । जी हां, आप अपने स्मार्टफोन की मदद से बड़े ही आसानी से एक पीजी ढूंढ सकते हैं । चलिए जानते हैं कैसे:

Step 1: सबसे पहले अपने स्मार्टफोन के लोकेशन को ऑन कर दें ।

Step 2: इसके बाद Google या Maps ऐप पर जाएं ।

Step 3: यहां दिए सर्च बॉक्स में लिखें या वाइस सर्च करें “Paying Guest Near Me” ।

Step 4: आपके सामने नजदीकी सभी पेइंग गेस्ट की फैसिलिटी खुलकर आ जाएंगी । आप किसी भी लिस्टिंग पर क्लिक करके direction, contact number, ratings आदि निकाल सकते हैं ।

Step 5: आपको जो भी पीजी पसंद आता है, उसपर क्लिक करके डायरेक्शन पर जाएं और फिर मैप्स की मदद से आप फैसिलिटी तक पहुंच सकते हैं । आप चाहें तो दिए संपर्क नंबर पर कॉल करके बात भी कर सकते हैं ।

इस तरह आप किसी भी अनजान शहर में भी अपने लिए बड़ी ही आसानी से Paying Guest Facilities की तलाश कर सकते हैं । आपको सुझाव दिया जाता है कि ऑनलाइन लिस्टेड पीजी की रेटिंग जरूर चेक करें, तभी जाकर मालिक से संपर्क करें । ज्यादा बेहतर रेटिंग यानि ज्यादा बेहतर फैसिलिटी ।

Paying Guest Facility से संबंधित जरूरी बातें

अगर आप किसी नए शहर में Paying Guest की सुविधा प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको कुछ बेहद ही जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए । इससे आपको आगे जाकर कोई समस्या नहीं होगी और आप बिना किसी परेशानी के अपनी पढ़ाई या काम जारी रख सकेंगे ।

  • अपने कॉलेज/स्कूल या कार्य क्षेत्र के नजदीकी पीजी फैसिलिटी को प्राथमिकता दें
  • किसी भी पीजी में रहने से पहले उसकी ऑनलाइन रेटिंग चेक करना और इसके बारे में पूछताछ करना न भूलें
  • PG Owner से रहने खाने आदि से संबंधित सभी बिंदुओं पर खुलकर बातें करें और अपने मन में आए सभी प्रश्नों को पूछें
  • कोशिश करें कि पीजी में मौजूद अन्य लोगों से ज्यादा न घुले मिलें और रिश्ते खराब करने की तो बिल्कुल भी न सोचें
  • शोर न करें, कॉन्ट्रैक्ट के नियमों को न तोड़ें और साथ ही धूम्रपान वगैरह से बचें ।
पसंद आया ? शेयर करें 😊

Leave a comment