Deemed University Meaning in Hindi – डीम्ड यूनिवर्सिटी क्या होता है ?

किसी भी university या College में दाखिला लेने से पहले यह आवश्यक होता है कि उसकी जानकारी इकट्ठी करें । आखिर यह आपके भविष्य का सवाल होता है क्योंकि अगले 3 वर्ष से 4 वर्ष का जीवन आपका खर्च होता है । कोई भी फैसला लेने से पहले आपको यह आर्टिकल अंत तक पढ़ना चाहिए जिसमें मैंने Deemed University के बारे में पूरी जानकारी दी है ।

Deemed University Kya Hota Hai प्रश्न के साथ ही राज्य और केंद्रीय विश्वविद्यालय क्या होते हैं इसकी भी जानकारी आपको दी जायेगी । अगर आपने हाल ही में अपनी स्नातक या 12th कक्षा की पढ़ाई पूरी की है तो आपके लिए यह आर्टिकल काफी महत्वपूर्ण साबित होगा । इसलिए इसे अंत तक जरूर पढ़ें और पसंद आए तो शेयर करें ।

Deemed University क्या होता है ?

Deemed University सच्चे मायनों में यूनिवर्सिटी या विश्वविद्यालय नहीं होता है लेकिन उन्हें एक विश्वविद्यालय को प्रदान की जा रही सभी सुविधाएं प्राप्त होती हैं । डीम्ड यूनिवर्सिटी अपने शिक्षण कोर्सेज के साथ ही शुल्क संरचना तय करने के लिए स्वतंत्र होती हैं ।

UGC ने खुद डीम्ड यूनिवर्सिटी को परिभाषित करते हुए कहा है कि:

विश्वविद्यालयों के अलावा अन्य उच्च शिक्षा संस्थान, अध्ययन के विशिष्ट क्षेत्र में बहुत उच्च स्तर पर काम कर रहे हैं, केंद्र सरकार द्वारा यूजीसी की सलाह पर एक संस्थान डीम्ड-टू-बी-विश्वविद्यालय के रूप में घोषित किया जा सकता है।

The University Grants Commission

उदाहरण के तौर पर, Manipal Academy of Higher Education एक Deemed University है जोकि कर्नाटक के मणिपाल में स्थित है । इसे Institution of Eminence का भी सम्मान MHRD ( Ministry of Human Resource Development ) द्वारा दिया गया है । यह अपना syllabus, fee structure, course, faculty hiring और उत्तीर्ण हुए छात्रों को खुद से डिग्रियां दे सकता है ।

डीम्ड यूनिवर्सिटी एक तरह से Autonomous College से मिलता जुलता है । अगर आप विस्तार से जानना चाहते हैं कि Autonomous College और Aided College क्या होता है तो नीचे दिए आर्टिकल पढ़ सकते हैं ।

Deemed, State और Central University में अंतर

अगर आप हाल फिलहाल में किसी यूनिवर्सिटी में दाखिला लेना चाहते हैं तो Deemed University, State University और Central University के बीच का अंतर आपको पता होना चाहिए । इससे आप सही निर्णय ले सकेंगे ।

1. State University

State University यानि राज्य विश्वविद्यालय को आप Public University भी कह सकते हैं जिन्हें राज्य सरकार चलाती है । राज्य विश्वविद्यालयों को स्थानीय विधान सभा अधिनियम के तहत स्थापित किया जाता है । इन विश्वविद्यालयों को राज्य सरकारें चलाती हैं और वित्तीय सहायता भी प्रदान करती हैं ।

राज्य सरकार का पूरा नियंत्रण होने की वजह से सरकार द्वारा ही निर्धारित पाठ्यक्रम, शुल्क संरचना, परीक्षा इत्यादि करवाया जाता है । UGC के अनुसार, 22 नवंबर 2021 तक समय में भारत में कुल मिलाकर 441 राज्य विश्वविद्यालय कार्यान्वित हैं । उदाहरण के तौर पर, Allahabad State University एक राज्य विश्वविद्यालय है ।

2. Central University

भारत में केंद्रीय विश्वविद्यालय या संघ विश्वविद्यालय संसद के एक अधिनियम द्वारा स्थापित किए गए हैं और शिक्षा मंत्रालय में उच्च शिक्षा विभाग के दायरे में हैं । जहां राज्य विश्वविद्यालय राज्य सरकार के अधीन संचालित होता है तो वहीं केंद्रीय विश्वविद्यालय केंद्र सरकार द्वारा संचालित किया जाता है ।

सभी केंद्रीय विश्वविद्यालय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा परिभाषित rules & regulations का पालन करती हैं । मानव संसाधन विकास मंत्रालय ही syllabus, fee structure इत्यादि core decisions लेता है । UGC के अनुसार, 31 मार्च 2021 तक भारत में कुल 54 central universities क्रियान्वित हैं ।

जहां एक ओर State और Central Universities को राज्य सरकार या MHRD द्वारा बनाए rules & regulations को फॉलो करना होता है तो वहीं Deemed University या Deemed-to-be-University अपने मुख्य निर्णयों को लेने के लिए स्वतंत्र है । इस तरह आप समझ गए होंगे कि इन तीनों के बीच मुख्य अंतर क्या है ।

Deemed University का दर्ज कैसे मिलता है ?

अगर कोई विश्वविद्यालय चाहे तो उसे Deemed University का दर्जा मिल सकता है । UGC एक्ट, 1956 के सेक्शन 3 के अनुसार, कुछ जरूरी बदलाव करके कोई भी विश्वविद्यालय डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा प्राप्त कर सकता है । Hindustan Times की एक रिपोर्ट के मुताबिक, वर्ष 2019 में डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा प्राप्त करने के लिए कुछ जरूरी बदलाव किए गए थे ।

इसके लिए किसी भी शिक्षण संस्थान के लिए कम से कम 20 वर्ष का ऑपरेशन बहुत जरूरी है । यानि कि अगर कोई संस्थान 20 वर्षों से लगातार संचालित किया जा रहा है तो उसे डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया जायेगा । इसके अलावा कम से कम 100 शिक्षक, 2000 छात्र और छात्रों व शिक्षकों के बीच 1:20 का रेशियो होना भी अनिवार्य है । अन्य जरूरी eligibility rules हैं:

  • डिस्टेंस मोड में संस्थान कोई भी कोर्स या प्रोग्राम न कराता हो ।
  • NAAC या NBC द्वारा संस्थान को highest grades मिले हों ।
  • कम से कम 3 वर्षों से लगातार अंडरग्रेजुएट और 5 पोस्ट ग्रेजुएट डिपार्टमेंट्स हों ।
  • शिक्षण संस्थान research activity, publishing जैसे अन्य scholarly activities में सम्मिलित हो ।
  • आवश्यक आधारभूत संरचना और मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हों ।
  • शिक्षण आदि कार्यों के लिए अनुभवी और योग्य शिक्षक हों ।

आप अगर विस्तार से deemed university eligibility rules पढ़ना चाहते हैं तो UGC Rules पर जा सकते हैं । आप लिंक पर क्लिक करके पूरा पीडीएफ पढ़ सकते हैं ताकि आपको अच्छे से जानकारी हो जाए कि डीम्ड यूनिवर्सिटी के लिए न्यूनतम योग्यता मानदंड क्या है ।

Deemed Universities in India

भारत में कुल 126 deemed university हैं । अगर कोई deemed to be university यूजीसी और एमएचआरडी के तय मानदंडों पर खरा उतरती हैं और अच्छा प्रदर्शन करती हैं तो उन्हें University का दर्जा भी दिया जा सकता है । अक्सर यह देखा गया है कि डीम्ड विश्वविद्यालय में शिक्षा, शोध और शिक्षण उच्च गुणवत्ता के होते हैं ।

इसके अलावा, इनका infrastructure भी काफी बेहतरीन होता है । डीम्ड यूनिवर्सिटी परीक्षा, सिलेबस, फिर स्ट्रक्चर आदि के लिए स्वतंत्र हैं इसलिए वे updated होते हैं । परीक्षाएं तय समय पर शुरू और खत्म होती हैं तो वहीं सही समय पर परिणाम भी मिल जाता है । एक महत्वपूर्ण बिंदु यह है कि deemed university का कोई एफिलिएट संस्थान नहीं हो सकता है ।

अगर आप इस उहापोह की स्तिथि में हैं कि किस शिक्षण संस्थान में एडमिशन लें तो सबसे पहले उसका online reviews चेक करें । आप गूगल पर किसी भी यूनिवर्सिटी या कॉलेज का नाम लिखकर उसके reviews पढ़ सकते हैं और फिर अपना निर्णय ले सकते हैं । इसके अलावा College Dekho और Shiksha जैसे ऑनलाइन रिव्यू प्लेटफार्म्स पर आप मनचाहे शिक्षण संस्थान की हर जानकारी और review पढ़ सकते हैं ।

Conclusion

Deemed University Meaning in Hindi के इस आर्टिकल में आपने जाना कि डीम्ड यूनिवर्सिटी क्या होता है । इसके अलावा यह राज्य विश्वविद्यालय और केंद्र विश्वविद्यालय से कैसे अलग है । आपको डीम्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना चाहिए या नहीं, यूजीसी द्वारा तय eligibility rules क्या हैं इत्यादि की जानकारी आपने पढ़ी ।

अगर आपके मन में आर्टिकल में बताई गई जानकारी के अलावा, अन्य प्रश्न हैं तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं । आपको आर्टिकल कैसा लगा कॉमेंट करके बताएं और अगर पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.