HDFC Bank History in Hindi – एचडीएफसी बैंक का इतिहास

We Understand Your World टैगलाइन के साथ भारत के बैंकिंग क्षेत्र में उतरी कम्पनी HDFC आज देश की सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वाली कम्पनी है । 1,50,000 कर्मचारियों के साथ कंपनी भारत की पंद्रहवीं सबसे बड़ी एंप्लॉयर है । आज के लेख में हम इसी एचडीएफसी बैंक के बारे में जानेंगे । इसके साथ ही आपको HDFC Bank History की भी पूरी जानकारी टाइमलाइन के साथ दी जायेगी ।

चाहे आप एक छात्र हों जो बैंक पर रिसर्च कर रहा हो या कोई निवेशक जो कंपनी में निवेश करना चाहता हो, आप सभी के लिए यह आर्टिकल काफी मददगार साबित होगा । एचडीएफसी बैंक का इतिहास, वर्तमान और भविष्य पर भी हम संक्षेप में जानेंगे ।

HDFC Bank Profile

HDFC Bank Profile in Hindi

HDFC Bank Limited एक भारतीय कम्पनी है जो बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं प्रदान करती है । कम्पनी की स्थापना वर्ष 1994 में हुई थी और इसका हेडक्वार्टर मुंबई, महाराष्ट्र में है । वर्तमान में अतनु चक्रवर्ती कम्पनी के चेयरमैन और शशिधिर जगदीशन CEO हैं ।

एचडीएफसी बैंक निम्नलिखित सेवाएं अपने उपभोक्ताओं को प्रदान करती है:

  • Wholesale Banking
  • Retail Banking
  • Treasury
  • Auto Loans
  • Personal Loans
  • Credit Cards

हाल ही में कंपनी को Euromoney Awards for Excellence 2022 की तरफ से Best Bank In India का खिताब भी दिया गया है । चलिए एक नजर डालते हैं कंपनी के महत्वपूर्ण आंकड़ों पर:

1. Revenue: ₹359,695 crore

2. Net income: ₹53,150 crore

3. Total assets: ₹1,422,934 crore

4. Total equity: ₹246,771 crore

Title Description
कम्पनीHDFC Bank Limited
हेडक्वार्टरमुंबई, महाराष्ट्र
स्थापना वर्षअगस्त 1994
CEO शशिधर जगदिशन
कर्मचारियों की संख्या1,50,000 कर्मचारी
वेबसाइटhttps://www.hdfcbank.com/

HDFC Bank Timeline

HDFC Bank History समझने से पहले आपको एचडीएफसी के इतिहास का टाइमलाइन देख लेना चाहिए । इससे आप ज्यादा आसान तरीके से कम्पनी के इतिहास को समझ सकेंगे ।

वर्ष 1994

कम्पनी की स्थापना

HDFC Bank का गठन अगस्त, 1994 में ‘HDFC Bank Limited’ के नाम से हुआ था । कम्पनी का रजिस्टर्ड ऑफिस मुंबई, महाराष्ट्र रखा गया जोकि आज भी वही है ।

वर्ष 1998

एटीएम नेटवर्क के साथ पेमेंट सिस्टम को लिंक करना

एचडीएफसी बैंक एटीएम के साथ दुनियाभर की तीन प्रमुख भुगतान प्रणाली को जोड़ने वाला भारत का पहला बैंक बन गया ।

वर्ष 2000

Online Shopping

बैंक ने पहला B2C Payment Gateway लॉन्च किया

HDFC बैंक ने अपना पहला B2C भुगतान गेटवे लॉन्च किया जो वीज़ा और मास्टरकार्ड क्रेडिट कार्ड धारक को ऑनलाइन रीयल टाइम में लेनदेन करने की सुविधा देता है ।

वर्ष 2001

कंपनी ने खोला अपना पहला बैंक शाखा

बैंक ने औरंगाबाद में अपनी पहली शाखा खोली । इसके बाद वर्ष 2018 में कम्पनी का 100वां शाखा बिहार में खुला ।

2020

App

किसानों के लिए ऐप लांच

एचडीएफसी बैंक ने किसानों के लिए e-Kisaan ऐप लांच किया ।

HDFC Bank History in Hindi

HDFC Bank का गठन अगस्त, 1994 में ‘HDFC Bank Limited’ के नाम से हुआ था । कम्पनी का रजिस्टर्ड ऑफिस मुंबई, महाराष्ट्र रखा गया जोकि आज भी वही है । बैंक ने अपना कार्य वर्ष 1995 में Scheduled Commercial Bank के रूप में करना शुरू कर दिया । आपको पता होना चाहिए कि उस समय के केंद्रीय वित्त मंत्री श्री मनमोहन सिंह जी ने कम्पनी का उद्घाटन किया था ।

वर्ष 1994 में RBI की तरफ से प्राइवेट खिलाड़ियों को यह छूट दी गई कि वे भारतीय बैंकिंग के क्षेत्र में कदम रख सकते हैं । आपको पता होगा कि वर्ष 1991 में ही देश में बड़े बड़े आर्थिक सुधार किए गए थे जिसमें LPG (Liberalisation, Privatisation और Globalisation) मुख्य था । भारतीय बैंकिंग क्षेत्र में प्राइवेट खिलाड़ियों को अनुमति देना Liberalisation का ही एक हिस्सा था ।

The Housing Development Finance Corporation (HDFC) उन बैंकों में से था जिन्हें सबसे पहले ‘in principle’ approval दिया गया था ताकि वे निजी क्षेत्र में बैंक की स्थापना कर सकें । ‘in principle’ approval का अर्थ होता है कि कम्पनी को यह अधिकार दिया गया कि वे भारतीय बैंकिंग और वित्त क्षेत्र में अपना बैंक शुरू कर सकते हैं ।

23 मैं, 2008 में एचडीएफसी बैंक के साथ सेंचुरियन बैंक ऑफ पंजाब के एकीकरण को औपचारिक रूप से भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा स्वीकार कर लिया गया । इस एकीकरण के शर्तों के मुताबिक, CBoP के शेयरहोल्डर्स को HDFC Bank के हर 29 CBoP शेयर पर एक 1 शेयर प्राप्त होगा । यह कम्पनी के लिए महत्वपूर्ण फैसला था जिसका उन्हें काफी फायदा मिला ।

इससे पहले 26 फरवरी, 2000 को HDFC Bank LTD. के साथ ही Times Bank Limited का भी विलय कर दिया गया । प्राइवेट सेक्टर बैंक के क्षेत्र में इस विलय को अबतक का सबसे पहला निजी क्षेत्र बैंकों का विलय माना जाता है । वर्ष 2001 में बैंक ने अपना पहला ब्रांच औरंगाबाद में खोला और 2 वर्ष पूर्व 2018 में बैंक के बिहार ब्रांच ओपनिंग के साथ कुल 100 ब्रांच हो गए हैं ।

HDFC Bank Facts in Hindi

उम्मीद है कि आपको HDFC Bank History समझ आ गया होगा । अब चलिए एक नजर डालते हैं कम्पनी के कुछ तथ्यों पर जिन्हें आपको अवश्य जानना चाहिए ।

1. एचडीएफसी बैंक अपने स्वयं के गृह ऋण नहीं बेचता है, लेकिन कमीशन के बदले में एचडीएफसी लिमिटेड के वितरक के रूप में कार्य करता है ।

2. एचडीएफसी बैंक का फरवरी 2000 में टाइम्स बैंक में विलय हो गया । यह नई पीढ़ी के निजी क्षेत्र के बैंकों की श्रेणी में दो निजी बैंकों का पहला विलय था ।

3. 2 दिसंबर 2020 को, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने HDFC बैंक को नए क्रेडिट कार्ड जारी करने को अस्थायी रूप से रोकने का आदेश दिया था । बैंक की इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग और भुगतान उपयोगिता सेवाओं में व्यवधान की घटनाओं का हवाला देते हुए आरबीआई द्वारा यह कदम उठाया गया था ।

4. HDFC Bank को NCPI – National Payments Excellence Awards प्रदान किया गया ।

5. Financial Year 2022 में कम्पनी को 38,053 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है । कम्पनी लगातार कई वर्षों से भारी मुनाफे में चल रही है ।

FAQs

HDFC Bank History जानने के अलावा आपको बैंक से जुड़े अन्य प्रश्नों का उत्तर भी जानना चाहिए । अक्सर ये प्रश्न इंटरनेट पर पूछे जाते हैं जिनका जवाब नीचे दिया गया है ।

1. HDFC का फुल फॉर्म क्या है ?

HDFC का फुल फॉर्म Housing Development Finance Corporation है जिसकी शुरुआत वर्ष 1994 में की गई थी ।

2. HDFC Bank का हेडक्वार्टर कहां है ?

एचडीएफसी बैंक का हेडक्वार्टर मुंबई गुजरात में है । कम्पनी के CEO शशिधर जगदिशन और MD अतानु चक्रवर्ती हैं ।

3. एचडीएफसी बैंक का वित्तीय वर्ष 2022 में मुनाफा कितना रहा ?

एचडीएफसी बैंक ने वित्तीय वर्ष 2022 में कुल 38,053 करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया है । पिछले कुछ वर्षों से कम्पनी लगातार बड़ा मुनाफा कमा रही है ।

4. HDFC Bank की सेवाएं कौन कौन सी हैं ?

HDFC Bank की निम्नलिखित सेवाएं हैं:
1. Wholesale Banking
2. Retail Banking
3. Treasury
4. Auto Loans
5. Personal Loans
6. Credit Cards

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.