What is Media in Hindi – मीडिया क्या है और इसकी विशेषताएं

हम रोजमर्रा के जीवन में Media का भरपूर इस्तेमाल करते हैं । किताबों से लेकर टेलीविजन तक और वीडियो गेम से लेकर इंटरनेट तक, सबकुछ मीडिया के ही अंतर्गत आता है । यहां तक कि हमारी दिनचर्या की शुरुआत ही सुबह अखबार पढ़ने से लेकर रात को टेलीविजन या सोशल मीडिया के संदेशों को चेक करने तक होती है ।

मीडिया न सिर्फ हमारा मनोरंजन करता है बल्कि हमारे सोचने समझने की क्षमता को भी प्रभावित करता है । लोकतंत्र में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका होती है लेकिन कई बार यही मीडिया लोकतंत्र के विचारों से भी खिलवाड़ करता है । क्यों और कैसे ? जानेंगे हम What is Media in Hindi के इस आर्टिकल में । लेख में आपको मीडिया से संबंधित हर जानकारी दी जायेगी ।

What is Media in Hindi

Media शब्द Medium का ही बहुवचन रूप है । यह एक तकनीक या माध्यम है जिसके माध्यम से बड़ी संख्या के दर्शकों तक संदेश, सूचनाओं और विचारों का आदान प्रदान किया जाता है । प्रत्येक प्रकार के मीडिया में सामग्री और उपकरण दोनों शामिल होते हैं जिसकी मदद से संदेश का प्रसारण संभव होता है ।

टेलीविजन, अखबार, सोशल मीडिया, इंटरनेट, वेबसाइट, रेडियो, पत्र पत्रिकाएं आदि मीडिया की ही प्रमुख उदाहरण हैं । गौर करें तो इन सभी मीडिया के प्रमुख साधनों में सामग्री यानि Content और उपकरण यानि Device शामिल होती है । जैसे टेलीविजन एक उपकरण है और उसके माध्यम से प्रसारित की जा रही सूचनाएं या मनोरंजन एक सामग्री है ।

History of Media in Hindi

विद्वानों और शोधकर्ताओं का मानना है कि ‘Media’ शब्द का प्रयोग 1920s से शुरू हुआ । हम भारतीय परिप्रेक्ष्य में मीडिया का इतिहास समझेंगे और जानेंगे कि इसकी उत्पत्ति और विकास कैसे हुआ । भारत में प्रिंट मीडिया की शुरुआत वर्ष 1780 से हुआ तो वहीं 1970 से ही रेडियो ब्रॉडकास्ट शुरू हुआ । यह कहा जा सकता है कि भारतीय मीडिया 18वीं सदी के अंत से सक्रिय हुआ था ।

यह भी कहा जा सकता है कि Indian Media दुनिया की सबसे पुरानी और सबसे बड़ी मीडिया में से एक है । मीडिया की उत्पति से लेकर इसके संपूर्ण विकास की पूरी यात्रा पर गौर करने पर पता चलता है कि यह ज्यादातर पूर्वाग्रहों से दूषित होने से बचती आई है और इसपर पक्षपात के आरोप कम ही लगे हैं । भारत के महान शासक अशोक के समय भी मीडिया का स्वतंत्र रूप हमें दिखलाई पड़ता है ।

भारत में वर्ष 1975 से लेकर वर्ष 1977 तक इंदिरा गांधी जी द्वारा लगाई गई राष्ट्रीय आपातकाल के दौरान ही हमें मीडिया का डरा और सहमा रूप दिखलाई पड़ता है । उस दौर में मीडिया पर कड़े प्रतिबंध लगाए गए थे और कई पत्रकारों को जेल में भी डाला गया था । वर्तमान समय में भी मीडिया पर कई आरोप प्रत्यारोप लगते रहे हैं जिसे लोग अपनी सहूलियत और स्तिथि को देखते हुए लगाते हैं ।

Examples of Media in Hindi

हमारे रोजमर्रा के जीवन में मीडिया के कई उदाहरण देखने को मिलते हैं । आप अभी अपने स्मार्टफोन की मदद से इंटरनेट से कनेक्ट होकर हमारी वेबसाइट पर सामग्री पढ़ रहे हैं, यह भी मीडिया का ही एक रूप है । आपने अक्सर टेलीविजन पर नेताओं को सुना होगा कि मीडिया बिक गई या मीडिया पूरा सच नहीं दिखाती ।

दरअसल वे पत्रकारिता की ही बात कर रहे होते हैं जोकि मीडिया का ही एक उदाहरण है । चलिए विस्तार से जानते हैं कि Examples of Media क्या क्या है:

  • रेडियो
  • इंटरनेट
  • टेलीविजन
  • अखबार
  • पत्र पत्रिकाएं
  • सोशल मीडिया जैसे इंस्टाग्राम
  • यूट्यूब
  • वीडियो गेम
  • फिल्में

इस तरह आप समझ गए होंगे कि मीडिया के उदाहरण क्या हैं । अगर आप ध्यान से सोचें तो ऊपर दिए गए लगभग सभी मीडिया संसाधनों का उपयोग आप रोजमर्रा के जीवन में करते हैं ।

Types of Media in Hindi

देखा जाए तो मुख्य रूप से मीडिया के कुल 3 प्रकार ही निकलकर सामने आते हैं । Print Media, Broadcasting Media और Internet Media । इन तीनों के बारे में आप विस्तार से नीचे पढ़ सकते हैं ।

1. Print Media

सबसे पहले साथ पर आता है Print Media जिसे हम हिंदी में मुद्रण माध्यम भी कहते हैं । भारत सहित पूरे विश्व में मीडिया का उद्भव और विकास का प्रारंभ ही प्रिंट मीडिया से शुरू होता है । 80 और 90 के दशक में मनोरंजन और सूचनाओं के आदान प्रदान का यह एक मात्र स्रोत था । भारत में प्रिंट मीडिया की शुरुआत 1780 में हुई ।

इसमें मुख्य रूप से अखबार और पत्र पत्रिकाएं शामिल थीं । चलिए एक नजर डालते हैं Examplesof Print Media यानि प्रिंट मीडिया के उदाहरणों पर:

  • अखबार
  • मैगजीन
  • किताबें
  • बैनर
  • पोस्टर
  • बिलिबोर्ड
  • ब्रोशर
  • फ्लायर

2. Broadcasting Media

प्रिंट मीडिया के बाद Broadcasting Media एक महत्वपूर्ण जनसंचार के माध्यम के रूप में प्रकट आता है । शुरुआती दौर में प्रसारण मीडिया पर सरकार का नियंत्रण था । आप अगर 90 के दशक के हैं तो आपको घर की छत से लोहे का बना एंटीना हिलाना याद होगा । उस समय ब्रॉडकास्ट मीडिया का विकास नहीं हुआ था और Doordarshan जैसे चैनलों के माध्यम से मनोरंजन और खबरें प्रसारित की जाती थी ।

इसके बाद भारत में निजी चैनल लगभग 1992 में शुरू किए गए थे । जैसे ही ब्रॉडकास्ट मीडिया में निजी चैनलों का पदार्पण हुआ, इस क्षेत्र में क्रांति आ गई और अब आप ब्रॉडकास्ट मीडिया का सुविकसित स्वरूप देख पा रहे हैं । प्रसारण मीडिया में वीडियो, ऑडियो या लिखित सामग्री शामिल होती है जो महत्वपूर्ण या मनोरंजक जानकारी प्रदान करती है । Broadcast Media के उदाहरण हैं:

  • रेडियो
  • टेलीविजन
  • फिल्में

3. Internet Media

तीसरे स्थान पर आता है Internet Media । भारत में 2019 तक 574 मिलियन सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं । भारत चीन के बाद दूसरा सबसे बड़ा ऑनलाइन बाजार है और यहां सबसे ज्यादा ऑनलाइन सामग्री का उपभोग किया जाता है । अब हर घर में स्मार्टफोन मौजूद है और सबके पास अपना खुद का इंटरनेट कनेक्शन भी है ।

भारत में दुनिया का सबसे सस्ता इंटरनेट मौजूद है और तेज गति से डिजिटलीकरण अभियान के माध्यम से युवाओं और गावों को इंटरनेट से जोड़ा जा रहा है । इस परिस्थिति में अब लोग ऑनलाइन स्मार्टफोन की ही मदद से खबरें देखते हैं और मनोरंजन सामग्रियों का उपभोग करते हैं । ऐसा माना जाता है कि निकट भविष्य में इंटरनेट मीडिया प्रिंट मीडिया और ब्रॉडकास्ट मीडिया को बर्बाद कर देगा ।

Internet Media का सबसे आसान उदाहरण आप Listrovert वेबसाइट को ले सकते हैं जिसपर अभी आप यह जानकारी पढ़ रहे हैं । वेबसाइटें वीडियो, टेक्स्ट और ऑडियो के रूप में जानकारी प्रदान करती हैं । इंटरनेट मीडिया की सबसे अच्छी बात यह है कि हम इसपर पूरा कंट्रोल रखते हैं । चलिए देखते हैं कि Examples of Internet Media क्या हैं:

  • वेबसाइट
  • सोशल मीडिया
  • ऑनलाइन फोरम
  • पॉडकास्ट

Importance of Media in Hindi

मीडिया का हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण योगदान है । आज, हम हर सुबह अखबार देखने के अलावा, lकुछ ही क्लिक के साथ या केवल रेडियो या टेलीविजन पर स्विच करके नवीनतम समाचार और करंट अफेयर्स देख सकते हैं । घर बैठे दुनिया भर की खबरों और मनोरंजन की सामग्रियों को आसानी से प्राप्त किया जा सकता है । क्या आप एक दिन भी बिना Media के कल्पना कर सकते हैं ? बिल्कुल नहीं ।

चलिए एक नजर डालते हैं Importance of Media in Hindi पर:

1. Media हमें दुनिया भर में होने वाली विभिन्न घटनाओं के बारे में सूचित करता है । मीडिया की मदद से हमें विभिन्न विषयों पर ज्ञान प्राप्त होता है । मीडिया सूचना के प्रसार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है ।

2. मीडिया की सबसे महत्वपूर्ण भूमिकाओं में से एक समाज को शिक्षित करना है। हम विभिन्न उत्पाद समीक्षाओं का पता लगा सकते हैं और उनका विश्लेषण कर सकते हैं । विभिन्न वस्तुओं के लिए कीमतों की तुलना कर सकते हैं । Media की मदद से राजनीति, फैशन, युद्ध, मौसम, स्वास्थ्य और बहुत कुछ के बारे में समाचार पढ़ सकते हैं ।

3. मीडिया बिना किसी पूर्वाग्रहों के दूषित हुए बिना हमें सच्चाई दिखाने का सामर्थ्य रखती है । मीडिया हमें गुमराह होने से बचाती है और निर्भीकता से सभी पक्षों को दर्शकों/श्रोताओं/पाठकों के समाने रखती है ।

4. मीडिया की ही मदद से हम घर बैठे ऐतिहासिक घटनाओं के साक्षी बन पाते हैं । चाहे क्रिकेट वर्ल्ड कप हो या प्रधानमंत्री/राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह हो, सभी ऐतिहासिक घटनाएं हमें घर बैठे Media की ही मदद से मिल पाती हैं ।

5. Media की सबसे अच्छी बात यह है कि ये बुराई के खिलाफ आवाज उठाती है । अगर आप गौर करें तो जो खबरें मीडिया उठा लेती हैं इनपर सरकार और प्रशासन का ध्यान भी जाता है । जो खबरें टेलीविजन पर प्रसारित होती हैं, उन खबरों की समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की जाती है और समाधान भी निकाला जाता है ।

6. मीडिया सूचना और ज्ञान प्रदान करके हममें जागरूकता को प्रज्वलित करता है । हम न सिर्फ देश दुनिया की खबरों को जान समझ पाते हैं बल्कि एक बेहतर नागरिक भी बनते हैं । किस उत्पाद का सेवन करना सही है, किन जगहों पर जाना मना है, आदि कई जानकारियां हमें मीडिया की मदद से प्राप्त होती है ।

7. मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है और उसे मनोरंजन पसंद है । पशुओं को मनोरंजन से कोई वास्ता नहीं है लेकिन मनुष्य सिर्फ और सिर्फ काम ही नहीं कर सकता । ऐसे में Media की महत्वपूर्ण भूमिका सामने आती है । मीडिया हमारा घर बैठे मनोरंजन करती है ।

क्या मीडिया कुछ मायनों में नुकसानदायक है ?

Media को हम नुकसानदायक कह भी सकते हैं और नहीं भी । उदाहरण के तौर पर इसकी वजह से हम घर बैठे दुनियाभर का समाचार प्राप्त करते हैं, मनोरंजन सामग्रियों का उपभोग करते हैं और एक जागरूक नागरिक बनते हैं । लेकिन इसका एक दूसरा पहलू यह भी है कि इसकी वजह से सामाजिक और सांस्कृतिक मूल्यों का क्षरण भी हुआ है ।

सोशल मीडिया, टेलीविजन, इंटरनेट के जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल से हमारी सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है । लोग मोटापे और मानसिक बीमारियों के शिकार हो रहे हैं । इसके साथ ही जहां मीडिया हमें जागरूक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है तो वहीं मीडिया का एक भाग दुष्प्रचार के काम में भी संलग्न है । तो कहा जा सकता है कि कुछ मायनों में Media हानिकारक भी है ।

Media interference in human life

इंटरनेट ने संचार के चैनल बनाए हैं जो समाचार प्रसारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, और Social Media में न केवल संदेश, बल्कि राजनीतिक भ्रष्टाचार, मूल्यों और राजनीति में संघर्ष की गतिशीलता को बदलने की शक्ति है रखते हैं । कई बार चर्चाओं में सोशल मीडिया का कड़ी आलोचना की गई है क्योंकि यह देशों में होने वाले चुनावों को प्रभावित करता है ।

इसके नकारात्मक पक्ष पर अगर दृष्टि डालें तो कह सकते हैं कि यह लोकतंत्र के लिए हानिकारक है । दुनिया में फेक न्यूज का प्रसार तेजी से हो रहा है और पूरी दुनिया इसे लेकर चिंतित है । राजनीति और राजनेताओं से जुड़ी झूठी खबरों की वजह से भी लोगों के decision making को प्रभावित किया जाता है ।

यह कहा जा सकता है कि जहां Media के कई सकारात्मक पहलू हैं तो कई नकारात्मक पहलू भी हैं । मीडिया की वजह से लोगों अंदर आत्मसम्मान की भावना में कमी देखने को मिली है । तो वहीं दूसरी तरफ इसकी वजह से लाखों करोड़ों नौकरियां भी सृजित हुई हैं ।

FAQs

इंटरनेट पर अक्सर Media से सम्बन्धित सवाल पूछे जाते हैं । इन सभी प्रश्नों को नीचे सूचीबद्ध किया गया है और उनके उत्तर दिए गए हैं । आपके मन में भी अगर विषय से संबंधित कोई प्रश्न हैं तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं ।

Q1. मीडिया का हिन्दी अर्थ क्या होता है ?

मीडिया को हिंदी में हम उस तकनीक से संदर्भित करते हैं जिसकी मदद से एक बड़ी संख्या के दर्शकों तक सूचनाएं प्रसारित की जा सकती हैं । मीडिया में सामग्री और उपकरण का समावेश होता है ।

Q2. Media का क्या काम है ?

मीडिया का कार्य दर्शकों/पाठकों/श्रोताओं तक सूचनाओं का प्रसारण है । इसके साथ ही मीडिया की जिम्मेदारी मनोरंजन सामग्रियों का वितरण भी है ।

Q3. मीडिया के कितने प्रकार हैं ?

मीडिया के कुल 3 मुख्य प्रकार हैं:
1. प्रिंट मीडिया
2. ब्रॉडकास्ट मीडिया
3. इंटरनेट मीडिया

Q4. मीडिया के उदाहरण क्या हैं ?

टेलीविजन, रेडियो, समाचार पत्र, पत्रिकाएं, सोशल मीडिया, इंटरनेट, वेबसाइट आदि मीडिया के उदाहरण हैं ।

Q5. Media शब्द का प्रयोग कब शुरू हुआ ?

विद्वानों और शोधकर्ताओं का मानना है कि मीडिया शब्द का प्रयोग वर्ष 1920 से शुरू हुआ था । हालांकि इसका उद्भव इससे कई वर्ष पूर्व हो चुका था ।

Conclusion

What is Media in Hindi के इस आर्टिकल में आपने जाना कि मीडिया क्या है, मीडिया के उदाहरण, मीडिया का इतिहास और प्रकार आदि । मीडिया किस प्रकार हमारे रोजमर्रा के जीवन में उपयोगी है और हमारे निर्णय लेने की क्षमता को प्रभावित करती है, इसके बारे में भी आपने विस्तार से समझा ।

हमें उम्मीद है कि आपको ऊपर दी गई जानकारी पसंद आई होगी । अगर आपके मन में आर्टिकल से सम्बन्धित कोई भी प्रश्न है या आप अपनी राय/विचार व्यक्त करना चाहते हैं तो कॉमेंट बॉक्स में आपका स्वागत है । आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर अवश्य करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.