Dropshipping meaning in Hindi – ड्रॉपशिपिंग क्या है और कैसे करें ? ( Pdf )

आपने अपने जीवन में कई बार Dropshipping के बारे में सुना होगा । इसके साथ ही आपने यह भी देखा / पढ़ा / सुना होगा कि लोग इससे अच्छा खासा पैसा कमा रहे हैं । ऐसे में आपके मन में प्रश्न उठना लाजमी है कि dropshipping meaning in Hindi क्या है और यह कैसे काम करती है ?

इस पोस्ट के जरिए हम आपको ड्रोपशिपिंग से जुड़े हर बिंदु को सिलसिलेवार ढंग से समझाएंगे । आज के digital युग में जहां नौकरियां खत्म होती जा रही हैं और हर जगह इंटरनेट और टेक्नोलॉजी का ही बोलबाला है । ऐसे में अगर आप इंटरनेट द्वारा कमाई करने के तरीकों और terms को बेहतरीन तरीके से नहीं जानेंगे , तो आप पीछे छूट जाएंगे ।

इसलिए इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें और हमें पोस्ट के अंत में दिए Follow on instagram बटन से फॉलो जरूर करें जहां हम informational videos और graphics पोस्ट करते है । तो चलिए जानते हैं dropshipping meaning in Hindi के बारे में –

Dropshipping meaning in Hindi

Dropshipping meaning in Hindi

Dropshipping एक ऑनलाइन बिजनेस है जिसमें एक e commerce स्टोर को प्रोडक्ट्स के स्टॉक रखने की जरूरत नहीं पड़ती है । इसके बजाय , वे सीधे ग्राहकों के ऑर्डर्स लेते हैं और सप्लायर्स से उस प्रोडक्ट को खरीद कर ग्राहक को भेजते हैं ।

ध्यान रखें कि एक Dropshipper सिर्फ original manufacturer या wholesaler के सामान को अपने मनमुताबिक मूल्य पर बेचने का काम करता है । Manufacturer या Wholesaler उस प्रोडक्ट के original cost से सिर्फ मतलब रखता है न कि आप ग्राहक को कितने रुपए में सामान बेच रहे हैं उससे । इस तरह आप dropshipping meaning in Hindi समझ गए होंगे ।

अगर आप Dropshipping kya hai का pdf डाउनलोड करके ग्राफिक्स के माध्यम से इसे समझना चाहते हैं तो डाउनलोड कर सकते हैं –

Dropshipping example in Hindi

मान लीजिए कि किसी भी वस्तु की Wholesale कीमत 500 रुपए है परन्तु एक dropshipping store उसी वस्तु को 900 रुपए या 1200 रुपए में भी बेच सकता है । Wholesaler को सिर्फ उसके original cost यानि 500 रुपए से ही मतलब है । इसके अलावा एक dropshipping shop जितना भी मुनाफा कमाती है , सब dropshipper का ।

इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि आप अपने dropshipping store में सिर्फ बेचे जाने वाले वस्तुओं को display करते हैं , न कि उसे अपने पास रखते हैं । जब भी कोई कस्टमर आपके ऑनलाइन शॉप में किसी प्रोडक्ट और उसकी कीमत देखकर प्रोडक्ट खरीदने को तैयार होता है तो आप उस प्रोडक्ट के original wholesaler या manufacturer को कस्टमर का एड्रेस और अन्य जरूरी चीजें भेज देते हैं ।

इस तरह आपको आपका रुपया मिल जाता है और होलसेलर या मैनुफैक्चरर को अपना । इस तरह आप बेहतरीन तरीके से Dropshipping meaning in Hindi समझ गए होंगे । इसे हिंदी में सीधी आपूर्ति भी कहते हैं । अगर आप dropshipping meaning in Hindi के बारे में infographics की मदद से समझना चाहते हैं तो –

Dropshipping business model in Hindi

Benefits of Dropshipping in Hindi

यह बहुत जरूरी है कि आप benefits of dropshipping in Hindi जान लें ताकि आपको इस फील्ड में आने के लिए motivation मिल सके –

1. बहुत ही कम लागत में शुरू करें

अगर आप चाहते हैं कि आपको किसी भी प्रोडक्ट को न बनाना पड़े और न ही उसका स्टॉक रखना पड़े , फिर भी आप profit कमाएं तो ऐसे में dropshipping आपके लिए ही है । जब आपको inventory और manufacturing करनी ही नहीं है , तो ऐसे में आप काफी रुपए आसानी से बचा सकते हैं ।

इसकी मदद से आप मिनटों में कमाई शुरू कर सकते हैं । हालांकि , ऐसा भी नहीं है कि आपको बिल्कुल भी लागत नहीं लगानी पड़ेगी । आपको brand building process जैसे advertisements वगैरह और वेबसाइट बनाने में खर्च आएगा । परन्तु , आप manufacturing और inventory रखने के सिर दर्द से छुटकारा पा सकेंगे ।

2. ऑर्डर पूरा करने में भी कम लागत

जब कोई ग्राहक आपके e – commerce स्टोर से कोई भी प्रोडक्ट ऑर्डर करेगा तो आपको सिर्फ shipment address और अन्य जरूरी details ही supplier को भेजनी होती है । Packing , labelling , tracking , shipping इत्यादि कार्य 3rd party करती है , आपको सिर्फ ग्राहक के orders लेने हैं और हर जरूरी इंफॉर्मेशन supplier को हैंडल करना है ।

इस तरह से आप बहुत ही कम लागत में यह कर पाएंगे और प्रॉफिट भी कमा पाएंगे । कुछ cases में , shipping आपको करनी पड़ सकती है ।

3. आप आसानी से experiments कर सकते हैं

Online earning अगर आप कर रहे हैं तो आपको हर वक्त experiments करने के लिए तैयार रहना चाहिए । यह इसलिए क्योंकि यह मार्केट हर इंसान के लिए अलग ढंग से काम करता है । अगर आपके पास unique ideas हैं , creativity है और आप smart work करने के लिए तैयार हैं तभी आप ऑनलाइन कमाने की सोचें ।

Dropshipping में भी आप अलग अलग products को बेच सकते हैं और analytics की मदद से यह जान सकते हैं कि आपके लिए क्या और कौनसा प्रोडक्ट ज्यादा बेहतर है । इसके अलावा आप अगर search engine और social media campaigns करते हैं तब भी आप जान सकते हैं कि कस्टमर्स किस ओर ज्यादा झुके हैं । इसलिए यह काम प्रयोगों से भरा पड़ा है ।

4. अपने मन मुताबिक जगह से काम करें

आप इस काम को दुनिया के किसी कोने से कर सकते हैं बशर्ते आपके लैपटॉप / device में तेज इंटरनेट कनेक्शन हो । Dropshipping की सबसे अच्छी बात यही है कि इसमें आप मन चाहे समय और लोकेशन से काम करके प्रॉफिट कमा सकते हैं ।

आपके पास एक अच्छी e – commerce वेबसाइट हो , एक लैपटॉप / डेस्कटॉप हो , तेज इंटरनेट कनेक्शन हो और अपने suppliers और buyers से आप कनेक्शन में हैं तो आप कहीं से भी यह काम कर सकते हैं ।

5. सैकड़ों प्रोडक्ट्स बेच सकते हैं

आप Niche चुन सकते हैं परन्तु शुरुआती दौर में किसी niche के ही वस्तुओं को बेचना आपके लिए परेशानी का सबब बन सकता है । इसलिए जैसा कि मैंने पहले ही बताया , आपको सबसे पहले experiments करना चाहिए और wide range of products को बेचना चाहिए । इससे आपको धीरे धीरे पता चलता जाएगा कि आपके लिए सबसे बेहतर कौनसा प्रोडक्ट perform कर रहा है ।

How to write book review in Hindi with example- पुस्तक समीक्षा कैसे करें

Everything about Digital Marketing in Hindi – डिजिटल मार्केटिंग क्या है ?

Custom Duty and Excise Duty in Hindi

NEFT , RTGS , IMPS , ECS in Hindi

इसके बाद आप आसानी से कोई भी niche चुन सकते हैं और उससे जुड़े products को बेच सकते हैं । यह बहुत ही आसानी process है और कम से कम खर्च में आप अपना dropshipping business बहुत ऊपर तक लेकर जा सकते हैं ।

How to do dropshipping business in hindi

Dropshipping meaning in Hindi के इस पोस्ट में अगला प्वाइंट है कि how to do dropshiiping business in Hindi यानि इसे कैसे करें ? चलिए जानते हैं –

1. Supplier को चुनें

आपको एक ऐसे supplier को ढूंढना या यूं कहें कि चुनना है जो पूरी तरह से भरोसेमंद हो । जैसा कि आपको पहले ही पता है कि यह ऑनलाइन किया जाने वाला काम है इसलिए आप उससे शायद ही या कभी भी नहीं मिलेंगे । ऐसे में ड्रापसिपिंग करने के लिए सबसे पहले एक भरोसेमंद Dropshipping supplier चुनना सबसे जरूरी काम हो जाता है ।

भारत जैसे देश में एक बेहतरीन supplier ढूंढना इतना भी आसानी काम नहीं है । आपको हर व्यक्ति यह कहता हुआ मिलेगा कि वह इस काम में best है , परन्तु आपको उसके work profile से लेकर सभी चीजों पर ध्यान देना है । आगे आप पछताकर भी कुछ न पा सकेंगे इसलिए be careful !

2. निर्णय लें कि आपको कौनसा प्रोडक्ट बेचना है

दूसरा सबसे जरूरी स्टेप यह है कि आप कौनसा product अपने ग्राहकों को offer करना चाहते हैं । यह पूरी तरह से आपके भरोसेमंद supplier के manufacturing products पर निर्भर करता है कि उसके पास कितने variety of products मौजूद हैं ।

आप उनके पास मौजूद products पर पूरी तरह से research करें और मार्केट के डिमांड को समझें । इसके साथ ही आप उन प्रोडक्ट्स को e-commerce stores जैसे Shopclues , Flipkart , Myntra इत्यादि पर देखें ताकि आपको उनके featured images , price , ratings इत्यादि का पता चल सके ।

3. GSTIN बनवाना अतिआवश्यक

अगर आपकी कंपनी registered है तो आपको अपने supplier को GSTIN नंबर देना है ताकि भविष्य में होने वाले सभी लेन देन के input credits पर आप claim कर सकें । इसके अलावा , अगर आपकी कोई कंपनी नहीं है या वह officially रजिस्टर्ड नहीं है तभी भी आप व्यक्तिगत तौर पर dropshipping कर सकते हैं ।

एक बात का ध्यान रखें कि किसी भी supplier से बिजनेस की शुरुआत करने से पहले GST से जुड़े सभी जरूरी चीजों के बारे में Clarification ले लें ताकि भविष्य में आपको किसी भी प्रकार के legal issues का सामना न करना पड़े ।

4. अपने dropshipping store के लिए वेबसाइट बनाएं

अपने dropshipping business को आगे ले जाने के लिए आपको सबसे पहले online presence बनानी होगी । इसके लिए सबसे बेहतरीन तरीका वेबसाइट बनाने का है । इसके लिए आप Shopify की मदद ले सकते हैं । इसके अलावा आपके पास WordPress भी एक बेहतरीन विकल्प है ।

आपको एक बढ़िया domain name लेना है जो आपके business या niche से relate करता हो और इसके साथ ही hosting भी । इसके लिए आप Godaddy या Bluehost की मदद ले सकते हैं । आपको एक clean , easily navigative और beautiful वेबसाइट बनानी है और यह ध्यान रखना है कि विजीटर्स आपके वेबसाइट पर आते ही bounce back न हों ।

5. Products को लिस्ट करें और मार्केटिंग की शुरुआत करें

अंत में आपको चुने हुए सभी products को अपने वेबसाइट पर सही तरीके से list करना है । इसमें आपको हर प्रोडक्ट के अलग अलग colour / size / price variant देने हैं ताकि प्रोडक्ट के बेचे जाने के chance में बढ़ोत्तरी हो सके । इसके साथ ही जिस भी ग्राहक आपके वेबसाइट से प्रोडक्ट खरीदे , उसके reviews / ratings की भी सुविधा होनी चाहिए ।

Amazon और Flipkart जैसे बड़े वेबसाइट्स पर आपको आसानी से किसी भी प्रोडक्ट के reviews / ratings आसानी से देखने को मिल जाएंगे जो किसी भी ग्राहक को प्रोडक्ट खरीदने के लिए प्रेरित करते हैं । इसकेे साथ ही आपको social media marketing और ad campaigns चलाने हैं तभी जाकर लोगों को आपके और आपकी कंपनी के बारे में पता चलेगा । अगर सब कुछ आपने सही से किया तो आपके हाथ सफलता ही लगेगी ।

How to start dropshipping in Hindi ?

जब आप हर तरह से dropshipping करने के लिए तैयार हो चुके होंगे और अपने वेबसाइट के माध्यम से प्रोडक्ट नहीं बेचना चाहते हैं तो आपके पास इसे करने के लिए मुख्यता दो options होंगे – Amazon और Ebay । चलिए दोनों पर dropshipping करने के बारे में आपको संक्षेप में समझाते हैं –

1. Amazon

आज के समय में दुनिया की अगर सबसे बड़ी e-commerce साइट कोई है तो वह है Amazon । इसकी मदद से dropshipping करना बहुत ही आसान है । आपको बिल्कुल भी traffic या SEO के लिए माथापच्ची करने की जरूरत नहीं पड़ेगी । आप जैसे ही dropshipping business on Amazon की शुरुआत करते हैं वैसे ही आपके पास हजारों लाखों की audience मौजूद होगी ।

Amazon पर इस रिटेल बिजनेस को करने के निम्नलिखित फायदे हैं –

  • आपको SEO करने और सीखने की जरूरत बिल्कुल नहीं है
  • warehouse या inventory रखने की जरूरी नहीं है
  • Packing , labelling और shipping के सिर दर्द से छुटकारा
  • यह बहुत ही आसान process है

2. Ebay

Ebay दुनिया की सबसे बड़ी physical goods के auction का काम करती है । आज के समय में ज्यादातर लोग इसका नाम जानते हैं और दिन प्रतिदिन यह ज्यादा लोकप्रिय हो रही है । ऐसे में dropshipping business on Ebay भी एक बेहतरीन ऑप्शन रहेगा ।

Ebay से इस रिटेल बिजनेस को करने के निम्नलिखित फायदे हैं –

  • इसपर dropshipping करने का process काफी आसान है
  • आपको बड़ी मात्रा में audience मिलेगी
  • आपको SEO या traffic generate करने की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है
  • इसकी मदद से आपको कम से कम marketing करने की जरूरत पड़ेगी

दोनों platforms के लगभग एक ही फायदे हैं । अब यह आपके ऊपर है कि आप किस platform को अपने बिजनेस के लिए ज्यादा तरजीह देते हैं ।

FAQs on dropshipping in Hindi

तो चलिए जानते हैं उन प्रश्नों के उत्तर जिन्हें इंटरनेट पर सबसे ज्यादा पूछे जाते हैं –

1. क्या dropshipping business फायदेमंद है ?

जी हां , ड्रोपशिपिंग एक profitable business है बशर्ते आप इसे सही ढंग से करें । आपको इस बिजनेस में किसी भी प्रकार की inventory रखने की जरूरत नहीं पड़ती है और labelling , packing इत्यादि का भी खर्च बच जाता है ।

हालांकि , जब भी आप अपने ऑनलाइन स्टोर में किसी भी प्रोडक्ट के दाम को तय करें तो उसमें shipping और marketing का आपका खर्च भी जुड़ा हो । तभी जाकर आप profit कम पाएंगे ।

2. क्या अपने ऑनलाइन स्टोर के लिए products को खरीदना होगा ?

जी नहीं , आपको ड्रॉपशिपिंग के बिजनेस में किसी भी प्रोडक्ट को खरीदने की जरूरत नहीं पड़ती है । आपको बस उस प्रोडक्ट को virtually अपने ऑनलाइन स्टोर में display करना होता है । जैसे ही कोई customer आपके स्टोर से सामान को ऑर्डर करे , आपको बस वह ऑर्डर supplier तक पहुंचाना है ।

इस तरह आप किसी भी प्रोडक्ट को बिना खरीदें , प्रॉफिट के साथ बेच सकते हैं वो भी एक ऑनलाइन स्टोर के मदद से । हालांकि , अगर आप चाहें तो display कर रहे प्रोडक्ट्स के samples को खरीद कर आजमा सकते हैं कि यह आपके ग्राहक के लिए फायदेमंद होगा या नहीं ।

3. क्या आपको अपने बिजनेस को रजिस्टर भी कराना पड़ेगा ?

जी हां , आपको अपने बिजनेस को dropship entity के अंतर्गत रजिस्टर कराना होगा । इससे आपको आने वाले समय में काफी फायदा भी मिलेगा , खासकर की legal चीजों में । इसका यह मतलब नहीं कि आप बिजनेस की शुरुआत करते ही उसे रजिस्टर भी करा लें । सबसे पहले अपने सामना को consistently बेचें और प्रॉफिट कमाएं ।

जैसे ही आप किसी earning level को क्रॉस करेंगे , आपके सप्लायर आपसे खुद रजिस्टर करने को कहेंगे । अगर आप अपनी कंपनी को भारत में रजिस्टर करना चाहते हैं तो यह वीडियो देख सकते हैं –

4. लोग इस बिजनेस में fail क्यों होते हैं ?

Dropshipping के इस बिजनेस में fail होने के मुख्य कारण है –

  • बिना किसी niche research किए इस फील्ड में जाने से
  • बिजनेस को टाइम न देने से
  • सही ढंग से marketing न करने से

5. क्या भारत में dropshipping करना फायदे का सौदा है ?

भारत में अगर आप dropshipping सही ढंग से करते हैं तो यह दुनिया का तेजी से बढ़ने वाला मार्केट आपको बहुत मुनाफा कमा कर देगा । भारत में e – commerce sales 51% के हिसाब से बढ़ रही हैं । 2020 – 2021 के अंत तक भारत में e – commerce sales लगभग $120 billion तक पहुंचने की संभावना है ।

Dropshipping meaning in Hindi – conclusion

इस पोस्ट में आपने विस्तार से dropshipping meaning in Hindi के बारे में जाना । इस बिजनेस को करने के लिए जितने भी चीजों की जरूरत पड़ती है , उन सभी के बारे में हमने इस पोस्ट में आपको विस्तार से समझाया । अगर आपको यह पोस्ट helpful लगी हो तो शेयर करें और ज्यादा बेहतरीन graphics और videos के लिए नीचे दिए गए Follow on instagram बटन से हमें फॉलो भी करें ।

इसके साथ ही आप dropshipping meaning in Hindi के इस पोस्ट के बारे में क्या राय रखते हैं , आपके अन्य कौनसे प्रश्न है सभी कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.