Legal Heir Meaning in Hindi – लीगल हेयर सर्टिफिकेट क्या है ?

शादी विवाह, संपत्ति, तलाक जैसे विषयों की जब बात आती है तो Legal Heir की भी चर्चा की जाती है । लीगल हेयर कानूनी शब्द है जिसे अक्सर संपत्ति के मामले में इस्तेमाल में लाया जाता है । इससे जुड़े विशेष प्रावधान भी बनाए गए हैं । लेकिन सबसे बड़ा प्रश्न है कि Legal Heir Meaning in Hindi क्या है और इससे जुड़े कानून क्या हैं ?

किसी परिवार में जब मुखिया की अचानक से मृत्यु हो जाती है तो उस परिस्थिति में मुखिया की संपत्ति का हस्तानांतरण आवश्यक हो जाता है । लेकिन यह इतना भी आसान नहीं है जितना कि सुनने में लगता है । बल्कि इसके लिए अलग से कानून बनाए गए हैं जिनका अनुसरण करके ही किसी अन्य को पूरी संपत्ति का उत्तराधिकारी बनाया जा सकता है । आर्टिकल के अंत में कुछ रोचक प्रश्न इस विषय से जोड़े गए हैं जिन्हें आपको जरूर पढ़ना चाहिए ।

Legal Heir Meaning in Hindi

Legal Heir का हिंदी अर्थ कानूनी उत्तराधिकारी होता है । यह कानूनी भाषा का शब्द है जिसका इस्तेमाल किसी ऐसे व्यक्ति की मृत्यु के पश्चात किया जाता है जिसने अपनी संपत्ति का वसीयतनामा नहीं किया था । इस परिस्थिति में संपत्ति के कानूनी उत्तराधिकारी की पहचान करके संपत्ति उसे सौंपी जाती है ।

भारत में कानूनी उत्तराधिकार के नियम Hindu personal law और Muslim Personal Law में अलग अलग हैं । किसी व्यक्ति को कानूनी उत्तराधिकारी घोषित करने के लिए legal heir certificate भी बनवाया जाता है जिसकी जानकारी भी आपको नीचे दी गई है । तो चलिए सबसे पहले देखते हैं कि हिंदू पर्सनल लॉ में legal heir से जुड़ा कानून क्या है ।

Hindu Personal Law के अंतर्गत legal heir

हिंदू पर्सनल लॉ के तहत अगर किसी पुरुष की मृत्यु हो जाती है तो उसकी सारी संपत्ति उसके उत्तराधिकारियों को दी जाती है । ये legal heir इनमें से कोई भी हो सकता है:

  • बेटी
  • बेटा
  • विधवा
  • माता
  • पूर्व मृत पुत्र का पुत्र
  • पूर्व मृत बेटे की बेटी
  • पूर्व मृत पुत्री का पुत्र
  • पूर्व-मृत पुत्र की विधवा
  • पूर्व-मृत पुत्र के पूर्व-मृत पुत्र का पुत्र
  • पूर्व मृत पुत्र के पूर्व मृत पुत्र की पुत्री
  • पूर्व-मृत पुत्र के पूर्व-मृत पुत्र की विधवा

Hindu Succession Act के Class (1) में इन उत्तराधिकारियों की जानकारी दी गई है । इस तरह संपत्ति का legal heir इन्हीं में से कोई हो सकता है । लेकिन कई बार ऐसी परिस्थितियां भी आ जाती हैं कि ऊपर दिए गए व्यक्तियों में से कोई जिंदा नहीं है तो फिर Class (2) के अंतर्गत दिए गए उत्तराधिकारियों को संपत्ति सौंपी जाती है । वे हैं:

  • पिता
  • बेटे की बेटी का बेटा
  • बेटे की बेटी की बेटी
  • भाई
  • बहन
  • बेटी के बेटे का बेटा
  • बेटी के बेटे की बेटी
  • बेटी की बेटी का बेटा
  • बेटी की बेटी की बेटी
  • भतीजा (भाई का बेटा)
  • भांजा (बहन का बेटा)
  • भाई की बेटी
  • भांजी (बहन की बेटी)
  • पिता के पिता
  • पिता की मां
  • पिता की विधवा
  • भाई की विधवा
  • पिता का भाई
  • पिता की बहन
  • नाना
  • मां की मां (नानी)
  • मामा
  • मौसी

तो इस तरह अगर किसी पुरुष हिंदू की मृत्यु बिना वसीयतनामा के होती है तो ऊपर दिए गए संबंधियों को कानूनी तौर पर legal heir माना जा सकता है । ध्यान दें कि उत्तराधिकार के एक क्रम का अनुसरण किया जाता है । यानि सबसे प्रथम में बेटा, बेटी, विधवा, माता, आदि यानि जिस क्रम में पूरी सूची आपको दी गई है, उसी क्रम में कानूनी उत्तराधिकारी की पहचान भी की जाती है ।

लेकिन अगर किसी हिंदू महिला की मृत्यु बिना वसीयतनामा बनाए हो जाती है तो इसके लिए अलग कानून और प्रावधान हैं । इस परिस्थिति में सबसे पहले बेटे, बेटियों, पति और पूर्व मृत बेटे बेटी के पुत्र/पुत्रियों को प्राथमिकता दी जाती है । इसके बाद पति से जुड़े कानूनी उत्तराधिकारियों और माता पिता को प्राथमिकता दी जाती है । फिर पिता से संबंधित कानूनी उत्तराधिकारियों और माता से संबंधित legal heir को सही क्रम में प्राथमिकता देने का प्रावधान है ।

Legal Heir Certificate in Hindi

एक कानूनी उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र सही उत्तराधिकारी की पहचान करता है । जो लोग पूर्व मृत व्यक्ति की संपत्ति प्राप्त करने का दावा करते हैं उनके पास legal heir certificate होना अनिवार्य है । इसका जरूरत क्यों ?

  • मृत व्यक्ति की संपत्ति उसके उत्तराधिकारियों को हस्तांतरित करने के लिए
  • अनुकंपा के आधार पर रोजगार प्राप्त करने के लिए
  • सरकार से भविष्य निधि, ग्रेच्युटी आदि जैसे बकाया प्राप्त करने के लिए
  • बीमा का दावा करने के लिए
  • मृत कर्मचारी की कुटुंब पेंशन स्वीकृत एवं संसाधित करने के लिए
  • मृतक, राज्य या केंद्र सरकार के कर्मचारी का बकाया वेतन प्राप्त करने के लिए

अगर आप legal heir certificate प्राप्त कारण चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेजों का होना अनिवार्य है:

  • हस्ताक्षरित आवेदन पत्र
  • आवेदक की पहचान / पते का प्रमाण
  • मृतक का पता प्रमाण
  • सभी कानूनी उत्तराधिकारियों के जन्म प्रमाण की तारीख
  • मृतक का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • एक स्व-उपक्रम affidavit
Image source: sscbankgk.in

अगर आप भी हिंदी में कानूनी उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हैं तो ऊपर दिए तस्वीर को देख सकते हैं । यह एक legal heir certificate format और example भी है जिससे आपको भी लीगल हेयर सर्टिफिकेट बनाने में सहायता प्राप्त होगी ।

Frequently Asked Questions

अब बारी है Legal Heir Kya Hota Hai से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के उत्तर की । कानूनी उत्तराधिकार से संबंधित अक्सर इंटरनेट पर प्रश्न पूछे जाते हैं जिन्हें FAQ कहा जाता है, इनका उत्तर आप नीचे पढ़ सकते हैं ।

1. क्या live in relationship में जन्म बच्चा कानूनी उत्तराधिकारी हो सकता है ?

सुप्रीम कोर्ट ने विद्याधारी और सुखराना बाई के एक केस में यह फैसला सुनाया था कि लिव इन रिलेशनशिप में जन्म बच्चा भी legal heir माना जायेगा ।

2. क्या लीगल हेयर सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन आवेदन दिया जा सकता है ?

आप लीगल हेयर सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन आवेदन भी दे सकते हैं जिसके लिए आपको अपने जिला के e portal पर जाकर फॉर्म सही सही भर सकते हैं और मांगे गए सभी दस्तावेजों को भी अटैच कर सकते हैं ।

3. Legal Heir Certificate और Succession Certificate में क्या अंतर है ?

Legal heir certificate का उपयोग ग्रेच्युटी, पेंशन, बीमा, पीएफ, सेवानिवृत्ति के दावों आदि के लिए किया जाता है । Succession certificate भारत में न्यायालयों द्वारा ऋण और प्रतिभूतियों को छोड़कर मरने वाले व्यक्ति के कानूनी उत्तराधिकारियों को दिया गया एक प्रमाण पत्र है ।

4. क्या दूसरी पत्नी भी कानूनी उत्तराधिकारी की श्रेणी में आती है ?

Hindu Marriage Act, 1955 के तहत दूसरी पत्नी भी कानूनन एक पत्नी होती है इसलिए उसे भी उत्तराधिकारी माना जाता है । पहली पत्नी की मृत्यु के पश्चात ही दूसरी पत्नी को कानूनी उत्तराधिकारी माना जायेगा ।

Conclusion

Legal Heir Meaning in Hindi के इस आर्टिकल में आपने विस्तार से Legal Heir Kya Hai यानि कानूनी वारिस के बारे में जाना । किसी व्यक्ति के मृत्यु के पश्चात अगर वसीयतनामा नहीं बनाया गया है तो किसे उत्तराधिकारी घोषित किया जाता है, इसकी पूरी जानकारी आपको दी गई है । इसके साथ ही आर्टिकल के अंत में विषय संबंधित रोचक प्रश्नों को भी जोड़ा गया है ।

अगर आपके मन में लीगल हेयर से संबंधित कोई भी प्रश्न है तो आप कॉमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं । आपके प्रश्न का जवाब अवश्य दिया जायेगा । अगर आर्टिकल से आपकी किसी भी प्रकार से मदद हुई हो तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.