Troll Meaning in Hindi in Social Media – ट्रोल क्या है ?

आपने अक्सर सोशल मीडिया पर Troll शब्द सुना होगा । कई ऑनलाइन न्यूज पब्लिकेशन भी एंटरटेनमेट से जुड़ी खबरों में इस शब्द का इस्तेमाल करते हैं । खासकर कि Twitter और Instagram पर ट्रोल शब्द पर बार सुना जाता है । लेकिन क्या आप जानते हैं कि Troll Meaning in Hindi क्या है ? यह सही है या गलत ? आप इससे कैसे बच सकते हैं ? इसके उदाहरण क्या हैं ?

इन सभी प्रश्नों का जवाब आपको इस आर्टिकल में दिया जायेगा । सोशल मीडिया में ट्रोल शब्द के अर्थ के साथ ही आप इसकी विस्तारपूर्वक जानकारी जानेंगे । डिजिटलीकरण के इस युग में हम सभी ऑनलाइन हैं जहां किसी न किसी रूप में हम खुद के विचारों को व्यक्त करते हैं, लोगों से जुड़ते हैं, अपनी तस्वीरें आदि सांझा भी करते हैं । लेकिन कई बार हमें ट्रोल का शिकार होना पड़ता है ।

Troll Meaning in Hindi

Troll के कई हिंदी अर्थ हैं जैसे घुमाना, चक्कर देना, फुसलाना, मछली पकड़ने का कांटा आदि । लेकिन जब हम सोशल मीडिया पर ट्रोल की बात करते हैं तो इसका अर्थ उन व्यक्तियों से होता है जो ध्यान आकर्षित करने, परेशान करने या किसी को परेशान करने के लिए इंटरनेट पर जानबूझकर उत्तेजक या आपत्तिजनक संदेश छोड़ते हैं ।

उदाहरण के तौर पर आपने आए दिन देखा होगा कि सेलिब्रिटी व्यक्तियों की तस्वीरों पर जानबूझकर गलत कॉमेंट किए जाते हैं । कई बार उनके पहनावे, शरीर, रंग, कमाई आदि को लेकर फालतू के आपत्तिजनक संदेश ऑनलाइन छोड़े जाते हैं । अक्सर यह Twitter और Instagram पर होता है । इंटरनेट ने एक तरह से सभी को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता दी है लेकिन इसका गलत इस्तेमाल भी किया जाता है ।

Trolling सही है या गलत ?

सबसे बड़ा प्रश्न यह उठता है कि क्या Troll करना गलत है ? क्या किसी व्यक्ति की त्रुटियों या खामियों के बारे में बोलना/कहना गलत होता है ? ऐसे में जरूरी है कि आप Criticise करने और Troll करने के बीच के अंतर को समझें । जब बात है क्रिटिसाइज करने यानि आलोचना करने की तो सामने वाले व्यक्ति के गुण और दोषों का सबसे पहले विश्लेषण किया जाता है ।

इसके पश्चात व्यक्ति की गलतियों को रचनात्मक तरीके से बोला/लिखा जाता है । जब आलोचना की बात आती है तो इसमें व्यक्ति को किसी भी प्रकार से हानि पहुंचाने या उसे उत्तेजित करने की मंशा नहीं होती है । बल्कि सही आलोचना सामने वाले व्यक्ति को निखारने का काम करती है ।

लेकिन जब हम बात करते हैं trolling की तो इसमें व्यक्तिगत आक्षेप लगाए जाते हैं, आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग होता है और समाने वाले व्यक्ति को उत्तेजित करने की कोशिश की जाती है । ज्यादातर ट्रॉलिंग वे लोग करते हैं जो बदला लेना चाहते हैं या अपनी ओर ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं । कई व्यक्ति सिर्फ मजे के लिए यह करते हैं और जब प्रतिक्रिया भी आ जाती है तो उन्हें और मजा मिलता है ।

इससे यह निष्कर्ष निकलता है कि Troll करना कई मायनों में गलत है । समाज में मतभेद की जगह अवश्य रहनी चाहिए लेकिन मनभेद से बचना चाहिए और किसी भी व्यक्ति के प्रति आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग करना बिल्कुल भी सही नहीं है ।

आप Social Media Troll से कैसे बच सकते हैं ?

अगर आप ऑनलाइन थोड़े भी फेमस हैं या होने वाले हैं तो आपको भी Social Media Troll का शिकार बनना पड़ सकता है । यह जरूरी है कि आप सोशल मीडिया ट्रोल से खुद को बचाएं और उन्हें कोई भी जवान देने से बचें । उनके द्वारा की गई क्रिया पर अगर प्रतिक्रिया मिलती है तो उन्हें खुशी होती है । यानि ट्रोलिंग तो होती रहेगी, बस आपको अपने आप पर ध्यान देना है । कुछ Tips:

  • सबसे पहले उन्हें Block करें ।
  • सोशल मीडिया से कुछ समय के लिए ब्रेक लें ।
  • नजरंदाज करना troll का सबसे अच्छा इलाज है । उन्हें कोई जवाब न दें ।
  • दूसरों से इसके बारे में ज्यादा बातें करने की आवश्कता नहीं है ।
  • अगर आपको किसी खतरे का आभास हो या कुछ गलत लगे तो तुरंत पुलिस को रिपोर्ट करें ।

सोशल मीडिया ट्रोल से बचने के लिए ये सबसे बेहतरीन कदम हैं जिन्हें आप उठा सकते हैं । हमारी व्यक्तिगत राय यही है कि आपको उन्हें जितना संभव हो ब्लॉक करना चाहिए और साथ ही उन्हें जवाब देना जरूरी न समझें । एक प्रचलित कहावत है कि:

सूअरों के साथ कभी कुश्ती न करें । आप दोनों गंदे हो जाते हो और सुअर इसे पसंद करता है ।

George Bernard Shaw

Troll in Social Media Examples

अगर आप विस्तारपूर्वक जानना चाहते हैं कि Troll meaning in Hindi क्या है तो नीचे दिए tweets आप देख सकते हैं । ये ट्रोल के ही कुछ उदाहरण हैं हालांकि Listrovert किसी भी व्यक्ति के प्रति कोई व्यक्तिगत राय नहीं रखता है और किसी को नकारात्मक पेश करने की कोशिश नहीं की गई है ।

Trolling के नकारात्मक प्रभाव

Social Media Troll की वजह से लोगों में depression और anxiety की समस्या देखी गई है । अक्सर लोग इन ट्रॉल्स को हैंडल नहीं कर पाते हैं और उनका आत्मविश्वास नीचे गिर जाता है । ट्रोलिंग की वजह से व्यक्ति के मन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है । कई बार इसकी वजह से व्यक्ति आत्महत्या के बारे में भी सोचना शुरू कर देता है ।

इसकी वजह से व्यक्ति के अंदर असुरक्षा का भाव पैदा होता है । कई सेलिब्रिटी, खेल जगत, साहित्य के व्यक्तियों ने ट्रोलिंग से परेशान होकर अपनी आपबीती बताई है । आप कैसे दिखते हैं, क्या खाते पीते हैं, कैसा आपका रहन सहन है इसपर दूसरों को कॉमेंट करने का अधिकार नहीं है लेकिन दुख की बात है कि trollers ऐसा नहीं सोचते हैं ।

Troll in Hindi – Conclusion

Troll meaning in Hindi के इस आर्टिकल में आपने जाना कि trolling क्या है और यह किस प्रकार गलत है । आलोचना करना और किसी व्यक्ति का मजाक उड़ाना या आपत्तिजनक कॉमेंट करना दोनों अलग अलग हैं । ट्रोलिंग की वजह से व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य पर बुर प्रभाव पड़ता है ।

अगर आपके मन में इस विषय से संबंधित कोई भी प्रश्न है तो नीचे कॉमेंट करके पूछ सकते हैं । अगर आपको आर्टिकल पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.