Self Management Skills in Hindi – स्वयं प्रबंधन कौशल

जिस प्रकार एक बिजनेस को सफल बनाने और सुचारू रूप से चलाने के लिए Marketing Management की जरूरत पड़ती है । ठीक उसी प्रकार से एक व्यक्ति को सफल होने और अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए Self Management की जरूरत पड़ती है । लेकिन यह सेल्फ मैनेजमेंट है क्या, इसके क्या फायदे हैं, इसे कैसे करें ? इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको इस आर्टिकल में दिया जायेगा ।

Self Management Skills in Hindi के इस आर्टिकल के अंत में मैं आपको स्व: प्रबंधन कोर्स की भी जानकारी दूंगा जिसे आप मुफ्त में कर सकते हैं । स्वयं प्रबंधन कौशल के होने से आपको तनाव से मुक्ति मिलती है, आपका खुद के emotions & actions पर पूरा कंट्रोल होता है, इत्यादि । इसके अन्य सभी फायदों के बारे में भी आप आगे जानेंगे ।

Self Management Skills क्या होते हैं ?

स्व-प्रबंधन कौशल यानि Self Management Skills आपके कार्यों, भावनाओं और विचारों को विनियमित और नियंत्रित करने की आपकी क्षमता है । स्व-प्रबंधन का अर्थ है कि आप अपने जीवन के विभिन्न पहलुओं में अपनी व्यक्तिगत जिम्मेदारी को समझते हैं, और आप वह करते हैं जो आपको उस जिम्मेदारी को पूरा करने के लिए चाहिए ।

इसे एक उदाहरण से समझिए, कोई व्यक्ति है जो self managed नहीं है और उसे अपने भावनाओं पर नियंत्रण रखने नहीं आता । ऐसे में वह अपने जीवन के हर पड़ाव में बाहरी दुनिया की ताकतों से प्रभावित होगा । इस व्यक्ति को कोई भी क्रोधित कर सकता है, इसे भावुक कर सकता है इत्यादि । ऐसा व्यक्ति खुद के साथ ही किसी भी संस्था के लिए हानिकारक होता है ।

आज के समय में कंपनियां जब किसी व्यक्ति को hire करती हैं तो उसके self management skills को देखती हैं । यहां तक की UPSC में जब अंतिम चरण में इंटरव्यू होता है तब भी सामने वाले व्यक्ति के emotional intelligence, problem solving skills को परखा जाता है । इससे आपको समझ आ गया होगा कि सेल्फ मैनेजमेंट स्किल्स क्या होता है ।

Self Management Skills List in Hindi

आप अपने Self Management Skills को बेहतर करके अपना जीवन ज्यादा खुशमय और सफल बना सकते हैं । लेकिन, उससे पहले यह जानना जरूरी है कि स्वयं प्रबंधन कौशल के अंतर्गत कौन कौन से Skills आते हैं । तो चलिए जानते हैं:

  • तनाव प्रबंधन
  • समय प्रबंधन
  • कर्त्तव्य निष्ठा
  • अनुकूलन क्षमता
  • विश्वसनीयता
  • भावनात्मक विनियमन

इनके बारे में विस्तार से मैंने Key Skills in Hindi के आर्टिकल में बात की है । आप लिंक पर क्लिक करके पूरा आर्टिकल पढ़ सकते हैं ।

Self Management Skills को बेहतर कैसे करें ?

अब आप अच्छे से जान चुके हैं कि Self Management Skills क्या होते हैं । अगर आप अपने अंदर स्वयं प्रबंधन कौशल का विकास करना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए tips का ध्यान रखना होगा ।

1. Multitasking से बचें

अगर आप स्वयं प्रबंधन कौशल को अपने अंदर विकसित करना चाहते हैं तो Multitasking से बचना बहुत जरूरी है । अक्सर ऐसा माना जाता है कि Multitasking एक गर्व की बात है लेकिन इसकी वजह से stress बढ़ता है और आप किसी एक कार्य पर focus नहीं कर पाते हैं ।

आपको सिर्फ किसी एक ही टास्क पर फोकस करना चाहिए जिससे कि आपको पता हो कि आपकी priorities क्या हैं । जब तक आप अपनी प्राथमिकताएं नहीं set करते हैं, आप किसी कार्य को सुचारू ढंग से पूरा नहीं कर पाएंगे । मल्टीटास्किंग में प्राथमिकताएं तय करना आसान नहीं होता है । इससे तनाव में वृद्धि होती है ।

2. Meditation करें

योग और ध्यान लगाना सदियों से चली आ रही है । आज के भागदौड़ भरे जीवन में लोगों के पास समय नहीं है जिसकी वजह से तनाव बढ़ा है । Self Management Skills का एक मुख्य लक्ष्य ही यही है कि व्यक्ति के अंदर तनाव कम हो । ऐसे में जरूरी है कि आप अपने व्यस्त जीवन से समय निकालकर Meditation और Yoga करें ।

आपको रोज 10 मिनट से लेकर 15 मिनट तक ही बस ध्यान लगाना है । इससे आपके अंदर नई ऊर्जा का संचार होगा और आपके दिमाग को शांत करने में मदद करेगा । जब आप ध्यान की अवस्था में होते हैं तो आपके दिमाग और शरीर को शांति का एहसास होता है और उन्हें ऊर्जा प्राप्त होती है । इससे आप दिनभर के लिए recharge हो पाते हैं ।

3. खुद को समय दें

खुद के साथ date पर जाने का आइडिया कैसा रहेगा ? आप बैठकर सोचिए कि आपने कब खुद को समय दिया था ? हर समय सिर्फ भागदौड़, चिंता, रिश्ते, परिवार, काम के चक्कर में ऐसा तो नहीं की आप खुद को भूलते जा रहे हैं । इसलिए खुद को समय देना बहुत ही ज्यादा जरूरी है । आप सप्ताह में 2 से 3 घंटे खुद के लिए निकाल सकते हैं ।

आप इस time period में relax करें, जो पसंद हो वो करें, खुद को बेहतर महसूस कराएं । इसके अलावा, आप इस अवधि में खुद के performance का आंकलन कर सकते हैं, अपने future plans को सेट कर सकते हैं, इत्यादि । अच्छी नींद लेना, खुद के शारीरिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देना, रोज व्यायाम करना एक तरह से खुद को बेहतर बनाने की दिशा में एक अच्छा कदम है ।

4. बोलने से पहले सोचें

कुछ भी बोलने से पहले सोचने की practice आपको करनी चाहिए । Josh Billings का कहना है कि इस जीवन की आधी परेशानियों का पता बहुत जल्दी हां कहने और ना कहने में ही लगाया जा सकता है । यह एक प्रमुख Self Management Skills में आता है और इससे पता चलता है कि आपका खुद पर कितना नियंत्रण है ।

जब आप किसी संस्था से जुड़े होते हैं और किसी प्रोजेक्ट पर काम कर रहे होते हैं तो सोच समझकर बोलना आपके बड़े काम आ सकता है । गलत समय पर गलत बात बोलने से आप अपनी एक negative image बनाते हैं तो वहीं सही समय पर प्रोजेक्ट के लिए सही insights देना आपको promotion दिलाता है । आपको इन दोनों में से क्या चाहिए, यह आपको चुनना है । न सिर्फ प्रोफेशनल जीवन में बल्कि व्यक्तिगत सामान्य जीवन में भी इस Self Management Skill से आपकी काफी मदद होगी ।

5. धैर्य रखने का अभ्यास करें

अगर आप ध्यानपूर्वक सोचें तो हमारे जीवन की ज्यादातर परेशानियां हमारे धैर्य न रखने की ही वजह से हैं । हम हर व्यक्ति और वस्तु को अपने अधीन, नियंत्रित करके रखना चाहते हैं । लेकिन क्या यह मुमकिन है ? कई बार परिस्तिथियाँ आपके मुताबिक नहीं होती हैं और यही वो समय है जब आपको धैर्य रखना है । Self Management Skills की सबसे महत्वपूर्ण बिंदु है खुद पर धैर्य रखें ।

Patient प्रैक्टिस करने से आप long term goals के बारे में सोच पाते हैं । धैर्य रखकर जब आप सोचते हैं तो सही निर्णय ले पाते हैं जो आने वाले समय में आपकी मदद करेगा । किसी संस्था में काम करते वक्त भी कई बार परिस्तिथियाँ आपके अनुकूल नहीं होती हैं और यही वो समय होता है जब आपके धैर्य की परख की जाती है । यह बार बार अभ्यास करने से मुमकिन है ।

6. खुद को समझें

जब बात आती है किसी भी बिजनेस को analyse करने का तो हमारे दिमाग में SWOT Analysis सबसे पहले आता है । SWOT Analysis मतलब Strengths, Weaknesses, Opportunities, और Threats analysis । लेकिन इस एनालिसिस को आप खुद पर भी आजमा सकते हैं । आप खुद का स्वॉट एनालिसिस करें और देखें कि आपकी ताकत और कमजोरियां क्या हैं ?

खुद को समझने से आप बेहतर self management कर पाएंगे । जब तक आप खुद के बारे में समझेंगे नहीं तब तक आप खुद को नियंत्रण में नहीं रख सकते, खुद को समय भी नहीं दे सकते हैं । आपकी जो ताकत है, आप उसके हिसाब से अपने फैसले ले सकते हैं तो वहीं अपनी कमजोरियों को ध्यान में रखकर उन areas में improve कर सकते हैं ।

Self Management Skills Course Free

आप अगर Self Management Skills Course Free में करना चाहते हैं तो Coursera की मदद से कर सकते हैं । Coursera Self Management Skills पर क्लिक करके आप निम्नलिखित विषयों पर कोर्स कर सकते हैं:

  • Emotional Intelligence
  • Leadership
  • The Science of Wellbeing
  • Foundation of Positive Psychology
  • Foundations of mindfulness

ये सभी कोर्सेज बिल्कुल मुफ्त हैं लेकिन अंग्रेजी भाषा में हैं । अगर आप सेल्फ मैनेजमेंट स्किल्स कोर्स करना चाहते हैं तो आपको इंग्लिश भाषा का basic knowledge होना चाहिए । अगर आप यूट्यूब की मदद से इस कोर्स को मुफ्त में और हिंदी में करना चाहते हैं तो ScoreShala पर क्लिक करके कर सकते हैं । अगर आप अपनी पूरी personality को बदलना चाहते हैं तो नीचे दिए आर्टिकल को पढ़ें ।

Conclusion

Self Management Skills Meaning in Hindi के इस आर्टिकल में आपने जाना कि आत्म-प्रबंधन या स्व प्रबंधन क्या है, आत्म-प्रबंधन कौशल की तकनीकों का वर्णन करें, इसके फायदे इत्यादि । अगर आपके मन में इस विषय से संबंधित अन्य प्रश्न हैं तो उन्हें नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं ।

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा, नीचे कमेंट करके जरूर बताएं । आर्टिकल helpful लगा हो तो नीचे दिए गए social media sharing buttons से इसे शेयर जरूर करें ।

Ank Maurya - Owner of Listrovert.com

I have always had a passion for writing and hence I ventured into blogging. In addition to writing, I enjoy reading and watching movies. I am inactive on social media so if you like the content then share it as much as possible .

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.