YouTube setting कैसे करें ? Best YouTube Channel Setting To Grow

क्या आप जानते हैं कि YouTube Setting को सही ढंग से कस्टमाइज करके आप अपने यूट्यूब चैनल को तेजी से Grow कर सकते हैं ? जी हां, अगर आप अपने चैनल को ग्रो करना चाहते हैं तो आपको सही ढंग से यूट्यूब सेटिंग करनी चाहिए । अगर आपको इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है तो इस आर्टिकल में आपको पूरी मदद की जायेगी ।

मैं आपको विस्तारपूर्वक बताऊंगा कि YouTube Setting कैसे करें ? आपको बस आर्टिकल में बताए गए सभी steps & tips को फॉलो करना होगा । तो चलिए शुरू से शुरुआत करते हैं ।

1. YouTube Advanced Settings पर जाएं

आर्टिकल में मैं जितने भी important YouTube settings की बात करूंगा वे सभी आपको Advanced Section में ही मिलेंगे । ऐसे में जरूरी है कि आप सबसे पहले अपने यूट्यूब चैनल के advanced setting पर जाएं । यहां जाने के लिए आपको कुछ steps follow करने होंगे:

  • सबसे पहले YouTube Creator Studio पर जाएं ।
  • यहां आपको bottom left corner में सेटिंग्स का icon बना दिखाई देगा ।
  • इसपर क्लिक करें और आप Advanced Settings section पर पहुंच जायेंगे ।

अब मैं आपको नीचे settings की पूरी जानकारी देने जा रहा हूं जिसे आपको सही ढंग से follow करना चाहिए । तो चलिए जानते हैं कि आप क्या क्या advanced YouTube setting कर सकते हैं ।

2. Change default units

जैसे ही Point 1 में बताए गए steps को follow करते हुए advanced YouTube setting पर पहुंचेंगे, सबसे पहले आपको default units का ही विकल्प दिखाई देगा । यह General Option के अंतर्गत आपको दिखाई देगा जिसमें आप Currency को बदल सकते हैं । डिफॉल्ट के रूप में यह Dollar सेट होता है लेकिन, आप इसे INR भी सेट कर सकते हैं ।

जब आप Dollar से INR में करेंसी को बदलेंगे तो आपके Creator Studio और AdSense Account में CPC, RPM इत्यादि भी INR में ही दिखाई देगा । अगर आप default छोड़ देते हैं तो आपको सब कुछ dollar में दिखाई देगा । ध्यान दें कि यह सिर्फ analytics के लिए ही है, payout के समय भारत में डॉलर में ही pay किया जाता है और आपके अकाउंट में currency exchange आपके देश के हिसाब से ही होगा ।

3. Channel Settings

General के नीचे आपको Channel का विकल्प मिलेगा । इसके अंतर्गत आपके पास 3 YouTube setting options available होंगे:

  • Basic Info
  • Advanced Setting
  • Feature Eligibility

1. Basic info

सबसे पहले स्थान पर आता है Basic Info । इसमें आपको सबसे पहले विकल्प Country of Residence का मिलेगा यानि कि आप किस देश के निवासी हैं । इसे आप भारत ( India ) सेट जरूर करें । आपको पता होना चाहिए कि दुनिया के कुछ ही देश हैं जहां के नागरिक YouTube Content Monetisation का फायदा उठा सकते हैं । भारत उनमें से एक है, इस विकल्प से आपको India चुनना है ।

Country of Residence के बाद Keywords का विकल्प आता है । कीवर्ड्स के विकल्प के अंतर्गत आपको उन keywords को भरना है जो आपके चैनल से मेल खाते हों । उदाहरण के तौर पर मान लीजिए कि आप Health Topic के ऊपर अपने चैनल पर विडियोज publish करते हैं । ऐसे में आप health, healthylife, Yoga, healthyfoodie जैसे कीवर्ड डाल सकते हैं । आपको बस कीवर्ड लिखने के बाद comma लगाना है ।

2. Advanced Setting

Channels विकल्प के अंदर ही Advanced YouTube Settings का विकल्प भी आता है । इसके अंतर्गत सबसे पहले नंबर पर आता है Do you want to set your channel as Made for Kids ? इसका अर्थ यह होता है कि क्या आप अपने चैनल को Made for Kids के लिए सेट करना चाहते हैं । ऐसा तभी करें जब आप बच्चों ( 13 साल या उससे कम की उम्र ) के लिए विडियोज बना रहे हों । Made for Kids Guidelines को आप पढ़ सकते हैं । अ

गर आपका वीडियो general audience के लिए है तो आपको No चुनकर आगे बढ़ना है । दूसरे स्थान पर है Display the number of people subscribed to my channel । अगर आप चाहते हैं कि आपके viewers आपके चैनल के subscriber count को देख सकें तो उसे आपको Tick करना चाहिए । अन्यथा आपको untick करना चाहिए । यह आपका निर्णय है कि आप अपने चैनल के सब्सक्राइबर्स दूसरों को show करना चाहते हैं या नहीं ।

3. Feature Eligibility

Feature Eligibility YouTube Setting की मदद से आप अपने चैनल को feature rich बना सकते हैं । अगर आप चाहते हैं कि YouTube Content Creator के सभी फायदों का लुफ्त उठा सकें तो आपको इस YouTube Setting पर ध्यान देना होगा ।

1. Standard Features: Standard Features के अंतर्गत Video uploads, Playlist creation, Add collaborators to playlists, Add new videos to existing playlists आते हैं । इन सभी features का लुफ्त उठाने के लिए आपका चैनल active Community Guidelines strikes से मुक्त होना चाहिए । आपके चैनल पर कोई भी active strike नहीं होनी चाहिए ।

2. Intermediate Features: Standard Features का लुफ्त अगर आप उठाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपके चैनल पर स्टैंडर्ड फीचर्स enabled होने चाहिए । इसके अलावा, आपको अपना Phone Number भी वेरिफाई करना होगा । वेरिफाई फोन नंबर पर अगर आप क्लिक करते हैं तो आपके नंबर पर यूट्यूब Code भेजेगा जिसे enter करके आप चैनल वेरिफाई कर सकते हैं । यह बहुत जरूरी है ।

3. Advanced Features: अगर आप monetisation के लिए eligible होना चाहते हैं तो आपको अपने चैनल को वेरिफाई करना होगा । Verification के लिए 3 तरीके हैं, पहला है video verification । वीडियो वेरिफिकेशन के लिए आपको खुद की एक वीडियो बनानी होगी और YouTube को भेजनी होगी । दूसरा तरीका है Valid id का जिसके तहत आपको driving license या passport proof भेजना होगा ।

अंत में तीसरा तरीका है channel history का जिसके अंतर्गत आपको बस अपने वीडियो बनाते रहना है और यूट्यूब खूब से आपको वेरिफाई कर देगा । आप तीनों में से कोई एक तरीका चुनकर खुद को verify कर सकते हैं और advanced features का फायदा ले सकते हैं । यह एक Important YouTube setting है ।

4. Upload Defaults

अगली YouTube Channel Setting है upload defaults का । इसमें आपको Basic info को छोड़ देना है और सीधे Advanced Settings पर आना है । इसके बाद आप सबसे पहले Allow automatic chapters को Tick कर दें । License विकल्प के अंतर्गत आपको दो विकल्प मिलते हैं:

  • Standard YouTube Licence
  • Creative Commons – Attribution

अगर आप चाहते हैं कि आपका वीडियो कोई अन्य व्यक्ति बिना permission इस्तेमाल न कर सके तो आपको Standard YouTube Licence चुनना चाहिए । अगर आप चाहते हैं कि अन्य Channels आपके वीडियो को इस्तेमाल कर सकें बिना किसी copyright claim या strike के तो आपको Creative Commons – Attribution चुनना चाहिए । इसके बाद Category से वह कैटेगरी चुनें, जिससे related आपके विडियोज हैं ।

नीचे आने पर आपको एक विकल्प Show how many viewers like this video का दिखाई देगा । अगर आप चाहते हैं कि आपकी audience यह न जान पाए कि आपके विडियोज पर कितने likes आए तो इसे untick कर दें अन्यथा इसे tick ही रखें । हालांकि, YouTube ने अपने नए यूट्यूब अपडेट में Dislike count को viewers को डिस्प्ले करना बंद कर चुका है ।

5. Permissions

YouTube Setting में अगले स्थान पर Permissions सेक्शन आता है । इस फीचर का इस्तेमाल करके आप अन्य contributors या owners को अपने चैनल के साथ जोड़ सकते हैं । कई ऐसे यूट्यूब चैनल हैं जिनपर पूरी टीम मिलकर काम करती है । ऐसे में, आप किसी अन्य को भी अपने channel का access दे सकते हैं ।

इसके लिए आपको बस Invite पर क्लिक करना है । इसके बाद पहले box में उस व्यक्ति का email address डालें और दूसरे बॉक्स में आपको यह तय करना है कि आप उसे कौनसा role देना चाहेंगे । आपके पास Manager, Editor, Editor ( Limited ), Viewer, Viewer ( limited ) का विकल्प है । इसके बाद उस व्यक्ति के पास YouTube की तरफ से एक confirmation mail जायेगा ।

6. Community

अगली YouTube Channel Setting है Community की । Community यानि comments या आपके और आपके audience के बीच इंटरेक्शन । इस सेक्शन में आपको सबसे पहले Block links का ऑप्शन tick कर देना चाहिए । कई ऐसे लोग हैं जो आपके comment section को link spam कर सकते हैं । हालांकि, आप पर यह लागू नहीं होगा और आप आसानी से कॉमेंट में link डाल सकते हैं ।

इसके अलावा, आप blocked words में ऐसे शब्द डाल सकते हैं जो abusive या offensive हो । इससे वैसे comments अपने आप flag कर दिए जायेंगे । आप अपने कॉमेंट सेक्शन को जितना साफ सुथरा रखें, उतना बेहतर है । आप comment moderation के लिए अन्य लोगों को भी अधिकार दे सकते हैं ।

Conclusion on YouTube Setting in Hindi

अगर आप चाहते हैं कि आपका YouTube Channel Grow हो तो ऊपर सुझाए गए सभी settings आपके लिए काफी महत्वपूर्ण हैं । कुछ settings के बारे में मैंने आर्टिकल में इसलिए बात नहीं की है क्योंकि वे मुझे ज्यादा महत्वपूर्ण नहीं लगे ।

हालांकि, अगर आपके मन में कोई भी प्रश्न इस विषय से संबंधित है तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं । अगर आपको यह आर्टिकल हेल्पफुल लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.