Teaching Aids in Hindi – शिक्षण सहायक सामग्री क्या है ?

Teaching-Learning की प्रक्रिया कई मायनों में जटिल होती है । प्राचीन समय में शिक्षण की प्रक्रिया आज के मुकाबले कहीं ज्यादा सरल थी । शुरुआती दौर में सिर्फ अक्षरों के सहारे छात्रों को ज्ञान प्रदान किया जाता था । लेकिन समय के साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में भी काफी बदलाव हुआ और लगातार हो रहा है । आज शिक्षण कार्य के लिए कई अलग अलग सामग्रियों की मदद ली जाती है जिसे हम Teaching Aids कहते हैं ।

जब हम बात करते हैं Teaching aids की तो इसके अंतर्गत वे सामग्रियां आती हैं जो शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया को सरल बनाते हैं । जैसे ब्लैकबोर्ड, पैरिओडिक टेबल, मॉडल, चार्ट पेपर, रेडियो, टेप रिकॉर्डर आदि । इस लेख में हम इसी विषय पर विस्तार से आपको जानकारी देंगे और बताएंगे कि:

  • शिक्षण सहायक सामग्री क्या है ?
  • टीचिंग एड्स के उदाहरण
  • शिक्षण सहायक सामग्री के फायदे
  • टीचिंग एड्स के प्रकार
  • टीचिंग एड्स का वर्तमान और भविष्य

What are Teaching Aids in Hindi

Teaching Aids को हिंदी में शिक्षण सहायक सामग्री कहा जाता है जिनका मुख्य उद्देश्य शिक्षण-अधिगम की प्रक्रिया को आसान बनाना है । शिक्षा के क्षेत्र में किताबें, ब्लैकबोर्ड, कलम जैसे सामग्रियां प्राचीन समय से ही उपयोग में लाई जा रही हैं लेकिन वर्तमान में पोस्टर, आरेख, मानचित्र, प्रोजेक्टर आदि का भी भरपूर उपयोग शिक्षण कार्यों में हो रहा है ।

वर्तमान समय में टेक्नोलॉजी ने पूरी तरह से शिक्षा के क्षेत्र पर अपना आधिपत्य स्थापित कर लिया है । आप घर बैठे कोई कोर्स आसानी से कर सकते हैं, एक शिक्षक के तौर पर छात्रों को पढ़ा सकते हैं, ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले सकते हैं । लेकिन ये सभी कार्य संभव हुए हैं टेक्नोलॉजी आधारित टीचिंग एड्स की मदद से । इसे Teaching Learning Materials भी कहते हैं ।

Definition of Teaching Aids

दुनियाभर के कई विद्वान जो शिक्षण क्षेत्र में कार्यरत हैं, ने Teaching Aids Definition दी है । आइए एक नजर डालते हैं शिक्षण सहायक सामग्री की परिभाषा पर:

1. एक वस्तु (जैसे एक किताब, चित्र, या नक्शा) या उपकरण (जैसे एक डीवीडी या कंप्यूटर) एक शिक्षक द्वारा कक्षा निर्देश को बढ़ाने या जीवंत करने के लिए उपयोग किया जाता है । इन्हें शिक्षण सहायक सामग्री कहते हैं ।

2. एक शिक्षण सहायता एक उपकरण है जिसका उपयोग शिक्षकों, सुविधाकर्ताओं या ट्यूटर्स द्वारा शिक्षार्थियों को पढ़ाने और अन्य कौशल में सुधार करने, एक कौशल, तथ्य या विचार को चित्रित या सुदृढ़ करने और चिंता, भय या ऊब को दूर करने में मदद करने के लिए किया जाता है क्योंकि कई शिक्षण सहायक खेल की तरह हैं ।

3. कक्षा निर्देश के पूरक या छात्रों की रुचि को प्रोत्साहित करने के लिए शिक्षक द्वारा उपयोग की जाने वाली सामग्री ही शिक्षण सहायक सामग्री है ।

Examples of Teaching Aids

शिक्षा के क्षेत्र में आपको कई Examples of Teaching Aids देखने को मिलते हैं । इसकी पूरी सूची नीचे दी गई है जिसे आप पढ़ सकते हैं:

  • किताबें
  • तस्वीरें
  • मानचित्र
  • DVD
  • कंप्यूटर
  • 3डी मॉडल
  • डिजिटल स्क्रीन
  • प्रोजेक्टर
  • यूट्यूब, फेसबुक, इंस्टाग्राम
  • पौधे/जानवर/चट्टान के नमूने
  • फोरम डिस्कशन
  • टेलीस्कोप
  • माइक्रोस्कोप

ऊपर दी गई सारी सामग्रियां शिक्षण कार्य में काफी मददगार साबित होती हैं । वर्तमान समय में इनके बिना शिक्षण कार्य संभव नहीं है । इनकी मदद से न सिर्फ छात्र जल्दी सीखते हैं बल्कि उनकी सीखने की प्रक्रिया भी काफी रोचक बनती है । इन्हें Teaching Learning Materials भी कहा जाता है ।

Types of Teaching Aids in Hindi

बात करें अगर Types of Teaching Aids की तो ये कुल मिलाकर 3 प्रकार के होते हैं । चलिए संक्षेप में इन सभी प्रकारों के बारे में समझते हैं:

1. Visual Aids (चाक्षुष सहायक सामग्री)

सबसे पहले स्थान पर वे शिक्षण सहायक सामग्री आती हैं जिन्हें आप अपनी आंखों से देख सकते हैं और सिख सकते हैं । देखकर सीखने के काम आने वाली सामग्रियों को हम Visual Aids के अंतर्गत रख सकते हैं । आपने अक्सर देखा होगा की शिक्षक कक्षाओं में अक्सर ग्लोब, चार्ट, मानचित्र, पिरामिड आदि लेकर आते हैं ताकि वे आप देखकर प्रभावी ढंग से सिख सकें ।

विजुअल एड्स के प्रमुख उदाहरण इस प्रकार हैं:

  • चार्ट
  • डायग्राम
  • ग्राफ
  • शिक्षण वस्तुएं

2. Audio Aids

छात्रों के listening skills और communication को बेहतर बनाने के लिए Audio Aids की मदद ली जाती है । वर्तमान समय में स्कूलों में श्रवण कौशल आधारित प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाती हैं जहां सबसे पहले रिकॉर्डिंग सुनाई जाती है और फिर छात्रों से रिकॉर्डिंग आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं ।

न सिर्फ सिखाने बल्कि छात्रों को बेहतर महसूस कराने के लिए भी Audio Aids की मदद ली जाती है जैसे गाना बजाना । गाना बजाकर छात्रों को रिलैक्स महसूस करवाया जाता है ताकि वे सीखने की प्रक्रिया में सहज महसूस कर सकें । अगर आप लिसनिंग स्किल्स पर ज्यादा जानकारी चाहते हैं तो नीचे दिया लेख पढ़ें:

3. Visual Audio Aids

नाम से ही आप समझ गए होंगे कि Visual Audio Aids में ध्वनि और दृश्य दोनों माध्यमों को एक साथ लाया जाता है और छात्रों को शिक्षा प्रदान की जाती है । उदाहरण के तौर पर आपकी बायोलॉजी शिक्षिका ने वीडियो के माध्यम से समझाया होगा कि पाचन क्रिया क्या है या प्रकाश संश्लेषण क्या होता है आदि । इन वीडियो में आप न सिर्फ पूरी प्रक्रिया को देखते हैं बल्कि सुनते भी हैं ।

इस तरह आपके दिमाग पर ज्यादा प्रभाव पड़ता है और सीखने की प्रक्रिया भी आसान व रोचक बनती है । आज के समय में Visual-Audio Aids का इस्तेमाल स्कूलों में ज्यादातर हो रहा है ।

Advantages of Teaching Aids

Teaching Aids के कई फायदे हैं और इसका सबसे बड़ा फायदा है कि इसकी मदद से शिक्षण प्रक्रिया सरल और रोचक बनती है । कक्षाओं में टेक्नोलॉजी आधारित शिक्षण सामग्रियों की मदद से शिक्षक ज्यादा बेहतर ढंग से छात्रों को पढ़ा सीखा पाते हैं । शिक्षण सहायक सामग्री के निम्नलिखित लाभ आप पढ़ सकते हैं ।

  • शिक्षण सहायक सामग्री की मदद से, छात्र सटीकता के साथ और उससे भी तेज़ी से सीख सकते हैं
  • शिक्षण सहायक सामग्री विषय को रोचक बनाती है और छात्रों को इसे गहराई से सीखने के लिए प्रोत्साहित करती है ।
  • यह छात्रों की वैचारिक सोच को बढ़ाता है ।
  • बहुत से छात्रों में आसानी से भूलने की प्रवृत्ति होती है । ऐसे छात्रों को शिक्षण सहायक सामग्री से लाभ मिल सकता है ।
  • शिक्षण सहायक सामग्री हर तरह से अपडेटेड होती है ।
  • यह समय और ऊर्जा बचाता है ।
  • शिक्षण सहायक सामग्री अमूर्त विचारों को ठोस बनाती है और इस प्रकार सीखने को अधिक प्रभावी बनाने में मदद करती है ।
  • शिक्षण सहायक सामग्री छात्रों की वैचारिक सोच को बढ़ाती है ।
  • यह साबित हो गया है कि दृश्य प्रतिनिधित्व के साथ सीखना पाठ्य प्रतिनिधित्व की तुलना में अधिक समय तक स्मृति में रहता है । यह प्रत्यक्ष अनुभव के साथ बेहतर प्रभाव डालता है ।

Characteristics of Good Teaching Aids

बात करें अगर Characteristics of Good Teaching Aids यानि अच्छे शिक्षण सहायक सामग्री के लक्षण की तो ये निम्नलिखित हैं:

  • ये हमेशा सार्थक होनी चाहिए और शिक्षण में मददगार होनी चाहिए
  • ये पारंपरिक शिक्षण पद्धति से ज्यादा प्रभावी होनी चाहिए
  • इनका सरल होना आवश्यक है ताकि शिक्षण कार्य संभव हो सके
  • समय के साथ इनमें बदलाव की क्षमता भी होनी चाहिए
  • इनका छात्रों के मानसिक स्तर का होना बहुत जरूरी
  • इनका अपडेटेड होना बहुत जरूरी है

इस तरह आप समझ गए होंगे कि अच्छे Teaching Aids के क्या लक्षण हैं । सबसे महत्वपूर्ण है कि ये प्रभावी होने चाहिए, इनके उपयोग से लगने वो मेहनत और समय की बचत हो और साथ ही ये सरल व गतिशील हों ।

FAQs

अब हम Teaching Aids से संबंधित Frequently Asked Questions का उत्तर देंगे । इंटरनेट पर शिक्षण सहायक सामग्री संबंधित कई प्रश्न पूछे गए हैं जिनमें से कुछ सबसे कॉमन प्रश्नों का उत्तर हम आपको नीचे दे रहे हैं:

Q1. शिक्षण सहायक सामग्री क्या होती है ?

शिक्षक सहायक सामग्री कुल 3 प्रकार की होती है । ये प्रकार हैं:
1. Audio Aids
2. Visual Aids
3. Audio-visual Aids

Q2. शिक्षण सहायक सामग्री क्या क्या है ?

शिक्षण सहायक सामग्री में किताबें, तस्वीरें, मानचित्र, डीवीडी, ग्राफ, चार्ट पेपर, प्रोजेक्टर, डिजिटल स्क्रीन, 3डी और 2डी मॉडल आदि सम्मिलित हैं ।

Q3. Teaching Learning Materials कैसे बनाएं ?

TLM यानि Teaching Learning Materials बनाते समय निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:
1. छात्रों की आवश्यकता पर ध्यान दें ।
2. शिक्षण अधिगम सामग्री को छात्रों के लिए आसान बनाएं ।
3. अपनी सामग्रियों को ज्यादा से ज्यादा रोचक बनाने पर ध्यान दें ।
4. लाभान्वितों को अपने शिक्षण अधिगम सामग्रियों के बारे में पूरी जानकारी दें ।
5. Feedback लेना न भूलें ।

Q4. शिक्षण सहायक सामग्री का महत्व क्या है ?

शिक्षण सहायक सामग्री के महत्व इस प्रकार हैं:
1. इसकी मदद से शिक्षण प्रक्रिया ज्यादा सरल बनती है ।
2. यह छात्रों पर गहरा प्रभाव डालता है और उन्हें जिज्ञासु बनाता है ।
3. टीचिंग एड्स काफी रोचक होते हैं इसलिए छात्र पूरे मन से सीखने पर ध्यान देते हैं ।
4. शिक्षण कार्य में कम खर्च और समय लगता है ।

Q5. Teaching Aids का अर्थ क्या है ?

Teaching Aids को हिंदी में शिक्षण सहायक सामग्री कहा जाता है जिनका मुख्य उद्देश्य शिक्षण-अधिगम की प्रक्रिया को आसान बनाना है । इसके अंतर्गत किताबें, मानचित्र, चार्ट, ग्राफ, डिजिटल स्क्रीन, प्रोजेक्टर आदि आते हैं ।

Conclusion

टेक्नोलॉजी का शिक्षा के क्षेत्र में विस्तार की वजह से शिक्षण प्रक्रिया काफी आसान और रोचक हुई है । धीरे धीरे बाजार में नए नए शिक्षण सहायक सामग्रियां आती जा रही हैं । Teaching Aids meaning in Hindi के इस आर्टिकल में आपने विस्तार से इस विषय के बारे में जानकारी प्राप्त की है ।

अगर आपके मन में इस विषय से संबंधित अन्य प्रश्न हैं तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं । इसके साथ ही अगर आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें ।

पसंद आया ? शेयर करें 🙂

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.