What is B2B Sales in Hindi – बी2बी बिक्री की संपूर्ण जानकारी

अगर आप B2B Sales के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें । किसी भी व्यवसाय की शुरुआत करने से पहले यह तय करना जरूरी होता है कि व्यवसाय के ग्राहक कौन होंगे या कंपनी किन्हें अपना उत्पाद या सेवा बेचेगी । अक्सर आपने गौर किया होगा कि आपकी लोकेलिटी में कई ऐसी दुकानें होंगी जो सिर्फ ग्राहकों को सामान बेचती हैं ।

लेकिन कई ऐसी दुकानें भी होंगी जो सिर्फ अन्य दुकानों को या व्यवसायों को ही अपना सामान बेचती हैं । यानि Wholesalers सिर्फ और सिर्फ retailers को अपना ग्राहक बनाते हैं और सीधे तौर पर ग्राहकों/उपभोक्ताओं को कोई भी प्रोडक्ट नहीं बेचते । इसी प्रकार की बिक्री को बी2बी बिक्री कहा जाता है जिसके बारे में हम विस्तार से समझेंगे ।

What is B2B Sales in Hindi

बी2बी सेल्स की पूरी जानकारी

B2B Sales जिसे Business To Business Sales भी कहा जाता है व्यवसाय का एक प्रकार है । इस प्रकार के व्यवसाय/बिक्री में दो व्यवसायों के बीच सीधे लेनदेन होता है । कोई एक कंपनी किसी अन्य कंपनी को अपने उत्पाद या सेवाएं बेचती है । बी2बी सेल्स में आमतौर पर उन्हीं उत्पादों को बेचा जाता है जिसे एक उपभोक्ता सीधे तौर पर इस्तेमाल नहीं कर सकता है ।

उदाहरण की बात करें स्टील, प्लास्टिक, कच्छा माल, लोहा, social media management, search engine optimisation, content writing जैसी कई चीजें हैं जिन्हें एक कंपनी या ब्रांड दूसरी कंपनी या ब्रांड को बेचती है । इसके बाद दूसरी कंपनी उन कच्चे माल से कोई उत्पाद बनाकर अंतिम ग्राहकों या उपभोक्ताओं को बेच देती है । मुझे उम्मीद है कि आप B2B sales examples की मदद से समझ गए होंगे ।

Types of sales in Hindi

इस लेख में हमारा मुख्य फोकस Business to business (B2B) sales पर ही होगा लेकिन आपके लिए अन्य प्रकार के सेल्स की जानकारी प्राप्त करना भी महत्वपूर्ण है । तो चलिए जानते हैं कि बिक्री के कितने प्रकार होते हैं:

1. B2C (Business To Consumer)

देश दुनिया में ज्यादातर कंपनियां B2C यानि Business To Consumer आधारित ही बिक्री या व्यवसाय कर रही हैं । भारत में ही अगर आप देखें तो Myntra, Paytm, Flipkart, Bookmyshow, OYO Rooms जैसी न जाने कितनी ही बिजनेस तो कंज्यूमर कंपनियां हैं । ये व्यवसाय सीधे तौर पर उपभोक्ताओं से जुड़ते हैं और उन्हें अपनी सेवाएं या उत्पाद बेचते हैं ।

अर्थात् B2C व्यवसाय का एक प्रकार है जिसमें किसी एक कम्पनी या व्यवसाय और अंतिम ग्राहक या उपभोक्ता (consumer) के बीच लेनदेन होता है । ऐसी कंपनियां जो सीधे तौर पर अपने उत्पाद या सेवाएं उपभोक्ताओं को बेचती हैं, वे Business To Consumer कम्पनी कहलाती हैं । उदाहरण के तौर पर आप Paytm को ले सकते हैं, जिससे आप एक उपभोक्ता के तौर पर सीधे जुड़कर सेवाएं प्राप्त करते हैं ।

2. C2B (Consumer to Business)

C2B (Consumer to Business) एक ईकॉमर्स बिजनेस है जिसमें ग्राहक और किसी कंपनी या बिजनेस के बीच लेन देन होता है । यानि एक ग्राहक प्रत्यक्ष/अप्रत्यक्ष रूप से किसी कंपनी को फायदा पहुंचाता है । इस बिजनस मॉडल में उपभोक्ता व्यवसाय को मूल्य प्रदान करते हैं । उदाहरण के तौर पर आप AdSense को ले सकते हैं ।

आप इस लेख में कई advertisements देख पा रहे होंगे जिन्हें display और manage करने की जिम्मेदारी AdSense की ही होती है जो गूगल की ही एक कंपनी है । Listrovert एक ऑनलाइन पब्लिशिंग वेबसाइट है जिसपर एडसेंस ads दिखाता है । उन एड्स को दिखाने पर एडसेंस को revenue प्राप्त होता है जिसे निश्चित अनुपात में लिस्ट्रोवर्ट और एडसेंस बांट लेते हैं ।

यानि Listrovert जोकि एक तरह से उपभोक्ता है, किसी कंपनी को प्रत्यक्ष रूप से फायदा पहुंचा रहा है । इसी को हम C2B Sales/Business कहते हैं । Shutterstock, यूट्यूब पर मौजूद product review channels आदि सी2बी बिजनेस की ही श्रेणी में आते हैं ।

3. C2C (Consumer To Consumer)

C2C (Consumer To Consumer) में एक ग्राहक किसी अन्य ग्राहक से लेनदेन करता है । यह लेनदेन किसी सेवा या उत्पाद का हो सकता है । इस प्रकार के लेनदेन अक्सर ऑनलाइन ही किया जाता है । उदाहरण के तौर पर आप OLX को ले सकते हैं जहां एक ग्राहक अपने second hand products को लिस्ट करता है और दूसरा ग्राहक उसे खरीद लेता है ।

इस प्रकार के बिजनेस में दोनों का फायदा ही होता है और एक उपभोक्ता के पास ढेर सारे विकल्प भी मौजूद होते हैं जिसकी वजह से वह कम लागत में ही उत्पाद/सेवा खरीद पाता है । Quikr, eBay, Coutloot जैसी कंपनियां सी2सी का बेहतरीन उदाहरण हैं । कई मायनों में C2C sales और B2B sales एक जैसे हैं ।

B2B vs B2C in Hindi

हालांकि आप ऊपर दिए गए explanation की मदद से B2B vs B2C Business के बारे में समझ गए होंगे । लेकिन इन दोनों के बीच अंतर सिर्फ इतना ही नहीं है कि एक बिजनेस से बिजनेस का लेनदेन होता है तो दूसरा बिजनेस से कंज्यूमर का । इन दोनों के बीच मुख्य अंतर इस प्रकार हैं:

B2BB2C
एक व्यवसाय मॉडल जो अन्य व्यवसाय को उत्पादों या सेवाओं को बेचकर संचालित होता हैएक व्यवसाय मॉडल जो सीधे तौर पर उपभोक्ताओं को उत्पाद और सेवा बेचकर संचालित होता है
ग्राहकों की कम संख्या परंतु बड़ी संख्या (मौद्रिक) में लेनदेनबड़ी संख्या में ग्राहक लेकिन कम संख्या(मौद्रिक) में लेनदेन
Lead Generation पर ध्यान ज्यादा दिया जाता हैBrand Building पर ध्यान ज्यादा दिया जाता है
खरीददारी की प्रक्रिया में किसी प्रकार की भावना जुड़ी नहीं होती हैखरीददारी ज्यादातर भावनात्मक रूप से प्रेरित होती है
खरीददारी की प्रक्रिया काफी धीमी होती है क्योंकि सही रिसर्च और निर्णय लेने में समय लगता हैखरीददारी की प्रक्रिया काफी तेज होती है क्योंकि रिसर्च या निर्णय लेने में समय नहीं लगता है
व्यवसायों के बीच विश्वास और सीधा संबंध होना जरूरीविश्वास और सीधा संबंध की आवश्यकता नहीं पड़ती है

इस तरह आप समझ गए होंगे कि Business To Business और Business To Consumer के बीच क्या अंतर है और ये दोनों प्रकार की बिक्री कैसे मार्केट में काम करती हैं ।

B2B Companies Examples in Hindi

भारत सहित पूरे विश्व में कई B2B Sales आधारित कंपनियां हैं जो ऑपरेट कर रही हैं । हम आपको कुल Top 5 B2B Company Examples देंगे ताकि आप इसके बारे में अच्छे से समझ सकें ।

1. ALIBABA GROUP HOLDING

बी2बी सेल्स आधारित कंपनियों की जब बात आती है तो सबसे पहले स्थान पर ALIBABA GROUP HOLDING कंपनी का नाम आता है । ये सिर्फ और सिर्फ wholesale में ही प्रोडक्ट्स को बेचते हैं और इनसे सामान्य रूप से छोटे बड़े बिजनेस सामान खरीदते हैं ।

जब हमने आपको Dropshipping क्या है आर्टिकल की जानकारी दी थी, तब बताया था कि ड्रॉपशिपिंग क्या है और इसमें ALIBABA आपकी कैसे मदद कर सकता है । आप कंपनी की official website को विजिट कर सकते हैं ।

2. INDIAMART

INDIAMART एक भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी है जो अपने वेब पोर्टल के माध्यम से B2B सेवाएं प्रदान करती है । अलीबाबा के बाद इंडिया मार्ट दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी wholesale marketplace है । कंपनी की शुरुआत वर्ष 1996 में हुई थी जिसके बाद से कंपनी ने सफलता के नए आयामों को छुआ ।

वर्तमान समय में कम्पनी के पास 1.6 million daily customer base है । यहां buyers और suppliers एक दूसरे के साथ कनेक्ट होते हैं और थोक में समान खरीदे जाते हैं । आप कंपनी की official website को visit कर सकते हैं ।

3. Classplus

आपने हाल फिलहाल यूट्यूब या किसी ब्लॉग पर Classplus के बारे में अवश्य सुना होगा । क्लासप्लस एक coaching institute management software है जिसे ऑनलाइन संचालित करने के लिए कोचिंग संस्थानों के लिए डिज़ाइन किया गया है ।

Classplus को आप B2B sales का बढ़िया उदाहरण कह सकते हैं क्योंकि यह पढ़ाई करने वाले छात्रों को नहीं बल्कि पढ़ाने वाले शिक्षकों या tutors को टारगेट करता है । इसकी मदद से शिक्षक बच्चों को online आसानी से पढ़ा सकते हैं और उन्हें अलग से digital board लेने की आवश्यकता भी नहीं पड़ती है ।

4. Udaan

Udaan एक B2B trade platform है जो निर्माताओं, व्यापारियों, खुदरा विक्रेताओं और थोक विक्रेताओं को एक ही मंच में लाने का कार्य करता है । खासकर कि प्लेटफॉर्म पर छोटे छोटे व्यापारी खुदरा और थोक विक्रेताओं को सामान बेचते हैं । इसके अलावा manufacturing companies भी सीधे तौर पर अन्य कंपनियों को समान मुहैया कराती हैं ।

कंपनी की शुरुआत वर्ष 2016 में की गई थी । lifestyle, electronics, FMCG, pharma, home और kitchen, staples, fruits और vegetables, toys आदि कैटेगरीज में कम्पनी ऑपरेट करती है । इसकी official website को आप विजिट कर सकते हैं ।

5. Google

अगली B2B sales आधारित कंपनी का नाम Google है । गूगल के कई ऐसे products & services हैं जिन्हें वह सीधे तौर पर व्यवसायों को offer करते हैं । जैसे Google workspace, Google My Business, Google Analytics आदि कई ऐसे सेवाएं हैं जिन्हें कंपनियां इस्तेमाल करती हैं ।

हालांकि गूगल को सिर्फ बी2बी सेल्स कंपनी कहना गलत होगा । यह एक बी2सी कंपनी भी है क्योंकि इसके search engine का इस्तेमाल कोई भी कर सकता है, जरूरी नहीं कि वे व्यवसाय ही हों ।

Process of B2B sales in Hindi

बी2बी सेल्स की प्रक्रिया के लिए वर्तमान समय में online platforms की जरूरत पड़ती है । उदाहरण के तौर पर आप INDIAMART को ही ले लें । INDIAMART एक online platform प्रोवाइड करता है जहां कई छोटे बड़े बिजनेस खुद को register करते हैं । नाम कंपनी का ही होता है लेकिन कोई एक व्यक्ति जो कंपनी में बड़े पद पर होता है, कंपनी की ओर से खरीददारी संबंधित निर्णय लेता है ।

कोई manufacturing company बड़े मात्रा में raw materials का इस्तेमाल करके बेहद ही सस्ते दामों में उत्पाद बनाती है । इसके बाद कंपनी सीधे तौर पर उपभोक्ताओं को अपने प्रोडक्ट्स न बेचकर wholesalers, retailers, organization या resellers को उचित दाम में बेच देती है ।

इसके बाद ग्राहक कम्पनी उन उत्पादों के बदले में पहले से निर्धारित मूल्य बेचने वाली कम्पनी को उसी डिजिटल प्लेटफॉर्म की मदद से भेजती है । B2B sales की इस प्रक्रिया में कई बार terms & conditions, supply, shipping आदि चीजें भी आती हैं ।

Benefits of B2B Sales in Hindi

B2B sales के कई फायदे होते हैं जिनके बारे में हम संक्षेप में समझेंगे ।

[su_list icon=”icon: cart-plus” icon_color=”#51c63a” indent=”-1″]

  • Business To Business Sales में कम्पनी आसानी से अपने व्यवसाय को बढ़ा सकती है क्योंकि यह digitally होता है ।
  • ज्यादा से ज्यादा B2B customers को टारगेट करने में काफी आसानी होती है ।
  • Brand awareness बढ़ता है और ब्रांड को प्रमोट करने में आसानी होती है ।
  • ज्यादा से ज्यादा बी2बी ग्राहकों तक पहुंच बनाने की वजह से बिक्री बढ़ती है ।
  • customer service experience हमेशा बेहतर होता है ।
  • कम समय में ज्यादा काम होता है जिसकी वजह से कम लागत लगती है ।
  • वर्तमान समय में बी2बी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म खोलना काफी आसान हो गया है ।
[/su_list]

Disadvantages of B2B sales in Hindi

B2B Sales के जहां कई फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं जिन्हें ध्यान में रखकर ही इस क्षेत्र में कदम रखना चाहिए । वे नुकसान इस प्रकार हैं:

[su_list icon=”icon: cart-arrow-down” icon_color=”#51c63a” indent=”-1″]

  • Business To Business Sales में सबसे बड़ी दिक्कत आती है limited market को लेकर । इसके उलट बी2सी में बहुत बड़ा मार्केट होता है ।
  • बी2सी बिक्री के उलट इसमें खरीददारी की प्रक्रिया काफी जटिल होती है और काफी समय का नुकसान होता है ।
  • इसमें buyers के पास sellers से ज्यादा शक्तियां होती हैं जिसकी वजह से क्रय विक्रय की प्रक्रिया लंबी चलती है ।
  • बी2बी सेल्स प्रक्रिया काफी जटिल होने की वजह से कई बार ज्यादा लागत लगानी पड़ती है ।
  • limited market size की वजह से काफी कंपटीशन है ।
[/su_list]

1. बी2बी सेल्स क्या होता है ?

बी2बी सेल्स जिसे Business To Business Sales भी कहा जाता है व्यवसाय का एक प्रकार है । इस प्रकार के व्यवसाय/बिक्री में दो व्यवसायों के बीच सीधे लेनदेन होता है । स्टील, प्लास्टिक, कच्छा माल, लोहा आदि इसके उदाहरण हैं ।

2. B2B और B2C बिक्री से क्या अभिप्राय है ?

जहां B2B बिक्री में एक कंपनी या व्यवसाय दूसरे कम्पनी या व्यवसाय से सीधे लेनदेन करती है तो वहीं B2C बिक्री में एक कंपनी सीधे उपभोक्ताओं को अपने उत्पाद या सेवाएं बेचती है ।

3. B2B बेचने की प्रक्रिया क्या है ?

B2B बेचने की प्रक्रिया में किसी online platform पर निर्माताओं, व्यापारियों, खुदरा विक्रेताओं और थोक विक्रेताओं को एक ही मंच में लाने का कार्य किया जाता है । इसके बाद वे अपनी अपनी जरूरतों के हिसाब से एक दूसरे से उत्पाद या सेवाएं खरीदने का कार्य करते है ।

4. बी2बी सेल्स के उदाहरण बताइए ?

बी2बी सेल्स के कुछ मुख्य उदाहरणों में IndiaMART, Classplus, Google, Udaan और ALIBABA शामिल हैं ।

Conclusion

What is B2B Sales in Hindi के इस लेख में हमने आपको बी2बी सेल्स से जुड़ी हर जरूरी जानकारी देने की कोशिश की है । इसके फायदे, नुकसान, उदाहरण, प्रक्रिया जैसे कई बिंदुओं पर विस्तारपूर्वक आपको जानकारी दे दी गई है । B2B full form से लेकर इससे जुड़े frequently asked questions को भी लेख में कवर किया गया है ।

अगर आपके मन में इस विषय से संबंधित अन्य प्रश्न हैं तो उन्हें आप नीचे दिए कॉमेंट सेक्शन में जरूर पूछें । आर्टिकल में दी गई जानकारी पसंद आई हो तो इसे शेयर करना न भूलें । हम रोज आपके लिए ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारियां पब्लिश करते रहते हैं, इसलिए आप हमें bookmark भी कर सकते हैं और हमारे push notification को सब्सक्राइब भी कर सकते हैं ।

Leave a comment